झारखंड में कोरोना टीकाकरण में जेंडर गैप, गुमला-सिमडेगा में वैक्सीन लेने में महिलाएं आगे

FREE Coronavirus Vaccination Update Jharkhand News झारखंड के 22 जिलों में कोरोना टीकाकरण में जेंडर गैप है। यहां महिलाओं से अधिक पुरुष आगे हैं। बोकारो रामगढ़ देवघर धनबाद सरायकेला रांची गढ़वा जमशेदपुर में अधिक अंतर है। विशेषज्ञों के अनुसार इतनी बड़ी संख्या में महिलाओं का टीकाकरण कराना अच्छा संकेत है।

Sujeet Kumar SumanMon, 21 Jun 2021 07:44 PM (IST)
FREE Coronavirus Vaccination Update, Jharkhand News झारखंड के 22 जिलों में कोरोना टीकाकरण में जेंडर गैप है।

रांची, [नीरज अम्बष्ठ]। झारखंड के दो जिले गुमला और सिमडेगा की महिलाओं ने अन्य जिलों की महिलाओं के लिए उदाहरण प्रस्त़ुत किया है। राज्य के अधिसंख्य जिलों में जहां कोरोना का टीका लेने में महिलाओं से पुरुष आगे हैं, वहीं इन दोनों जिलों में टीकाकरण कराने में पुरुषों से आगे महिलाएं हैं। गुमला और सिमडेगा में अबतक जितने लोगों को पहली डोज का टीका लगा है, उनमें पुरुषों की तुलना में महिलाओं का प्रतिशत अधिक है।

देश के अन्य राज्यों की तरह झारखंड में भी टीकाकरण में जेंडर गैप है। पहली डोज लेनेवाले कुल लोगों की बात करें तो कुल टीकाकरण करानेवालों में लगभग 55 प्रतिशत पुरुष हैं, जबकि 45 प्रतिशत महिलाएं हैं। कमोबेश यही अंतर पूरे देश में भी है। झारखंड की बात करें तो भले ही अधिसंख्य जिलों में टीकाकरण में यह जेंडर गैप है, लेकिन गुमला और सिमडेगा में इसकी उलट स्थिति है। गुमला में पहली डोज का टीका लेनेवाले कुल लोगों में आधे से अधिक 51.85 प्रतिशत महिलाएं हैं, जबकि पुरुषों की भागीदारी 48.15 प्रतिशत ही है।

इसी तरह, सिमडेगा में पहली डोज लेनेवाले कुल लोगों में 50.45 प्रतिशत महिलाएं हैं। इस जिले में पहली डोज का टीकाकरण करानेवाले कुल लोगों में पुरुषाें की हिस्सेदारी 48.15 प्रतिशत है। राज्य में बोकारो, रामगढ़, देवघर, धनबाद, सरायकेला, रांची, गढ़वा, तथा पूर्वी सिंहभूम ऐसे जिले हैं, जहां जेंडर गैप अधिक है। वहां पहली डोज के टीकाकरण में पुरुषों की भागीदारी महिलाओं से काफी अधिक है। दुमका और पाकुड़ में पहली डोज लेनेवाले लोगों में पुरुषों और महिलाओं की भागीदारी लगभग समान है।

जानकारों का मानना है कि टीकाकरण में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की बाध्यता के कारण भी महिलाएं इसमें पीछे हो सकती हैं, क्योंकि ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं के पास मोबाइल की उपलब्धता कम होती है। इसके बावजूद इतनी बड़ी संख्या में महिलाओं का टीकाकरण कराना अच्छा संकेत माना जा सकता है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य अभियान, झारखंड के राज्य नोडल पदाधिकारी सिद्धार्थ त्रिपाठी के अनुसार, ग्रामीण क्षेत्रों में भी अब टीका को लेकर झिझक कम हो रही और महिलाएं टीकाकरण कराने के लिए आगे आ रही हैं।

इन जिलों में पहली डोज लेने में महिलाएं आगे

जिला - टीका लेनेवाले पुरुष - भागीदारी प्रतिशत- टीका लेनेवाली महिला - भागीदारी प्रतिशत

गुमला 79,511 48.15 85,617 51.85

सिमडेगा 55,297 49.55 56,295 50.45

इन दो जिलों में लगभग बराबर पर हैं महिलाएं

दुमका 98,160 50.80 94,993 49.20

पाकुड़ 61,347 50.40 60,307 49.60

इन जिलों में राज्य औसत से कम अंतर

पलामू 1,60,302 54.80 1,32,180 45.20

जामताड़ा 64,035 54.70 53,022 45.30

हजारीबाग 1,50,523 54.65 1,24,947 45.35

साहिबगंज 65,388 53.85 56,056 46.15

गोड्डा 1,03,015 53.80 88.376 46.20

गिरिडीह 1,44,081 53.70 1,24,132 46.30

लोहरदगा 47,533 53.35 41,589 46.65

खूंटी 51,176 52.70 45,787 47.30

पश्चिमी सिंहभूम 1,07,897 52.35 98,158 47.65

कोडरमा 71,875 51.95 66,506 48.05

इन जिलों में पहली डोज के टीकाकरण में अधिक जेंडर गैप

जिला - टीका लेनेवाले पुरुष - भागीदारी प्रतिशत- टीका लेनेवाली महिला - भागीदारी प्रतिशत

बोकारो 1,54,474 58.00 1,10,747 42.00

रामगढ़ 86,920 57.80 63.409 42.20

देवघर 1,21,491 57.30 90,537 42.70

लातेहार 57,298 56.85 43,469 43.15

धनबाद 1,99,979 56.80 1,52,191 43.20

सरायकेला 87664 56.70 66,873 43.30

गढ़वा 96,716 56.60 74,250 43.40

रांची 2,68,688 55.70 2,13,649 44.30

पूर्वी सिंहभूम 2,62,027 55.50 2,09,758 44.50

चतरा 67,104 55.00 54,770 45.00

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.