1327 आर एल के बाद खोले जाएंगे डैम के फाटक

संवाद सूत्र पतरातु थर्मल (रामगढ़) 2027 एकड़ में फैला पतरातू डैम का जलस्तर लगातार तेजी से

JagranWed, 28 Jul 2021 06:58 PM (IST)
1327 आर एल के बाद खोले जाएंगे डैम के फाटक

संवाद सूत्र, पतरातु थर्मल (रामगढ़) : 2027 एकड़ में फैला पतरातू डैम का जलस्तर लगातार तेजी से बढ़ता जा रहा है। जलस्तर के बढ़ने के बाद पीटीपीएस शेष परिसंपत्ति की ओर से रामगढ़ जिला उपायुक्त समेत सभी संबंधित अधिकारियों को इसकी लिखित सूचना भेजी जा चुकी है। बुधवार को पतरातू डैम का जलस्तर 1326.05 आर एल तक पहुंच चुका है।इस संबंध में पीटीपीएस शेष परिसंपत्ति के संपदा पदाधिकारी विश्वनाथ प्रसाद ने बताया कि 1327 आर एल पर पहुंचने के बाद जिला प्रशासन को सूचना देकर पतरातू डैम के तटीय क्षेत्रों में एलाउंसमेंट कराने के बाद डैम फाटक को नलकारी नदी के बहाव को देखते हुए आवश्यकता के अनुसार खोला जाएगा। जिले का मुख्य जल स्त्रोत है पतरातू डैम

पतरातु थर्मल पावर प्लांट स्थापना के साथ ही 1960 के दशक में पतरातू डैम का निर्माण कराया गया था। उस समय 38 लाख की लागत से बनाया गया पतरातू डैम आज रामगढ़ जिले के लिए मुख्य जल स्त्रोत साबित हो रहा है। पीटीपीएस प्लांट बंद होने के बाद डैम के पानी की खपत में काफी कमी आई है। पीटीपीएस प्लांट चालू रहने के दौरान प्रति सेकंड 20 क्यू सेक प्रति सेकंड के हिसाब से प्लांट में पानी की खपत होती थी। वर्तमान समय में पतरातू डैम से सीसीएल व रामगढ़ कैंटोनमेंट में 10 क्यूसेक प्रति सेकंड पानी की सप्लाई की जा रही है। वहीं जिदल प्लांट में दो क्यूसेक पानी प्रति सेकंड डैम से सप्लाई किया जाता है। पीटीपीएस कॉलोनी क्षेत्र में जलापूर्ति के लिए 0.5 क्यूसेक पानी प्रति सेकंड डैम से सप्लाई किया जाता है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.