top menutop menutop menu

CBSE Class 12th Result 2020: सीबीएसई 12वीं में झारखंड के 87% छात्र पास, cbseresults.nic.in पर देखें नतीजे

रांची, जेएनएन। CBSE Board Class 12th Results 2020 केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) कक्षा 12 के परीक्षा परिणाम घोषित कर दिए गए हैं। इस साल कुल मिलाकर 88.78% छात्र इस परीक्षा में पास हुए हैं। सीबीएसई 12वीं के नतीजे आ गए हैं। पिछले साल के मुकाबले इस साल झारखंड के छात्रों ने बेहतर प्रदर्शन किया है। इस परीक्षा में राजधानी रांची से 5200 छात्र शामिल हुए हैं। झारखंड के 23000 छात्रों का रिजल्‍ट इस बार सुधरा है। यह परीक्षा 15 फरवरी से 30 मार्च के बीच ली गई थी।

छात्राओं ने फिर बाजी मारी, आ गए सीबीएसई के 12वीं के नतीजे
कोरोना वायरस के विश्‍वव्‍यापी संकट के बीच अटकलों का दौर खत्‍म करते हुए केंद्रीय माध्‍यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने सोमवार को साल 2020 के बारहवीं कक्षा का परिणाम जारी कर दिया। इस साल पहले की अपेक्षा नतीजे बेहतर रहे। दिल्‍ली-एनसीआर का परिणाम अच्‍छा रहा। वहीं छात्राएं इस बार भी छात्रों से आगे रहीं। जारी किए गए नतीजे में जोन के अनुसार तिरुअनंतपुरम सबसे आगे रहा। चेन्नई दूसरे स्थान पर और बेंगलुरू तीसरे नंबर पर काबिज है।

सोमवार को इसके परिणाम सीबीएसई की ओर से जारी कर दिए गए हैं। इस साल पिछले वर्ष के मुकाबले 5.38 फीसद अधिक छात्रों ने सफलता अर्जित की है। वर्ष 2019 में जहां इस परीक्षा में 83.4 फीसद छात्र सफल हुए थे, वहीं साल 2020 की 12वीं बोर्ड की परीक्षा में 88.78 प्रतिशत छात्रों ने उत्‍तीर्णता हासिल की है। पटना रिजन में इस बार 74.57 प्रतिशत छात्र सफल रहे हैं। जबकि भुवनेश्‍वर रिजन में छात्रों की सफलता का प्रतिशत 91.46 रहा।

सीबीएसई बारहवीं में डीपीएस के अंश मक्कर को 99.2 फीसद अंक

सीबीएसई की ओर से सोमवार को बारहवीं का परिणाम जारी कर दिया गया। इसमें दिल्ली पब्लिक स्कूल, रांची के बारहवीं विज्ञान के छात्र अंश मक्कर को 99.2 फीसद प्राप्त किया है। कॉमर्स में निश्छल गोयल को 98.0 फीसद अंक प्राप्त हुआ। आर्ट्स में डीपीएस की समिधा शेखर को 98 फीसद अंक मिला है। रांची में करीब 9000 विद्यार्थियों ने सीबीएसई की परीक्षा दी।

98.8 फीसद अंक हासिल कर विज्ञान संकाय में जिला टॉपर बनी आद्याषा

दिल्ली पब्लिक स्कूल की आद्याषा मिश्रा ने सीबीएसई बारहवीं विज्ञान संकाय की परीक्षा में 98.8 फीसद अंक हासिल कर जिला टॉपर बनने का गौरव हासिल किया। इसने अंग्रेजी में 97, भौतिकी में 97, जीव विज्ञान में 99, रसायन में 100, फाइन आर्ट में 99 व फिजिकल एजुकेशन में 99 अंक हासिल किया। कठिन परिश्रम से आद्याषा के सपने ने उड़ान भरी। वह चिकित्सक बनना चाहती है। इसलिए इस दिशा में कठिन परिश्रम कर रही है। इसके पिता सेक्टर चार बी निवासी प्रजेश चंद्र मिश्रा बीएसएल में महाप्रबंधक के पद पर कार्यरत हैं।

माता सस्मिता मिश्रा गृहिणी हैं। उसने कहा कि माता-पिता ने खास ख्याल रखा। हमेशा जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया। उसे पढ़ाई के अलावा खेलकूद व चित्रकला से भी लगाव है। वह प्रत्येक दिन सात से आठ घंटा अध्ययन करती है। उसने कहा कि मोबाइल का प्रयोग उतना ही करना चाहिए, जितना जरुरी है। समय का सदुपयोग करना चाहिए। लक्ष्य पर निगाह होना चाहिए। लक्ष्य की प्राप्ति के लिए कठिन परिश्रम करना चाहिए, तभी सफलता कदम चूमेगी।

