हेमंत सरकार गिराने की साजिश रचने में दो महाराष्‍ट्र के विधायक भी शामिल, एक विधायक पुलिस गिरफ्त में

झारखंड में हेमंत सरकार गिराने की साजिश मामले की जांच कर रहे अनुसंधानकर्ता दारोगा कमलेश राय ने अदालत को बताया है कि गिरफ्तार आरोपित अभिषेक कुमार दुबे के साथ महाराष्ट्र के एक विधायक के भी होटल से भागने की सूचना है जबकि दूसरे विधायक पुलिस की गिरफ्त में हैैं।

Uttamnath PathakSun, 25 Jul 2021 03:00 AM (IST)
हेमंत सरकार के खिलाफ साजिश रचने के मामले में आरोपी को कोतवाली थाने से अदालत ले जाती पुलिस । जागरण

राज्य ब्यूरो, रांची :  हेमंत सोरेन सरकार गिराने की साजिश रचने के मामले में बेरमो के विधायक कुमार जयमंगल उर्फ अनूप स‍िंह के बयान पर रांची के कोतवाली थाने में दर्ज प्राथमिकी के अनुसंधानकर्ता दारोगा कमलेश राय बनाए गए हैं। उन्होंने अदालत को बताया है कि कोतवाली थाने में 22 जुलाई को दर्ज प्राथमिकी की छानबीन के क्रम में तीनों आरोपित पकड़े गए हैं, जिन्हें पुलिस ने अप्राथमिकी अभियुक्त बनाया है। एक आरोपित अभिषेक कुमार दुबे रांची के कोतवाली थाना क्षेत्र में लाइन टैंक रोड स्थित एक होटल से पकड़ा गया। पुलिस की छापेमारी की सूचना पर अभिषेक के चार साथी फरार हो गए। इनमें महाराष्ट्र के एक विधायक के भी होटल से भागने की सूचना है, जबकि, दूसरे विधायक पुलिस की गिरफ्त में हैैं। हालांकि, विधायक की गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं हुई है। पुलिस को अभिषेक कुमार दुबे के पास से यात्रा टिकट भी मिला है और उसने स्वीकारा है कि उसके साथ एक झारखंड के भी विधायक मुंबई से रांची आए थे।

-------------

होटल के सीसीटीवी फुटेज से हो रही फरार आरोपितों की पहचान

रांची पुलिस की टीम ने लाइन टैंक रोड स्थित उक्त होटल का सीसीटीवी फुटेज भी पेन ड्राइव में ले लिया है। रांची पुलिस की टीम सीसीटीवी फुटेज से फरार आरोपितों की पहचान कर रही है। संभव है कि जांच की आंच आगे कई लोगों की तक जाएगी। गिरफ्तार लोगों के संबंध एक दल विशेष के बड़े नेताओं से बताए जा रहे हैं।

---------

दर्ज प्राथमिकी कांड संख्या 159/21 में लगी हैं ये धाराएं

- धारा 419 भादवि : किसी के माध्यम से छल करने की स्थिति में यह धारा लगती है।

- धारा 420 भादवि : बेईमानी से बहुमूल्य वस्तु या संपत्ति देने के लिए प्रेरित करना।

- धारा 124 (ए) भादवि : जो कोई भी भारत में विधि द्वारा स्थापित सरकार के प्रति घृणा या उपेक्षा का भाव पैदा करना या इसका प्रयास करना।

- धारा 120 (बी) भादवि : अलग-अलग स्थान व समय पर किए गए आचार-व्यवहार से संबंधित।

- धारा 34 भादवि : जब एक आपराधिक कृत्य कई लोगों ने समान इरादे से किया हो तो इसमें शामिल सभी व्यक्ति ऐसे कार्य के लिए जिम्मेदार होते हैं।

- 171 आरपी एक्ट : कपटपूर्ण आशय से लोकसेवक का उपयोग।

-----------

बोकारो से गिरफ्तार कर लाए गए हैं अमित व निवारण

- रांची पुलिस ने जिन तीन लोगों को गिरफ्तार दिखाया है, उनमें एक आरोपित अमित स‍िंह व दूसरा आरोपित निवारण प्रसाद महतो को एक दिन पूर्व ही रांची पुलिस ने बोकारो से गिरफ्तार किया है। निवारण प्रसाद महतो बोकारो के चिटाही बस्ती हरला का रहने वाला है और पेशे से फल व्यवसायी है। वह 2019 में हम पार्टी के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ चुका है। वहीं, दूसरा आरोपित अमित सिंह बोकारो के सेक्टर 2सी का रहने वाला है और बोकारो स्टील प्लांट में ठेका पर काम करता है। इसके पिता का बोकारो में ही एक छोटा सा होटल है। रांची पुलिस की टीम ने बोकारो पुलिस के सहयोग से दोनों को पकड़ा था।

  

जांच में होगा पर्दाफाश : आरपीएन सिंह

 झारखंड प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी आरपीएन स‍िंह ने सरकार को अस्थिर करने संबंधी साजिश को दुखद प्रकरण बताया। उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच में दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने जांच का आदेश दिया है। जांच मे सारी बातें सामने आ जाएगी।

झारखंड विधानसभा में राजनीतिक दलों की स्थिति

 

विधायकों की संख्या - 81

बहुमत के लिए चाहिए - 41

सत्तापक्ष झामुमो, कांग्रेस और राजद मिलाकर कितने विधायक - 49

भाजपा आजसू - 28

निर्दलीय - 02

एनसीपी - 01

भाकपा (माले) - 01

----------

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.