G-23 के भूचाल पर बोले फुरकान अंसारी, राहुल गांधी को अंधेरे में रखते हैं उनके सलाहकार...

Latest Political Updates Jharkhand: पूर्व सांसद फुरकान अंसारी कहते है कि राहुल गांधी को उनके सलाहकार अंधेरे में रखते हैं।

Latest Political Updates Jharkhand जी-23 के नाम पर देशभर में उठे तूफान के बीच झारखंड में कांग्रेसी गांधी परिवार के खिलाफ बोलने काे तैयार नहीं हैं। फुरकान ने कहा कि कांग्रेस को मजबूत करने के नाम पर बैठक करने वाले इसे कमजोर कर रहे हैं। राहुल गांधी दूरदर्शी नेता हैं।

Alok ShahiSun, 28 Feb 2021 09:08 PM (IST)

रांची, राज्य ब्यूरो। Latest Political Updates Jharkhand झारखंड में कांग्रेस के नेता जम्मू-कश्मीर में जुटे कांग्रेसियों (G-23) से अलग राह अपनाए हुए हैं। पूर्व में संगठन और नेतृत्व का विरोध कर चुके नेता भी जी-23 नेताओं से अलग राय रखते हैं। हालांकि पूर्व सांसद फुरकान अंसारी (Furkan Ansari) का कहना है कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को उनके सलाहकार अंधेरे में रखते हैं। फुरकान अंसारी (Furkan Ansari)  का कहना है कि राहुल गांधी हमारे लीडर Rahul Gandhi Congress) है। जिन नेताओं ने अभी विरोध किया है, उसका समय ठीक नहीं है। उन्हें पार्टी फोरम पर बात रखनी चाहिए।

पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय (Subodh Kant Sahay) इस मामले में टिप्पणी करने से इन्कार करते हुए बोले- उन्हें कुछ नहीं कहना है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डा. रामेश्वर उरांव (Rameshwar Oraon) ने कहा कि कांग्रेस (Congress Party) का शीर्ष नेतृत्व (Congress High Command) देश की बागडोर संभालने में सक्षम है। हमलोग पूरी तरह से सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के साथ हैं। जो कांग्रेस G-23 in Congress) को मजबूत करने के नाम पर बैठक कर रहे हैं, उससे कांग्रेस और कमजोर होगी।

जामताड़ा के विधायक और प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष इरफान अंसारी (Irfan Ansari) ने कहा कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के नेतृत्व पर सवाल उठाना सरासर गलत है। वे हमारे नेता ही नहीं, बल्कि विजन वाले नेता हैं। दरिया में छलांग लगाने वाले नेता हैं। मोदी सरकार (Modi Government) का खात्मा राहुल गांधी ही करेंगे। राहुल गांधी (Rahul Gandhi Prime Minister Material) देश की बागडोर संभालेंगे। जो लोग विरोध कर रहे हैं उन्हें समझना चाहिए कि कई बार गांधी परिवार से अलग नेतृत्व खड़ा करने का प्रयास किया गया, लेकिन देश के लोगों का भरोसा उनके साथ है।

इस परिवार ने जनता के लिए त्याग किया है। प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस पूरी तरह एकजुट है। नेतृत्व पर सवाल उठाने वाले नेताओं को सोचना चाहिए कि संगठन का अच्छा और बुरा वक्त आता रहता है। इसमें किसी को विचलित होने की आवश्यकता नहीं है। जो लोग विरोध कर रहे हैं इन्हें कांग्रेस की सरकार में मंत्री का पद दिया गया था।

उन्‍होंने कहा कि इन्हें बताना चाहिए कि सत्ता में रहते हुए कांग्रेस को हार का सामना क्यों करना पड़ा? राहुल गांधी के साथ पूरा देश खड़ा है। विरोध करने वाले नेताओं को अपने भीतर झांकने की कोशिश करनी चाहिए। इन्हें कांग्रेस ने काफी कुछ दिया है और अब ये गांधी परिवार पर ऊंगली उठा रहे हैं। ऐसे लोगों की पोल खुल गई है। 

एक कार्यक्रम में व्यस्त हूं। मुझे इस विषय पर अभी कुछ नहीं बोलना है। आलमगीर आलम, ग्रामीण विकास मंत्री, झारखंड सरकार। राहुल गांधी की टिप्पणी पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दे सकता। वे हमारे सुप्रीमो हैं। हमेशा सोच-समझकर बयान देते हैं। केशव महतो कमलेश, कार्यकारी अध्यक्ष, कांग्रेस। राहुल गांधी हमारे माननीय नेता हैं। इस मामले में मुझे कुछ नहीं बोलना है। मानस सिन्हा, कार्यकारी अध्यक्ष, प्रदेश कांग्रेस।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.