सीएम हेमंत सोरेन की खूब हो रही सराहना, प्रोटोकाॅल तोड़ मंत्री की अगवानी करने खुद एयरपोर्ट पहुंचे

Jharkhand News ऐसा कम ही देखना को मिलता है। झारखंड के मुख्यमंत्री हेमत सोरेन अपने कैबिनेट सहयोगी जगरनाथ महतो की अगवानी करने न सिर्फ एयरपोर्ट पहुंच गए बल्कि उनके आने से पहले घर का सारा इंतजाम भी अपनी देखरेख में दुरुस्त कराया।

Sujeet Kumar SumanTue, 15 Jun 2021 02:19 PM (IST)
Jharkhand News मंत्री जगरनाथ महतो की अगवानी करने पहुंचे सीएम हेमंत सोरेन।

रांची, [प्रदीप सिंह]। कोरोना की पहली लहर के दौरान सितंबर -2020 में झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो बीमार हुए। शुरुआत में रांची के एक निजी अस्पताल में इलाज हुआ। तबीयत बिगड़ने पर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने उन्हें बेहतर इलाज के लिए चेन्नई भेजा। वहां फेफड़े का सफल प्रत्यारोप होने के बाद जगरनाथ महतो सोमवार की शाम राज्य सरकार द्वारा भेजे गए विशेष विमान से एयरपोर्ट पहुंचे तो उनकी अगवानी के लिए पहले से मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन वहां मौजूद थे।

यह एक भावुक पल था। हेमंत सोरेन ने जोहार जगरनाथ दा कहा तो मंत्री की आंखें छलक गई। मुख्यमंत्री भी भावुक हो गए। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा प्रोटोकाॅल की परवाह नहीं कर मातहत मंत्री का ख्याल रखने की खूब सराहना हो रही है। इंटरनेट मीडिया पर इसे लोग उनकी संवेदनशीलता से जोड़कर देख रहे हैं। मंत्री जगनाथ महतो के आगमन के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन उनके सरकारी आवास पर भी गए। उनके आवास में कई चिकित्सा उपकरण लगाए गए हैं ताकि मंत्री के स्वास्थ्य की सतत निगरानी की जा सके।

अन्य दलों के नेताओं का भी रखते ख्याल

विकट परिस्थिति में संकुचित राजनीतिक दायरे को भी हेमंत सोरेन ने तोड़ा है। कुछ माह पूर्व झारखंड प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष दीपक प्रकाश की तबीयत अचानक बिगड़ी। उन्हें इलाज के लिए रिम्स, रांची लाया गया। उन्हें ह्रदय से संबंधित परेशानी थी। तत्काल मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन उन्हें देखने अस्पताल पहुंच गए। वहां उन्होंने चिकित्सकों से परामर्श किया और उनका बेहतर इलाज भी सुनिश्चित कराया। दीपक प्रकाश ने भी उनकी संवेदनशीलता की सराहना की थी।

कद्दावर नेता हैं जगरनाथ महतो

शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो गिरिडीह जिले की डुमरी विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। समर्थक उन्हें टाइगर कहकर संबोधित करते हैं। वे आरंभ से झारखंड मुक्ति मोर्चा से जुड़े हैं। क्षेत्र में कामकाज करने का उनका अलग अंदाज है। अलग झारखंड राज्य के आंदोलन के दौरान भी वे सक्रिय रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.