Coronavirus Vaccination: PM Modi ने लगवाया कोरोना टीका, आप भी लगवाइए, प्राइवेट में 250 रुपये लगेंगे

Coronavirus Vaccination Jharkhand: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना टीका लगवाया। आज से आम लोगों को कोरोना टीका दिया जा रहा।

Coronavirus Vaccination Jharkhand आज से 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गाें व 45 साल से अधिक उम्र के बीमारों को कोरोना टीका लगाया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने सोमवार को कोरोना टीका लेकर इसकी शुरुआत की। निजी अस्पतालों में 250 रुपये का भुगतान करना होगा।

Alok ShahiMon, 01 Mar 2021 05:23 AM (IST)

रांची, राज्य ब्यूरो। Coronavirus Vaccination, COVID-19 Vaccination, Jharkhand News आज से आम लोगों को कोरोना टीका लगाया जा रहा है। प्रधानमंत्री (PM Modi) नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने दिल्‍ली के एम्‍स (AIIMS DELHI) में कोरोना टीका (COVID-19 Vaccination) लेकर महाअभियान की शुरुआत की। हेल्थ केयर वर्कर्स तथा फ्रंटलाइन वर्कर्स के बाद अब बुजुर्गों और बीमारों के कोराना टीकाकरण की बारी है। सोमवार से झारखंड (Jharkhand) में 60 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्गों तथा गंभीर बीमारियों से जूझ रहे 45 से 59 वर्ष के लोगों का कोरोना टीकाकरण (Coronavirus Vaccination) शुरू हो जाएगा। टीकाकरण चिह्नित सरकारी अस्पतालों तथा आयुष्मान भारत व सीजीएचएस से संबद्ध निजी अस्पतालों में होगा। सरकारी अस्पतालों में मुफ्त टीका लगाया जाएगा जबकि निजी अस्पतालों (COVID-19 Vaccination in Private Hospitals) में टीका लेने के लिए लाभुकों को 250 रुपये का भुगतान करना होगा।

एक मार्च को कोरोना टीकाकरण कितने केंद्रों पर शुरू होगा, खबर लिखे जाने तक यह स्पष्ट नहीं हो सका था। जिलों में अस्पतालों के कोविन पोर्टल पर निबंधन की प्रक्रिया ही चल रही थी। हालांकि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के पदाधिकारियों ने शनिवार को राज्य के पदाधिकारियों के साथ हुई वीडियो कान्फ्रेंसिंग में कम से कम बड़े जिलों में टीका के लिए सोमवार से ही साइटों को खोलने के निर्देश दिए जहां लाभुकों के ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों प्रकार के निबंधन के साथ टीकाकरण शुरू हो सके।

एक मोबाइल नंबर से चार सदस्यों का हो सकेगा निबंधन

मिली जानकारी के अनुसार, एक मोबाइल नंबर से परिवार के चार सदस्य ऑनलाइन या ऑफलाइन निबंधित हो सकेंगे। निबंधन के लिए व्यक्ति के पास मोबाइल नंबर एवं आधार पहचान पत्र या अन्य सरकारी अनुमान्य पहचान पत्र होना अनिवार्य है। ऑनलाइन निबंधन में मोबाइल पर ओटीपी आएगा, जिसकी प्रविष्टि के बाद कोविन-2.0 पोर्टल पर निबंधन हो जाएगा। लाभुक टीका के लिए पोर्टल पर अपने निकटतम साइट का चयन कर सकते हैं। साथ ही उपलब्ध स्लॉट एवं तारीख का भी स्वयं निर्धारित कर सकते हैं।

एक केंद्र पर अधिकतम सौ का हो सकेगा टीकाकरण

पूर्व की तरह एक टीकाकरण केंद्र पर 100 लोगों का ही एक दिन में टीकाकरण होगा। टीकाकरण केंद्र पर तीन कमरे की सुविधा उपलब्ध होगी। पहले कमरे में टीका करानेवाले के निबंधन व प्रमाणपत्रों की जांच व प्रतीक्षा करने की व्यवस्था होगी। दूसरे कमरे में टीका दिया जाएगा। तीसरे कमरे में आधा घंटा तक टीका लेनेवाले लाभुक की निगरानी की जाएगी। टीकाकरण को लेकर पूर्व के सभी प्रोटोकॉल पूर्व की ही तरह लागू होंगे।

92 फीसद स्वास्थ्य कर्मियों व 67 फीसद फ्रंटलाइन वर्कर्स का हुआ है टीकाकरण

राज्य में अभी तक निबंधित कुल कर्मियों में 92 फीसद तथा फ्रंटलाइन वर्कर्स में 67 फीसद का ही टीकाकरण हो सका है। वहीं, अभी तक 23,513 हेल्थ केयर वर्कर्स को ही दूसरी डोज लग सकी है।

फैक्ट फाइल

- 475 अस्पताल आयुष्मान भारत योजना में सूचीबद्ध हैं। केंद्र ने इसकी सूची जारी कर दी है। - 05 अस्पताल सीजीएचएस में सूचीबद्ध हैं। 

45 से 59 साल के कोमोरर्बीडीटी वाले लोग भी आज से ले सकेंगे वैक्सीन

हेल्थ केयर वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स के वैक्सीनेशन के साथ कोविड-19 वैक्सीनेशन के तीसरे फेज़ में 60 वर्ष की आयु वर्ग के लोगों के लिए वैक्सीन की सुविधा की शुरुआत की जा रही है। 60 वर्ष की आयु वालों के अलावे 45 से 59 आयुवर्ग के लोग भी वैक्सीन ले सकते हैं अगर वे को-मोरबीडीटी से ग्रसित हैं।कोविड-19 टीकाकरण के लिए 60 साल से अधिक उम्र के नागरिक टीकाकरण के लिए कोविन पोर्टल से ऑनलाइन अपॉइंटमेंट ले सकते हैं। पोर्टल पर वैक्सीनेशन सेंटर की भी जानकारी उपलब्ध होगी। ऑनलाइन अपॉइंटमेंट के साथ-साथ नागरिकों के लिए वाक इन की भी सुविधा है, यानी वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर सीधे भी टीका लिया जा सकता है।

कोविन पोर्टल से मिलेगी वैक्सीनशन सेंटर जानकारी

60 साल या उससे अधिक उम्र के भारतीय नागरिकों के साथ-साथ 45 से 59 वर्ष के आयु वर्ग नागरिकों के लिए भी कोविड-19 टीका देने की व्यवस्था की गई है। इनके द्वारा भारत सरकार द्वारा जारी लिस्ट 1 बी में कोमोरबीडीटी से संबंधित वर्णित सूची में उन बीमारियों जिक्र किया गया है जो कोमोरबीडीटी की श्रेणी में आते हैं। आयुष्मान योजना के अंतर्गत रजिस्टर्ड अस्पतालों में भी वैक्सीन देने की प्रक्रिया शुरू की जा रही है। साथ ही अन्य प्राइवेट अस्पतालों में 250 रुपये में कोरोना वैक्सीन लगवा सकते हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.