भाजपा का हेमंत सरकार पर निशाना, प्रदेश अध्यक्ष बोले- 18 माह में हुए 10 हजार से अधिक संगीन अपराध

Jharkhand Political Update न्यायाधीश उत्तम आनंद की हत्या की सीबीआई जांच की अनुशंसा राज्य सरकार के स्तर से किए जाने के बावजूद मुख्य विपक्षी दल भाजपा का रुख राज्य की विधि व्यवस्था की स्थिति को लेकर नरम नहीं हुआ है।

Vikram GiriSun, 01 Aug 2021 02:16 PM (IST)
भाजपा का हेमंत सरकार पर निशाना, प्रदेश अध्यक्ष बोले। जागरण

रांची, राज्य ब्यूरो । न्यायाधीश उत्तम आनंद की हत्या की सीबीआई जांच की अनुशंसा राज्य सरकार के स्तर से किए जाने के बावजूद मुख्य विपक्षी दल भाजपा का रुख राज्य की विधि व्यवस्था की स्थिति को लेकर नरम नहीं हुआ है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने रविवार प्रदेश मुख्यालय में आंकड़ों का हवाला देते हुए राज्य सरकार पर निशाना साधा। कहा, झारखंड में जंगल राज की आहट महसूस हो रही है, पिछले 18 माह में झारखंड में 10 हजार से अधिक संगीन अपराध हुए हैं।

दीपक प्रकाश ने मीडिया से बातचीत में कहा कि किसी भी राज्य की विधि व्यवस्था का विकास से सीधा संबंध होता है। लेकिन हमारे राज्य में विधि व्यवस्था लचर नहीं बल्कि ध्वस्त हो चुकी है। न्यायाधीश की हत्या का जिक्र करते हुए कहा कि पिछले 18 माह में सिर्फ हत्या के ही 2678 मामले दर्ज हुए हैं। दुष्कर्म की 2423 घटनाएं सामने आईं हैं, अपहरण के 2400 मामले हैं, इसके अलावा नक्सल वारदात, डकैती समेत करीब दस हजार संगीन अपराध हुए हैं। कहा, यह आंकड़ें रजिस्टर्ड हैं। न्यायाधीश की हत्या के मामले में उच्च न्यायालय की टिप्पणी ने शासन व्यवस्था की पोल खोल दी है। उन्होंने कहा कि न्यायाधीश के मामले में तो राज्य सरकार ने सीबीआइ जांच की अनुशंसा कर दी लेकिन रूपा तिर्की के मामले में नहीं कर रही है, जाहिर है दाल में कुछ काला है। इस मौके पर प्रदेश महामंत्री आदित्य साहू और मीडिया प्रभारी शिवपूजन पाठक भी उपस्थित थे।

रोजगार के किए झूठे वादे, जनता के साथ विश्वासघात

दीपक प्रकाश ने रोजगार के मामले में भी राज्य सरकार को घेरा। कहा, प्रत्येक वर्ष पांच लाख नौकरी देने का झूठा वादा करने वालों ने जनता के साथ विश्वासघात किया है। लगभग 5.25 लाख सरकारी पदों में से करीब 3.29 पद रिक्त हैं। सरकार लोगों को नौकरी तो दे नहीं पा रही है, अब संविदा पर नियुक्त लोगों को भी हटाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा चुप नहीं रहेगी, राज्य के नौजवानों के हक की लड़ाई लड़ेगी। हम 20 अगस्त से सभी मंडलों में आंदोलन करेंगे। यह बात अलग है कि हम पर मुकदमें भी होंगे लेकिन हमें इसकी फिक्र नहीं है। क्योंकि राज्य में अघोषित आपातकाल की स्थिति है।

सरकार गिराने की साजिश पर बोले, यह उनका नाटक, भाजपा इसमें क्या करेगी

सरकार गिराने की साजिश में भाजपा की भूमिका तलाश रहे सत्तापक्ष को भी दीपक प्रकाश ने जवाब दिया। कहा, यह झामुमो, कांग्रेस और राजद के अंतर्विरोध का नाटक है। कानून अपना काम करे।

राज्य सरकार कम करे वैट

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के लिए भी दीपक प्रकाश ने पूर्व की यूपीए सरकार पर दोष मढ़ा। कहा, यूपीए कार्यकाल में 25 हजार करोड़ के बांड जारी किए गए, अब वर्तमान सरकार को उसे देना पड़ रहा है। यह भी कहा कि कल्याणकारी योजनाओं के लिए धन की आवश्यकता पड़ती है। राज्य सरकार को यदि इतनी चिंता है तो वैट कम कर दे। इस मामले में कांग्रेस का दोहरा चरित्र सामने आ रहा है।

टीएसी का गठन असंवैधानिक, जारी रहेगा भाजपा का संघर्ष

दीपक प्रकाश ने टीएसी के गठन को एक बार फिर असंवैधानिक बताया। कहा, उन्होंने इस मसले को राज्यसभा में भी उठाया है। कहा, राज्य सरकार ने राज्यपाल के निहित अधिकारों का उल्लंघन करते हुए जनजातीय सलाहकार परिषद का गठन किया है। भाजपा इसके खिलाफ आवाज उठाती रहेगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.