Jharkhand Teachers Promotion: अनुकंपा पर नियुक्त हजारों शिक्षकों को मिलेगी प्रोन्‍नति, मिलेगा वेतन लाभ

Jharkhand Teachers Promotion Hindi News Ranchi News अप्रशिक्षित शिक्षकों को ग्रेड वन की स्वीकृति मिलेगी। शिक्षकों को नियुक्ति तिथि से ग्रेड वन निर्धारण के आधार पर वेतन निर्धारित कर वित्तीय लाभ देने का भी आदेश दिया गया है।

Sujeet Kumar SumanTue, 21 Sep 2021 07:20 AM (IST)
Jharkhand Teachers Promotion, Hindi News, Ranchi News अप्रशिक्षित शिक्षकों को ग्रेड वन की स्वीकृति मिलेगी।

रांची, जासं। झारखंड में शिक्षकों को प्रोन्नति का लाभ मिलेगा। हजारों शिक्षक, जिन्हें 30 साल से अधिक समय से प्रोन्नति का लाभ नहीं मिल पा रहा था, अब ऐसे शिक्षकों को ग्रेड वन बनाने को स्वीकृत दे दी गई है। इस संबंध में पत्र जारी किया गया है। इन शिक्षकों को लंबी अवधि तक के कार्यानुभव को देखते हुए ग्रेड वन दिया गया है। इसका लाभ साल 1982, 1983, 1986, 1987, 1988 तथा 2012 तक अनुकंपा के आधार पर नियुक्त शिक्षकों को मिलेगा। शिक्षकों को नियुक्ति तिथि से ग्रेड वन निर्धारण के आधार पर वेतन निर्धारित कर वित्तीय लाभ देने का भी आदेश दिया गया है। लेकिन पत्र में स्पष्ट लिखा हुआ है कि इसका लाभ नियुक्ति के साथ के ग्रेड वन में शामिल शिक्षकों को नहीं मिलेगा।

संत पॉल्स कॉलेज में इंटर की कक्षाएं शुरू

बहुबाजार स्थित संत पॉल्स महाविद्यालय में सोमवार से इंटर की कक्षाएं शुरू हो गईं। एक साथ कला, वाणिज्य एवं विज्ञान संकाय की कक्षाएं चलने लगीं। प्राचार्य डा. अनुज कुमार तिग्गा ने कहा कि विद्याथियों की पढ़ाई बिना लक्ष्य के अधूरी ही नहीं, व्यर्थ है। कॉलेज के पहले दिन ही सभी को लक्ष्य तय कर लेना चाहिए। इसकी ओर प्रयासरत भी रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि स्कूल और कॉलेज के अंतर को जानना आवश्यक है। कॉलेज में नए–नए दोस्त मिलेंगे, परन्तु उनमें से वैसे दोस्त का चुनाव करो, जो आपके तय लक्ष्य तक पहुंचाने में आपकी मदद करे। कार्यक्रम में डा. सौमित्र मल्लिक, डा. बिमल साहु, प्रो. मेरखा किण्डो, प्रो. सीमा तलान एवं सभी संकाय के शिक्षक एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

अपनी मांगों को लेकर शिक्षकेतर कर्मी पहुंचे आरयू

झारखंड राज्य विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय के बैनर तले शिक्षकेत्तर कर्मियों ने अपनी मांगों को लेकर रांची विश्वविद्यालय पहुंचे। यहां मारवाड़ी कॉलेज, वीमेंस कॉलेज, डोरंडा कॉलेज सहित अन्य कॉलेज के कर्मी ने विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार से मिलकर अपनी मांगों को रखा। रांची विश्वविद्यालय के सिंडिकेट की हाल ही में हुई बैठक में असृजित पद (कंप्यूटर ऑपरेटर) पर विश्वविद्यालय मुख्यालय के 26 कर्मियों को नियमित करने के फैसले पर चर्चा की। फिलहाल उनकी मांगों को कुलपति के समक्ष रखने का उन्होंने आश्वासन दिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.