Jharkhand Crime: बाल सुधार गृह से छूटकर ससुराल गई, मायके वालों ने लगा दी घर में आग

Jharkhand Crime बाल सुधार गृह से ससुराल आई नवविवाहिता को आग लगाकर मारने की कोशिश की गई है। ऐसा दुस्साहस उसके मायके वालों ने ही किया है। यह आरोप नवविवाहिता की ननद ने लगाया है। इस बाबत उसने थाना में लिखित आवेदन दिया है।

Kanchan SinghFri, 03 Dec 2021 06:03 PM (IST)
महिला ने पेट्रोल छिड़कर घर में आग लगाने का आरोप लगाया है।

प्रतापपुर (चतरा), संसू । बाल सुधार गृह से ससुराल आई नवविवाहिता को आग लगाकर मारने की कोशिश की गई है। ऐसा दुस्साहस उसके मायके वालों ने ही किया है। यह आरोप नवविवाहिता की ननद ने लगाया है। इस बाबत उसने थाना में लिखित आवेदन दिया है। मामला थाना क्षेत्र के मुरादडीह गांव का है। गांव निवासी अबुल हसन की पत्नी सबिया परवीन ने थाना में दिए आवेदन में कहा है कि घोरीघाट गांव निवासी शाहजाद आलम, माज आलम, नसीम आलम, गोल्डेन आलम तथा अमन आलम पेट्रोल छिड़कर घर में आग लगाने तथा साबिया और उसकी नई नवेली भाभी को जान से मारने की नियत से आए थे।

सबिया ने आगे कहा है कि उसका भाई इस्तियाक अहमद ने घोरीघाट की लड़की के साथ 16 जनवरी 2021 प्रेम विवाह किया है। उस समय लड़की नाबालिग थी। परिणामस्वरूप उसके भाइयों ने इस्तियाक पर अपहरण व नाबालिग को घर से भगाने का मुकदमा कर दिया था। बाद में पुलिस ने प्रेमी युवक को गिरफ्तार कर लिया। लड़की को नाबालिग होने की स्थिति में बाल सुधार गृह तथा युवक को जेल भेज दिया। लड़की नवंबर में बालिग हो गई। इसके आधार पर एक दिसंबर को बाल सुधार गृह से मुक्त कर दिया गया। वह अपने सुसराल आई और वहीं रह रही थी। दूसरे दिन लड़की के भाइयों ने ससुराल वाले घर में आग लगा दी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.