Electricity Problem In Ranchi: न आंधी न तूफान, बिजली से लोग परेशान, जीरो कट बिजली का वादा अधूरा

Electricity Problem In Ranchi राजधानी में इन दिनों बिजली(Electricity) कटौती चल रही है। इस बीच न आंधी आ रही है और ना ही तूफान चल रहे हैं। बरसात भी नहीं हो रही है। इसके बाद भी बिजली कटौती होने से शहर के लोग हैरान हैं।

Sanjay KumarTue, 07 Dec 2021 08:56 AM (IST)
Electricity Problem In Ranchi: न आंधी न तूफान, बिजली से लोग परेशान, जीरो कट बिजली का वादा अधूरा

रांची(जासं)। Electricity Problem In Ranchi: राजधानी में इन दिनों बिजली(Electricity) कटौती चल रही है। इस बीच न आंधी आ रही है और ना ही तूफान चल रहे हैं। बरसात भी नहीं हो रही है। इसके बाद भी बिजली कटौती होने से शहर के लोग हैरान हैं। कोकर, बरियातू, लालपुर, बांधगाड़ी, गाड़ीगांव, हिंदपीढ़ी आदि इलाके में बिजली कटौती से लोग परेशान हैं। लोगों का कहना है कि दिन में बिजली कटौती तो होती ही है, शाम होते ही बिजली चली जाती है। कई छात्र शाम को ऑनलाइन ट्यूशन(Online Tuition) करते हैं। ऐसे मौके पर बिजली चले जाने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जिनके घरों में इनवर्टर(Inverters) है, तो ठीक है। जिन घरों में इनवर्टर नहीं है। वहां बिजली चले जाने से वाईफाई बंद हो जाता है और ऑनलाइन पढ़ाई का काम बाधित हो जाता है। छात्रों को इमरजेंसी लाइट(Emergency Light) जलानी पड़ती है।

राजधानी में 40 से 50 मेगावाट बिजली मिल रही है कम:

गौरतलब है कि रांची को सामान्य तौर से 270 मेगावाट बिजली चाहिए। लेकिन, अभी उतनी बिजली नहीं मिल रही है। हालांकि झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड के आला अधिकारी हमेशा यही कहते हैं कि रांची को फुल लोड बिजली मिल रही है। लेकिन महकमे से नीचे के अधिकारी बिजली गुल होने पर फोन करने वालों को बताते हैं कि ग्रिड से बिजली कटौती चल रही है। इसलिए बिजली नहीं आएगी। इससे साफ है कि राजधानी में भी बिजली कटौती हो रही है और राजधानी को कम बिजली मिल रही है। बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता ने बताया कि राजधानी में 40 से 50 मेगावाट बिजली कम मिल रही है। इस वजह से बिजली कटौती करनी पड़ रही है।

फाल्ट के चलते भी कट रही है बिजली :

फाल्ट के चलते भी बिजली कटौती होती है। किसी इलाके में फाल्ट होने पर बिजली विभाग के मिस्त्री उस इलाके में शटडाउन लेते हैं। इसके चलते भी आधे से एक घंटे तक बिजली कट जाती हैं। यही नहीं कई क्षेत्रों में बिजली की केबल, ट्रांसफार्मर आदि में खराबी आदि छोटे-मोटे फाल्ट के चलते भी एक से दो घंटे कटौती चल रही है। बिजली विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि विभाग के संसाधन काफी पुराने हैं। बिजली के तार जर्जर हो चुके हैं। यह संसाधन बिजली का लोड नहीं उठा पा रहे हैं। इसके चलते भी बिजली आपूर्ति में दिक्कत आ रही है।

जीरो कट बिजली का वादा अधूरा:

राजधानी को जीरो कट बिजली का वादा अभी भी अधूरा है। कहा जा रहा था कि राजधानी में अब बिजली की कटौती नहीं होगी। मगर, ऐसा नहीं हो पा रहा है। झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड अब तक निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित नहीं कर पाया है।

ग्रामीण इलाकों में सात से आठ घंटे तक की कटौती:

राजधानी के आसपास के ग्रामीण इलाकों पिठौरिया, खटंगा, नामकुम आदि इलाके में सात से आठ घंटे की कटौती चल रही है। ग्रामीण इलाके के लोग बिजली आपूर्ति की कमी से परेशान हैं। लोगों का कहना है कि रात को बिजली कटौती होने से छात्र पढ़ाई नहीं कर पा रहे हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.