झारखंड के राज्‍यपाल ने सोहराई व कोह्वर चित्रकला पर विशेष लिफाफा किया जारी

Jharkhand News Hindi News झारखंड के राज्‍यपाल रमेश बैस ने शुक्रवार को एक विशेष लिफाफा जारी किया। यह लिफाफा सोहराई व कोह्वर चित्रकला पर आधारित है। इधर राज्‍यपाल ने विश्‍वकर्मा पूजा और करम पर्व की शुभकामनाएं राज्‍य की जनता को दी हैं।

Sujeet Kumar SumanSat, 18 Sep 2021 06:42 AM (IST)
Jharkhand News, Hindi News झारखंड के राज्‍यपाल रमेश बैस ने शुक्रवार को एक विशेष लिफाफा जारी किया।

रांची, राज्‍य ब्‍यूरो। झारखंड के राज्यपाल रमेश बैस ने शुक्रवार को रांची स्थित राजभवन में डाक विभाग द्वारा सोहराई एवं कोह्वर चित्रकला पर जारी एक विशेष लिफाफा का लोकार्पण किया। इस अवसर पर राज्यपाल के अपर मुख्य सचिव शैलेश कुमार सिंह, मुख्य डाक महाध्यक्ष, झारखण्ड जलेश्वर कहंर, डाक महाध्यक्ष झारखण्ड संजीव रंजन, निदेशक, डाक सेवाएँ, झारखंड सत्यकाम आदि उपस्थित थे।

सोहराय व कोह्वर कला झारखंड की दो मुख्‍य लोककला है। यह दोनों चित्रकला मानव सभ्‍यता के विकास को दर्शाता है। इन दोनों चित्रकला में नैसर्गिक रंगों का उपयोग किया जाता है। यह कला हजारीबाग और चतरा में मुख्‍य रूप से ज्‍यादा प्रचलित है।

इससे पूर्व राज्यपाल रमेश बैस ने सभी को विश्वकर्मा पूजा की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा है कि देव शिल्पी भगवान विश्वकर्मा सबका कल्याण करें तथा आप सबके जीवन में सुख-समृद्धि लाएं। राज्यपाल रमेश बैस ने प्रकृति पर्व 'करम पूजा' की सभी को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने कहा है कि भाई-बहन के अटूट स्नेह का प्रतीक यह पर्व हमें प्रकृति के संरक्षण एवं पर्यावरण संतुलन बनाए रखने का संदेश देता है। कहा कि हमारी मंगलकामना है कि सभी स्वस्थ, सुखी एवं समृद्ध रहें।

राज्‍यपाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जन्‍मदिन की शुभकामनाएं भी दी हैं। कहा कि पीएम को जन्मदिन की अनेकानेक शुभकामनाएं। ईश्वर से प्रार्थना है कि आप निरन्तर देश की सेवा करते रहें। आपकी गौरवमयी कार्यशैली व व्यक्तित्व पूरे विश्व के युवाओं के लिए प्रेरणास्रोत हैं। प्रभु आपको उत्तम स्वास्थ्य एवं दीर्घायु प्रदान करें।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.