बम ब्लास्ट की घटना लोकल सेल के अवैध खेल से जुड़े होने की आशंका

राजेश्वर/राकेश कुजू(रामगढ़) सीसीएल कुजू क्षेत्र के करमा लोकल सेल में व्याप्त अनियमितता है।

JagranSat, 02 Oct 2021 07:30 PM (IST)
बम ब्लास्ट की घटना लोकल सेल के अवैध खेल से जुड़े होने की आशंका

राजेश्वर/राकेश, कुजू(रामगढ़) : सीसीएल कुजू क्षेत्र के करमा लोकल सेल में व्याप्त अनियमितता है। इसके कारण आए दिन विवाद होते रहता है। विवाद सेल में ट्रकों से अवैध रूप से वसूले गए रुपए के बंटवारे को लेकर होती है। ऐसा प्रतीत होता है कि गत शुक्रवार लोकल सेल संचालन समिति के कार्यालय में जो टाइमर बम ब्लास्ट किया गया। वह उसी का कड़ी है। जो भी अपराधिक तत्व द्वारा बम बलास्ट किया गया। उसका मकसद दहशत फैलाना लग रहा है।जो विस्फोटक बम बलास्ट में उपयोग किया गया है। वह सीसीएल द्वारा कोयला उत्पादन में किया जाता है। इसकी जानकारी रामगढ़ एसडीपीओ ने पत्रकारों को घटना स्थल पर दिया था। खैर जो भी हो लेकिन करमा लोकल सेल में जो भी विवाद होता है। सेल के खेल के कारण होता है। करमा लोकल सेल में कोयला लोड करने जाने वाले प्रत्येक ट्रक से मजदूरों के लोडिग के नाम पर 8 हजार व खर्च के नाम 5 हजार रुपए वसूला जाता है। परंतु यह लोडिग का रुपए मजदूरों के पॉकेट में न जा कर, संचालन समिति के पॉकेट में जाता है। मजदूरों के नाम पर लिया जाने वाला पैसा मजदूरों को न मिलना यह विवाद का बड़ा जड़ हो सकता है। वही खर्च के नाम पर लिया जाने वाला 5 हजार रुपया को सेल संचालन समिति व प्रबंधन मिल कर बंदर बांट करते हैं। इसमें खादी से वर्दी तक का भागीदारी है।राजनीतिक संरक्षण के बगैर करमा लोकल सेल मे मनमाना खेल संभव नही है। सूत्र बताते है कि सेल संचालन समिति के जिस कार्यालय में बम बलास्ट हुआ। वहीं से कोयला लोड करने आए ट्रक से अवैध वसूली किया जाता है। क्योंकि कोयला लोड करने आए ट्रक को सीसीएल प्रबंधन की प्रक्रिया से गुजरने के बाद लोडिग स्थल जाने से पहले ट्रक चालकों को सेल संचालन समिति के कार्यालय में जा कर चढ़ावा देना पड़ता है। यहां चढ़ावा दिए बिना ट्रक चालक लोडिग स्थल नही जा सकते। जो चढ़ावा नही देते हैं, उन्हें येन केन प्रकेण कर के लोडिग स्थल जाने से रोक दिया जाता है। सेल संचालन समिति, प्रबन्धन के मनमानी के बाद करमा के ट्रक मालिक पीछे रहने वाले कहां थे। वर्तमान में करमा के ट्रक मालिक बाहर के ट्रकों को करमा लोकल सेल में कोयला लोड करने जाने नहीं दे रहें हैं। बाहर के ट्रकों को फॉर लाइन से ही लौटा दिया जा रहा है। अब बाहर के ट्रक करमा लोकल सेल जाने से डरते हैं। बाहर के ट्रकों को कोयला लोडिग नहीं दिए जाने से कोयला उठाव में प्रभाव पड़ रहा है। करमा के लोकल ट्रक मालिक कहते हैं कि करमा लोकल सेल से जो भी कोयला उठेगा। वह लोकल ट्रक से ही उठेगा वरना कोयला उठने नहीं दिया जाएगा और भाड़ा बाजार से 150 रुपए प्रति टन ज्यादा देना होगा।यह सिलसिला 15 दिनों से करमा लोकल सेल में चल रहा है। लेकिन अभी तक इसका संज्ञान लोकल सेल संचालन समिति, सीसीएल प्रबंधन या पुलिस प्रशासन ने नहीं लिया है। करमा लोकल सेल मे कदम कदम पर मनमानी है।परंतु इसे देखने वाला कोई नहीं है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.