अकुशल मजदूरों को रोजगार दे रही सरकार : मंत्री

बेड़वारी स्थित नवनिर्मित आइटीआइ में शुक्रवार को रोजगार प्रशिक्षण योजना का शुभारंभ मंत्री सत्यानंद भोगता ने किया।

JagranPublish:Sat, 27 Nov 2021 06:00 AM (IST) Updated:Sat, 27 Nov 2021 06:00 AM (IST)
अकुशल मजदूरों को रोजगार दे रही सरकार : मंत्री
अकुशल मजदूरों को रोजगार दे रही सरकार : मंत्री

संसू, अनगड़ा : बेड़वारी स्थित नवनिर्मित आइटीआइ में शुक्रवार को रोजगार प्रशिक्षण योजना का शुभारंभ किया गया। इसका शुभारंभ झारखंड के श्रम नियोजन व कौशल विकास मंत्री सत्यानंद भोगता ने किया। विशिष्ट अतिथि अनगड़ा के पूर्व प्रमुख राजेंद्र शाही मुंडा व समाजसेवी पारसनाथ भोगता थे। संचालन राची जिला श्रम अधीक्षक सह कौशल विकास पदाधिकारी अविनाश कृष्ण ने किया। मौके पर मंत्री सत्यानंद भोगता ने कहा कि झारखंड सरकार अकुशल श्रमिकों को प्रशिक्षित कर विभिन्न प्रकार के रोजगार में समायोजित करने का काम कर रही है। श्रमिकों के विकास को लेकर विभाग कई योजनाएं चला रहा है। इसका श्रमिक भाई लाभ उठाएं। झारखंड में श्रमिक व उसके आश्रित बेरोजगार नहीं रहे ऐसा प्रयास सरकार कर रही है। इसके लिए सभी श्रमिकों को अपना-अपना निबंधन कराना होगा। मौके पर एकमे के संचालक आनंद माथुर, पंसस जलनाथ चौधरी, आजसू प्रखंड अध्यक्ष जगरनाथ महतो, भाजपा नेता अजय कुमार महतो, समाजसेवी ज्योतिष महतो, विष्णु महतो सहित अन्य उपस्थित थे।

-------

श्रमिकों को दिया जा रहा इलेक्ट्रिकल व सिलाई-कढ़ाई प्रशिक्षण

पहली बार राची जिले में पायलट प्रोजेक्ट के तहत रोजगार प्रशिक्षण योजना के तहत श्रमिकों को इलेक्ट्रिकल व सिलाई-कढ़ाई का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण एकमे एजुकेशन सोल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड की ओर से दिया जा रहा है। एकमे के संचालक आनंद माथुर ने बताया कि कुल 800 श्रमिकों व उसके आश्रितों को छह माह का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण के उपरात इन मजदूरों को रोजगार से जोड़ा जाएगा। प्रशिक्षण के दौरान इन श्रमिकों को सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम मानदेय भी दिया जाएगा। ये श्रमिक भवन सह निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा निबंधित है। योजना की मॉनिटरिंग श्रम अधीक्षक राची अविनाश कृष्ण करेंगे।

------

दिसंबर माह के दूसरे सप्ताह में होगा आइटीआइ भवन का उद्घाटन

श्रम मंत्री सत्यानंद भोगता ने बताया किए नवनिर्मित आइटीआइ भवन का उद्घाटन दिसंबर के दूसरे सप्ताह में किया जाएगा। उद्घाटन के मौके पर वृहद स्तर पर कार्यक्रम किया जाएगा। इसमें विभागीय सचिव सहित जनप्रतिनिधि शामिल होंगे। फिलहाल आज नवनिर्मित भवन में रोजगार प्रशिक्षण योजना का शुभारंभ किया गया है। आइटीआइ निर्माण की आधारशिला 16 दिसंबर 2017 को राची के पूर्व सासद रामटहल चौधरी व खिजरी के पूर्व विधायक रामकुमार पाहन ने रखी थी। 4.10 करोड़ रुपये की लागत से इसका निर्माण कराया गया था। आइटीआइ भवन को बनाने में खिजरी के पूर्व विधायक रामकुमार पाहन की उल्लेखनीय भूमिका रही थी।