बोकारो में 98.2 फीसद अंक के साथ रीतू कामर्स संकाय में जिला टॉपर

होली क्रास स्कूल बालीडीह की रीतू ने सीबीएसई बारहवीं कामर्स संकाय में 98.2 फीसद अंक हासिल किया। इसने इस संकाय में जिला टॉपर बनने का गौरव हासिल किया। इसने अंग्रेजी में 96 संस्कृत में 98, अर्थशास्त्र में 100, बिजनेस स्टडी में 99, अकाउंट में 98 व गणित में 95 अंक प्राप्त किया। रीतू ने कठिन परिश्रम से सफलता की राह पर कदम आगे बढ़ाया। बांसगोड़ा निवासी इसके पिता कृष्णा सिंह एलआइसी के अभिकर्ता हैं। माता अंजू देवी गृहिणी हैं। इसने होली क्रास स्कूल से ही मैट्रिक की परीक्षा 94 फीसद अंक के साथ उत्तीर्ण किया था। रीतू ने कहा कि वह सीए बनना चाहती है। इसलिए इस दिशा में कड़ी मेहनत कर रही है। वह प्रत्येक दिन चार से पांच घंटे अध्ययन करती है। उसने मोबाइल से दूरी बनाई। साथ समय प्रबंधन के साथ परीक्षा की तैयारी की। वह नियमित रुप से योग करती है। इसे म्यूजिक से भी लगाव है।

सीबीएसई 12 वीं के रिजल्ट में पटना जोन पिछड़ा

सीबीएसई ने सोमवार को 12वीं का रिजल्ट घोषित कर दिया। रिजल्ट में पटना जोन सबसे नीचे है,  इसमें झारखंड भी शामिल है। पटना जोन का रिजल्ट मात्र 74.57 फीसद है। बोर्ड ने सीधे स्कूलों को रिजल्ट भेजा है। अभी स्कूल टाॅपरों की सूची तैयार कर रहा है।

इधर सोमवार को दोपहर बाद जैसे ही सीबीएसई 12वीं के नतीजे जारी किए गए, परिणाम देखने के लिए सीबीएसई की वेबसाइट cbseresults.nic.in पर अचानक ट्रैफिक बढ़ गया। जिससे साइट डाउन हो गया। यहां नतीजे देखने के लिए छात्रों को खासी मशक्‍कत करनी पड़ रही है। कुछ छात्र बढ़ी हुई इंटरनेट स्‍पीड के साथ अपना रिजल्‍ट खंगालने में जुटे रहे।

यह भी पढ़ें : CBSE Class 10th Result 2020: सीबीएसई 12वीं के बाद अब 10वीं के नतीजे की बारी, जल्‍द जारी होगा रिजल्‍ट; देखें cbseresults.nic.in

सीबीएसई ने दो माह देरी से जारी किया परिणाम, राज्य से 28 हज़ार छात्र हुए थे शामिल

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने सोमवार को अचानक दोपहर एक बजे 12वीं का परिणाम जारी कर दिया। बोर्ड ने 15 जुलाई तक रिजल्ट जारी करने की घोषणा की थी। इस बार दो महीने देरी से परिणाम जारी किया गया, जबकि पिछले वर्ष तीन मई को 12वीं का रिजल्ट जारी कर दिया गया था। राज्य से 12वीं की परीक्षा में 23 हज़ार छात्र इस बार शामिल हुए थे।

अकेले धनबाद से ही 4000 छात्र इस परीक्षा में शामिल हुए। रांची से लगभग 5000 छात्र परीक्षा में शामिल हुए थे। परिणाम जारी भले कर दिया गया, लेकिन सर्वर ने छात्रों और अभिभावकों को परेशान कर दिया। दोपहर 2:00 बजे तक सर्वर डाउन होने की वजह से परिणाम धीरे-धीरे निकलता रहा। जिससे छात्रों को नतीजे जानने में काफी परेशानी भी हुई। कुछ स्कूल अपने स्कूलों का परिणाम पूरी तरह से 3 बजे के बाद ही देने में सक्षम हो पाएंगे। इसका कारण यह है कि बीच-बीच में लिंक फेल हो जा रहा है और सर्वर भी साथ नहीं दे रहा है।

कई दिन से रिजल्ट का रहा इंतजार

12वीं कक्षा के परिणाम को लेकर छात्रों के साथ-साथ अभिभावको में भी उत्साह का आलम रहा। सीबीएसई ने पहले ही घोषणा कर रखी थी कि 15 जुलाई तक परिणाम जारी कर दिया जाएगा। सोमवार सुबह से ही विद्यार्थी रिजल्ट आने का इंतजार कर रहे थे। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की कक्षा 12वीं के परीक्षा परिणाम घोषित होते ही विद्यार्थियों के चेहरे खिल उठे। ज्यादातर विद्यार्थी परीक्षा में सफल रहे। सफल छात्र ऑनलाइन और व्हाट्सएप कॉलिंग से आशीर्वाद प्राप्त करते दिखे।

15 फरवरी से 18 मार्च तक हुई थी परीक्षा

सीबीएसई की 12वीं परीक्षा 15 फरवरी से 18 मार्च तक देश के विभिन्न शहरों में ली गयी थी। 2020 की 12वीं बोर्ड की परीक्षा में देशभर के 13109 स्कूल के स्टूडेंट्स शामिल हुए थे, जिन्होंने 4984 परीक्षा केंद्रों में परीक्षा दी थी। इस साल की परीक्षा में 1203595 स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन कराया था। जिसमें से 1192961 स्टूडेंट्स शामिल हुए। परीक्षा परिणाम में देशभर में 1059080 स्टूडेंट्स ने सफलता हासिल की है। झारखंड से 23000 छात्र 12वीं की परीक्षा में शामिल हुए। साल 2019 की तुलना में रिजल्ट में 5.38 फीसदी की बढ़ोतरी हुइ है।

यह खबर लगातार अपडेट हो रही है। ताजा जानकारी के लिए बने रहें हमारे साथ...

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.