फेरों से पहले दुल्‍हन ने दूल्‍हे की उतारी इज्‍जत, ऐन टाइम पर मारी पलटी, शादी से इन्कार...

Garhwa News, Garhwa Samachar: दुल्‍हन ने फेरों से पहले ही दूल्‍हे की इज्‍जत उतार दी। शादी से इन्‍कार कर दिया।

Garhwa News Garhwa Samachar झारखंड के गढ़वा जिले में दुल्‍हन ने फेरों से पहले ही दूल्‍हे की इज्‍जत उतार दी। घर में मंगल फेरों की तैयारियों के बीच उसने पलटी मार दी और शादी से इन्‍कार कर दिया। दुल्‍हन के इस फैसले के बाद गांव में पंचायती बैठ गई।

Alok ShahiMon, 10 May 2021 06:36 AM (IST)

गढ़वा, जेएनएन। Garhwa News, Garhwa Samachar झारखंड के गढ़वा जिले के सगमा गांव में एक ऐसी घटना सामने आई है जिसने लोगों को हैरान कर दिया है। दरअसल शिक्षित लड़की के भाई ने अनपढ़ लड़का से शादी तय कर बड़े धूमधाम से 5 मई को तिलक समारोह कार्यक्रम सम्पन्न कराया। आठ मई को बरात जाने वाली थी। इस बीच लड़की को पता चला कि लड़का अनपढ़ है तो लड़की ने शादी करने से इनकार कर दिया। लड़की के पिता नहीं रहने के कारण लड़की की सगे भाई ने शादी तय की थी।

जानकारी अनुसार सगमा निवासी विनोद प्रजापति के पुत्र अरविंद प्रजापति की शादी डंडई थाना क्षेत्र के लवाही गांव में स्व. नन्हकू प्रजापति की पुत्री गुड्डी कुमारी के साथ गत फरवरी महीने में तय हुई थी। गत 5 मई को दूल्हा का धूमधाम से तिलक समारोह कार्यक्रम हुआ। 8 मई को अरविंद की शादी की बारात डंडई जाने वाली थी। मगर बारात जाने से पूर्व ही दुल्हन के स्वजनों ने दूल्हा से शादी करने से इनकार कर दिया। जबकि दूल्हा के साथ बारात निकलने की सारी तैयारी पूरी कर ली गई थी।

बताया जाता है कि बारात जाने से पूर्व दुल्हन पक्ष के परिजन दूल्हा पक्ष के घर पर पहुंच कर शादी करने से मना करते हुए दहेज में दिए हुए सामान वापस लौटाने को कहा। जिस पर दूल्हा पक्ष के अनुरोध पर गांव के गणमान्य लोगों एवं पंचायत प्रधान की उपस्थिति में पंचायती हुई, लेकिन बात नहीं बनी। दुल्हन के घर वालों का कहना था कि जब बेटी ही शादी करने से इनकार कर रही है तो ऐसे में हम लोग क्या कर सकते हैं। इधर शनिवार को वर पक्ष के यहां बारातियों को बारात जाने के लिए रिजर्व किये गये बाराती वाहन, बैंड बाजा द्वार पर पहुंच चुका था। लेकिन बारात नहीं निकलने के कारण सभी वापस लौट गए।

इंटर पास लड़की की अनपढ़ लड़का से हो रही थी शादी

दूल्हे के पिता विनोद प्रजापति ने बताया कि मेरा बेटा अनपढ़ है। जबकि लड़की इंटर पास थी। इसकी जानकारी लड़की के स्वजनों को थी। लड़की के स्वजन के मर्जी से शादी तय कर शादी की सारी रस्म पूरी कर बारात जाने की तैयारी थी। इसी बीच लड़की के स्वजनों ने शादी करने से इनकार कर दिया ।उन्होंने बताया कि गांव के गणमान्य लोग एवं पंचायत प्रधान की मौजूदगी में दोनों पक्षों के बीच शनिवार की रात लगभग पांच घंटे तक बात चली। मगर बात नहीं बनी। लड़कीद्वारा कहा जा रहा है कि वह शादी वहां नहीं करेगी। उधर विनोद प्रजापति के घर से बारात नहीं जाने से मायूसी छाई हुई है।

गढ़वा के मेराल में नवविवाहिता को जबरन जहर खिलाने का आरोप

मेराल थाना क्षेत्र के करकोमा गांव निवासी राकेश तिवारी की पुत्री कविता तिवारी द्वारा ससुराल वालों द्वारा दहेज के लिए मारपीट करने तथा जबरन जहर खिलाने का असफल प्रयास का आरोप लगाते हुए शनिवार की शाम गढ़वा महिला थाना में प्राथमिकी दर्ज करने के लिए आवेदन दिया गया है। कविता द्वारा थाना में दिए गए आवेदन के अनुसार विगत 11 दिसंबर 2020 को उसकी शादी गढ़वा थाना क्षेत्र के तिवारी मरहटिया, निवासी स्वर्गीय सुमेर तिवारी के पुत्र आदर्श तिवारी के साथ हुई थी।

शादी के कुछ दिन बाद पति आदर्श तिवारी एवं उसके परिवार वालों द्वारा दहेज में पिताजी से पांच लाख रुपए नगद तथा कार मांगने का दबाव बनाया जा रहा था। कविता के अनुसार ससुराल वालों का कहना था कि तुम्हारे पिताजी के पास काफी धन संपत्ति है तुम उन पर दबाव बनाओ पैसा तथा कार निश्चित मिल जाएगा। कविता तिवारी ऐसा करने से लगातार इनकार करती रही। उसका कहना था कि मेरे घर वाले अपने सामर्थ्य के अनुसार शादी के समय हीं उपहार स्वरूप काफी कुछ दे चुके हैं। मेरे लाख समझाने के बाद भी ससुराल वालों द्वारा लगातार प्रताड़ना जारी रहा।

विगत माह घर में शादी के दौरान में अपने मायके गई थी। सात मई को पति आदर्श तिवारी मुझे विदाई करा कर ससुराल लाए तथा उसी दिन से दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे। आठ मई के शाम खाना बनाकर मैं परिवार वालों को खाना खिला रही थी इसी क्रम में भसुर प्रभाकर तिवारी, सास सविता कुंवर, ननद नेहा पाठक तथा नंदोई अभिनव पाठक मेरे पति आदर्श तिवारी को उकसाते हुए, कहा कि इसे को प्रताड़ित करो तो मजबूर होकर इसका बाप दहेज देगा।

इसके बाद भसुर प्रभाकर तिवारी ने मुझे पकड़ा और पति आदर्श तिवारी मारपीट करते हुए जबरन मेरे मुंह में जहर डालने लगे। किसी प्रकार में प्रतिरोध करते हुए मैं अपने मायके वालों को मोबाइल से इसकी सूचना दी। सास द्वारा मेरा मोबाइल भी जबरदस्ती लूट लिया गया। सूचना मिलते ही मायके के लोग वहां पहुंच मेरी जान बचाई। उक्त मामले में कविता तिवारी ने गढ़वा महिला थाना में प्राथमिकी के लिए आवेदन देकर पति आदर्श तिवारी भसुर प्रभाकर तिवारी सास सविता कुंवर ननद नेहा पाठक तथा नंदोई अभिनव पाठक को आरोपी बनाई है। आवेदन के आलोक में पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.