Coronavirus Vaccination: कोरोना वायरस टीका को लेकर न डरें, पढ़ें क्‍या कहते हैं डॉक्‍टर

रांची जिले के सिविल सर्जन डॉ. वीबी प्रसाद। जागरण

Coronavirus Vaccination in Jharkhand रांची के सिविल सर्जन का कहना है कि टीका लेने के बाद खानपान में किसी तरह की बदलाव करने की जरूरत नहीं है। बस मास्क ग्लव्स सैनिटाइजर के साथ शारीरिक दूरी का पालन करते रहें।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 04:16 PM (IST) Author: Sujeet Kumar Suman

रांची, जासं। Coronavirus Vaccination in Jharkhand कोरोना वायरस की वैक्सीन आ चुकी है। देशभर के स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना का टीका शनिवार से दिया जाना भी शुरू हो चुका है। लेकिन लोगों में कोरोना वैक्सीन को लेकर तरह-तरह की भ्रांतियां हैं। टीका को लेकर मन में कई सवाल हैं। ऐसे में लोगों को कोरोना वैक्सीन से जुड़ी अहम जानकारियाें को जानने की जरूरत है। वैक्सीन लेने की क्या प्रक्रिया है। कहीं वैक्सीन का कोई साइड इफेक्ट तो नहीं है। क्या वैक्सीनेशन के बाद खानपान में बदलाव करने की जरूरत है। कोरोना का कुल कितना टीका लोगों को लगेगा। पहले और दूसरे टीके के बीच कितने समय का अंतराल होगा। इन सभी चीजों को लेकर दैनिक जागरण के संवाददाता अमन मिश्रा ने जिले के सिविल सर्जन डॉ. वीबी प्रसाद से बातचीत की।

वैक्सीन लेने की प्रक्रिया क्या है, आम लोगों को वैक्सीन मिलने में कितना समय लग सकता है?

-वैक्सीन लेने के लिए सबसे पहले को-विन एप पर रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य है। सरकार के निर्देशानुसार पहले चरण में सिर्फ स्वास्थ्यकर्मियों का रजिस्ट्रेशन किया गया है। वैक्सीन लगने से एक दिन पूर्व एसएमएस या कॉल के माध्यम से उन्हें जानकारी दी जाएगी। इसके बाद वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचकर वे वैक्सीन लगवा सकते हैं। जहां तक आम लोगों को वैक्सीन लगने की बात है तो संभावना जताई जा रही है कि इसमें करीब छह माह का समय लग सकता है। जैसे ही केंद्र से निर्देश मिलेगा, उसी के अनुरूप आगे कदम बढ़ाए जाएंगे।

पहले दिन करीब 80 लोगों को वैक्सीन लगा, कहीं इसके कोई साइड इफेक्ट तो नहीं?

-जी हां, पहले दिन 80 स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया गया है। अब तक टीका लगे 24 घंटे से अधिक हो चुके हैं, लेकिन किसी को कोई नुकसान नहीं हुआ है। साइड इफेक्ट की जहां तक बात है, तो यह वैक्सीन पूरी तरह से टेस्टेड है। ट्रायल पूरा करने के बाद ही वैक्सीन को अनुमति दी गई है।

क्या वैक्सीनेशन से पहले या बाद में खानपान में कोई बदलाव करने की जरूरत है?

-नहीं, अब तक ऐसी कोई गाइडलाइन नहीं आई है। वैक्सीनेशन से पहले और बाद में भी खानपान में किसी तरह का बदलाव करने की जरूरत नहीं है। हां, वैक्सीन लगने के बाद भी कोरोना वायरस से बचाव के गाइडलाइन का पूरी तरह से पालन करने की जरूरत है।

कोरोना का कितना टीका लोगों को लगेगा और इसकी मात्रा कितनी होगी?

-फिलहाल इस वायरस के लिए 2 टीका लगाए जाएंगे। दोनों डोज 0.5 एमएल का होगा। टीका लगाने के बाद ही उन्हें दूसरे टीके के दिन की जानकारी दी जाएगी।

दोनों टीकों के बीच कितने दिनों का अंतराल होगा?

-पहला टीका लगने के 28 दिनों के बाद दूसरा टीका लगाया जाएगा। यदि टीकाकरण के समय या बाद में भी किसी को कोई परेशानी होती है तो चिकित्सक उनके इलाज के लिए हर वक्त उपलब्ध रहेंगे।

क्या वैक्सीन लेने के बाद भी मास्क, सैनिटाइजर आदि के इस्तेमाल की जरूरत है?

-यह अपनी समझ के ऊपर है। हो सकता है कि वैक्सीन आपको लग चुका हो, लेकिन किसे पता सामने वाले को लगा है या नहीं। इसलिए जब तक आखि‍री व्यक्ति तक को वैक्सीन नहीं लग जाता, तब तक सुरक्षा के सभी मानकों का अच्छी तरह पालन करें। मास्क, ग्लव्स, सैनिटाइजर के साथ शारीरिक दूरी को अपनी दिनचर्या में शामिल कर लें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.