top menutop menutop menu

बोले कृषि मंत्री, बदल रहा अधिकारियों का मिजाज

रांची : कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने जनता दरबार के दौरान अपनी समस्याओं को लेकर पहुंचे लोगों से कहा कि अब उनकी समस्याओं को दूर करने के प्रति अधिकारियों का मिजाज बदल रहा है। सरकार व उनका विभाग समस्याओं को दूर करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। उन्होंने समस्याओं को दूर करने का आश्वासन भी दिया।

शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में बादल पत्रलेख ने जनता दरबार लगाया था। इसमें 39 से अधिक लोगों ने लिखित आवेदन दिया। सर्वाधिक शिकायतें पलामू और गढ़वा जिले से कृषि से संबंधित थी। बादल पत्रलेख ने कहा कि जनता दरबार में जितने भी आवेदन आए हैं, उनपर विभागीय अधिकारी व पदाधिकारी मिलकर समाधान करने का प्रयास करेंगे। कहा हम जनता की समस्याओं को लेकर संवेदनशील है। राज्य के विकास एवं जनता की समस्याओं को दूर करने के प्रति प्रतिबद्ध हैं।

इस अवसर पर जगदीश साहू, जीतेंद्र त्रिवेदी, राजेश सिन्हा सन्नी, निरंजन पासवान, जगन्नाथ साहू, महेश साहू, प्रभात कुमार, अख्तर अली, राजेश चन्द्र राजू, अरूण श्रीवास्तव, शकर साहू व राजेश वर्मा मौजूद रहे। कांग्रेस का प्रमंडलीय सदस्यता अभियान आज से

राज्य ब्यूरो, रांची : कांग्रेस की ओर से प्रमंडल स्तरीय सदस्यता अभियान 29 फरवरी से प्रारंभ हो रहा है। इसकी शुरुआत चाईबासा में सुबह 11:30 बजे से होगा। इस कार्यक्रम में प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रामेश्वर उरांव, विधायक दल नेता आलमगीर आलम, मंत्री बन्ना गुप्ता एवं सदस्यता अभियान प्रभारी आलोक कुमार दुबे चाईबासा जाएंगे और सदस्यता अभियान की शुरुआत करेंगे। अधिकारियों की पोस्टिंग

राज्य ब्यूरो, रांची : राज्य सरकार ने शुक्रवार को पदाधिकारियों की पोस्टिंग और अतिरिक्त प्रभार की अधिसूचना जारी की। देवघर के डीडीसी शैलेंद्र कुमार वर्णवाल को देवघर नगर निगम के आयुक्त का प्रभार दिया गया है। शैलेंद्र कुमार लाल झारखंड राज्य खाद्य एवं असैनिक आपूर्ति निगम के एमडी होंगे। वे खाद्य सुरक्षा निदेशक भी हैं। रांची के अधीक्षक, जीएसटी विनय बिहारी कर्ण की सेवा पीआरडी को हस्तांतरित की गई है। वे नई दिल्ली झारखंड भवन में उप निदेशक होंगे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.