रांची में मेडिको सिटी की कवायद तेज, अपर मुख्य सचिव ने किया स्थल का निरीक्षण

Jharkhand News रांची के इटकी में मेडिको सिटी विकसित करने की योजना को लेकर फिर से कवायद तेज हो गई है। इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह ने रविवार को इटकी आरोग्यशाला का निरीक्षण किया।

Vikram GiriMon, 21 Jun 2021 03:05 PM (IST)
रांची में मेडिको सिटी की कवायद तेज, अपर मुख्य सचिव ने किया स्थल का निरीक्षण। जागरण

इटकी (रांची), जासं। रांची के इटकी में मेडिको सिटी विकसित करने की योजना को लेकर फिर से कवायद तेज हो गई है। इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह ने रविवार को इटकी आरोग्यशाला का निरीक्षण किया। इस क्रम में उन्होंने मेडिको सिटी निर्माण के लिए चिह्नित भूमि का निरीक्षण किया तथा भूमि का ले-आउट प्लान योजनाबद्ध तरीके से प्रस्तुत करने के निर्देश संबंधित पदाधिकारियों को दिए।

इस मौके पर आरोग्यशाला भवन के सभा कक्ष में मेडिको सिटी के निर्माण के लिए परामर्शी ने पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन दिया। अपर मुख्य सचिव ने परामर्शी को अन्य राज्यों में विकसित मेडिको सिटी का अध्ययन कर कंप्रेहेंसिव रिपोर्ट देने को कहा, ताकि अधिक से अधिक निवेश को आकर्षित किया जा सके। इस क्रम में अपर मुख्य सचिव ने आरोग्यशाला में कोरोना की तीसरी लहर से निपटने को आक्सीजन आपूर्ति के लिए पाइपलाइन लगाने आदि के कार्यों का निरीक्षण किया। उन्होंने आरटी-पीसीआर लैब का भी निरीक्षण किया तथा जांच बढ़ाने के निर्देश दिए। इस क्रम में अपर मुख्य सचिव ने आरोग्यशाला में विगत पांच वर्षों से चल रहे निर्माण एवं मरम्मत के कार्यों का वर्षवार आवंटन एवं खर्च की विस्तृत ब्यौरा भी देने के निर्देश दिए। बता दें कि यहां नौ करोड़ की राशि से निर्माण कार्य किया जा रहा है।

16,677 संभावित मरीजों के इलाज को एसओपी तैयार करने के निर्देश

अपर मुख्य सचिव ने राज्य में 25 मई से पांच जून के बीच ग्रामीण क्षेत्रों में हुए स्वास्थ्य सर्वेक्षण में पाए गए 16,677 संभावित मरीजों के इलाज के लिए एक एसओपी (स्टैंडर्ड आपरेटिंग प्रोसिड्योर) तैयार करने के निर्देश आरोग्यशाला के अधीक्षक को दिए। साथ ही, आरोग्यशाला में चिकित्सकों एवं अन्य कर्मियों के स्वीकृत बल के अनुसार रिक्त पदों को भरने के भी निर्देश दिए। निरीक्षण में स्वास्थ्य विभाग संयुक्त सचिव दिलेश्वर महतो, भवन निर्माण विभाग के मख्य अभियंता संजय कुमार ङ्क्षसह आदि मौजूद थे।

350 एकड़ जमीन का सीमांकन करने का निर्देश

अपर मुख्य सचिव ने अंचल अधिकारी को 350 एकड़ जमीन का सीमांकन एवं उक्त भूमि का खतियान (1932) बिहार से मंगाकर रिकार्ड अद्यतन करने के निर्देश दिए।

सांस के रोगियों के इलाज को बनेगा सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल

इटकी यक्ष्मा आरोग्यशाला को टीबी सहित सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के रूप में विकसित किया जाएगा। यहां टीबी के अलावा सांस संबंधित सभी बीमारियों के इलाज की व्यवस्था होगी। आरोग्यशाला प्रशासन ने इसे लेकर एक प्रोजेक्ट प्रपोजल भी प्रस्तुत किया।

संतोषजनक जवाब नहीं देने पर सीओ पर जताई नाराजगी

निरीक्षण के दौरान आरोग्यशाला की भूमि से संबंधित पूछे गए एक सवाल का संतोषजनक जवाब नहीं दिए जाने पर अपर मुख्य सचिव ने सीओ रश्मि लकड़ा पर नाराजगी जाहिर की। वहीं, बीडीओ पंकज कुमार की अनुपस्थिति को लेकर स्पष्टीकरण पूछे जाने का आदेश दिया। हालांकि, सूचना मिलते ही बीडीओ स्वास्थ्य सचिव के समक्ष उपस्थित होकर आरोग्यशाला प्रशासन द्वारा सूचना नहीं दिए जाने की बात कहीं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.