Son Kanhar Mega Lift Irrigation Project: जिले के 46700 हेक्टेयर भूमि को मिलेगा पानी: महाप्रबंधक

Son Kanhar Mega Lift Irrigation Project नाबार्ड(Nabard) के मुख्य महाप्रबंधक डा जी के नायर उप महाप्रबंधक सुमन सौरभ साहू ने सोन कनहर मेगा लिफ्ट सिंचाई परियोजना(Son Kanhar Mega Lift Irrigation Project) का जायजा लिया। उन्होंने सिंचाई विभाग(Irrigation Department) के लोगों को इस परियोजनाओं को समय पूरा करने का निर्देश दिया।

Sanjay KumarFri, 03 Dec 2021 01:06 PM (IST)
Son Kanhar Mega Lift Irrigation Project: जिले के 46700 हेक्टेयर भूमि को मिलेगा पानी: महाप्रबंधक

गढ़वा जासं। Son Kanhar Mega Lift Irrigation Project : नाबार्ड(Nabard) के मुख्य महाप्रबंधक डा जी के नायर, नाबार्ड के उप महाप्रबंधक सुमन सौरभ साहू ने सोन कनहर मेगा लिफ्ट सिंचाई परियोजना(Son Kanhar Mega Lift Irrigation Project) का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने सिंचाई विभाग(Irrigation Department) के लोगों को इस परियोजनाओं को समय पूरा करने का निर्देश दिया। गुरुवार को नाबार्ड के मुख्य प्रबंधक डॉक्टर जी के नायक ने अनराज डैम का निरीक्षण किया, अनराज डैम के निरीक्षण के पश्चात उन्होंने भंवरी में बन रहे इंटेक वेल का भी जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान सोन – कनहर मेगा लिफ्ट सिचाई परियोजना मे हुई प्रगति का जायजा लिया।

परियोजना के अंतर्गत कुल 396.40 करोड़ रुपए किए जा चुके हैं निर्गत:

निरीक्षण के पश्चात उन्होंने कहा कि जिले मे यह परियोजना नाबार्ड ने पिछले वित्तीय वर्ष मे स्वीकृत की गई थी। इस परियोजना की कुल लागत 1169.28 करोड़ रुपए है। जिसमे नाबार्ड ने कुल 1057.58 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता राज्य सरकार ने की है। इस परियोजना के अंतर्गत नाबार्ड द्वरा कुल 396.40 करोड़ रुपए अभी तक निर्गत किए जा चुके हैं।

योजना की अद्यतन स्थिति से करवाया गया अवगत:

मुख्य महाप्रबंधक ने कनहर नदी तथा सोन नदी के किनारे बनने वाले पम्प हाउस तथा इंटक जहां बनने हैं उक्त स्थल का भी निरीक्षण किया तथा निर्माण कार्य के दौरान विभिन्न जगहों पर हो रहे पाइप लाइन के कार्य की भी समीक्षा की। उन्होंने जल संसाधन विभाग तथा एलटी के वरीय पदाधिकारियों को मुख्य महा प्रबन्धक को योजना की अद्यतन स्थिति से अवगत करवाया गया।

नाबार्ड के समेकित जल प्रबंधन योजना का भी किया निरीक्षण:

उन्होने बताया की इस योजना के पूरा होने से गढ़वा जिले में 46700 हेक्टेयर जमीन को सिचाई की सुविधा मिलेगी। यह परियोजना राज्य सरकार की एक महत्वपूर्ण परियोजना है तथा गढ़वा जिले के लिए अतिमहत्वपूर्ण है। उन्होने विभाग को इस परियोजना को ससमय पूर्ण करने के लिए सभी आवश्यक कार्य करने को कहा। उन्होने आश्वस्त किया की इस परियोजना को पूर्ण करने के लिए नाबार्ड ससमय वित्तीय सहायता उपलब्ध कारवाई जाएगी। उन्होने इस वर्ष और 500 करोड़ रुपए के कार्य करने का लक्ष्य विभाग को दिया। अपने दौरे के दौरान डॉ नायर रंका प्रखंड में नाबार्ड के समेकित जल प्रबंधन योजना का भी निरीक्षण किया तथा परियोजना क्षेत्र के पाँच गाव के लाभूकों से भी बात की।

महिला स्वयं सहायता समूह की 90 महिलाएं नाबार्ड से जुड़कर उन्हें दी गई ट्रेनिंग:

नाबार्ड की टीम ने सेनेटरी नैपकिन बनाने ला काम चल रहा है। इस दौरान प्रोडक्शन यूनिट का भी जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने बताया कि जिले में महिला स्वयं सहायता समूह की 90 महिलाएं नाबार्ड से जुड़कर उन्हें ट्रेनिंग दी गई। प्रशिक्षण पाने वाले सभी 90 महिलाए पैड बना रही है तथा अन्य महिलाओं को भी पैड के इस्तेमाल के लिए जागरूक कर रही हैं।

ऑफपो( OFPO) के गठन के संभावनाओं पर किया गया विचार:

गढ़वा जिले मे बुनकरों के उत्थान के लक्ष्य के साथ वो श्री बंशीधर नगर प्रखंड के गाव मे 150 बुनकरों से मिले तथा उनकी समस्याओं को समझने का प्रयास किया और उनके विकास के लिए एक ऑफपो( OFPO) के गठन के संभावनाओं पर उनसे विचार किया। इस अवसर पर उप महा प्रबन्धक सुमन सौरभ साहू, डीडीएम नाबार्ड लक्ष्मण कुमार ने बताया की नाबार्ड अपनी विभिन्न योजनाओं के माध्यम से जिले के विकास के लिए काम करने का प्रयास कर रही है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.