दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

जकात के पैसे से बांटें चिकित्सीय उपकरण, ईदी के तौर पर करें कोरोना संक्रमितों की मदद

जकात के पैसे से बांटें चिकित्सीय उपकरण, ईदी के तौर पर करें कोरोना संक्रमितों की मदद

राजधानी में कोरोना के कहर से लड़ने के लिए लोग जकात की रकम का इस्तेमाल करने की अपील की गई है।

JagranThu, 13 May 2021 08:41 AM (IST)

जागरण संवाददाता, रांची : राजधानी में कोरोना के कहर से लड़ने के लिए लोग जकात की रकम का इस्तेमाल कर रहे हैं। जकात की रकम इकट्ठा कर कोरोना पीड़ितों के लिए चिकित्सीय उपकरण बांटे जा रहे हैं। इससे लोगों को काफी फायदा हुआ है। उलमा ने लोगों से अपील की है कि अब रमजान मुबारक का महीना खत्म हो रहा है। इसलिए इस मदद को रोके नहीं। बल्कि ईद के दिन भी ईदी के तौर पर जरूरतमंदों के लिए चिकित्सीय उपकरण और अन्य सामान का वितरण करते रहें। गौरतलब है कि ज्यादातर लोग रमजान के महीने में जकात निकालते हैं। जकात की रकम साल में एक बार निकाली जाती है। यह रकम गरीबों की मदद या मदरसे व मस्जिद में कमेटियों को दी जाती है। लेकिन इस बार कोरोना महामारी से लड़ने के लिए लोगों ने इस रकम का इस्तेमाल किया है। लोगों की आमदनी का पांचवां हिस्सा जकात के तौर पर निकाला जाता है। इस तरह एक एक घर से बड़ी रकम निकाली गई है। इस रकम का इस्तेमाल कोरोना से लड़ाई में काम आने वाले चिकित्सीय उपकरण खरीद कर मास्क व सैनिटाइजर खरीद कर बांटने में किया गया है। हिदपीढ़ी के एक समाजसेवी मोहम्मद वसीम बताते हैं कि उन्होंने कई घरों से जकात की रकम इकट्ठा की और इसके बाद कोरोना पीड़ित मरीजों के बीच थर्मामीटर, स्ट्रीमर आदि का वितरण किया। कडरू के मोहम्मद अकरम बताते हैं कि उन लोगों ने जकात की रकम इकट्ठा कर लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर मुहैया कराए हैं। उलमा ने लोगों से अपील की है कि यह काम रुकना नहीं चाहिए। ईद के मौके पर भी ईदी के तौर पर कोरोना संक्रमितों की मदद करें। जरूरतमंदों को चिकित्सीय उपकरण मुहैया कराएं।

---

कोरोना संक्रमितों की मदद करना इंसानी खिदमत है। यह एक बड़ी इबादत है कि मजबूर और लाचार की मदद की जाए। रमजान के पाक महीने में जिस तरह लोगों ने इस महामारी से निपटने के लिए बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। इसी तरह लोग ईद पर ईदी के तौर पर भी जरूरतमंदों के बीच कोरोना संक्रमित के बीच मदद पहुंचाएं।

मौलाना कुतुबुद्दीन रिजवी, नाजिमे आला इदारा-ए-शरिया

------

कोरोना की वबा बेहद खतरनाक है। सबको इसमें एहतियात बरतना है। रमजान के महीने में खूब मदद की गई है। कोरोना संक्रमितों को ऑक्सीजन सिलेंडर दिए गए हैं लोगों को यही काम आगे भी जारी रखना है। ईद के दिन भी गरीबों की मदद करें और इसके बाद भी यह मदद जारी रखें।

मुफ्ती अनवर कासमी, इमारत-ए- शरिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.