मांडू में जल संकट, पानी के लिए बहा रहे पसीना

मांडू में जल संकट, पानी के लिए बहा रहे पसीना

संजय मंडल मांडू(रामगढ़) जैसे-जैसे गर्मी की तपीश बढ़ती जा रही है वैसे-वैसे मांडू व आस

JagranSat, 10 Apr 2021 06:17 PM (IST)

संजय मंडल मांडू(रामगढ़): जैसे-जैसे गर्मी की तपीश बढ़ती जा रही है, वैसे-वैसे मांडू व आस-पास के गांवों में पेयजल की समस्या गहराती जा रही है। क्षेत्र में बरसाती नदियां सूख गई है। ज्यादातर तालाब और कुएं भी सूख गए है। जो कुएं नहीं सूखे है, उनका जल स्तर काफी नीचे चला गया है। क्षेत्र के कुएं व हैंडपंपों में आधी रात से ही पानी लेने के लिए भीड़ लगी रहती है। क्षेत्र के मांडू, हेसागढा, पुंडी, बोंगाहारा, तिलैयाटांड, कांशीखाफ, महुआटांड, सिमरा, गरगाली, पचकियरिया, गोटियाही, केरीबंदा,, जोडाकरम, तोयरा, रंगुबेडा, नौनियाबेडा के ग्रामीण सीसीएल व ठेकेदारी के समय से बंद पडी कोयला खदानों या नदी व नालों के चुआं का पानी पीते है। इन गांवों के आदमी और जानवर साथ-साथ चुआं व खदान का पानी पीते है। इन गांवों में प्रतिवर्ष गंदा पानी पीने से कई लोग महामारी का शिकार होते है।

500 से अधिक हैंड पंप है खराब

प्रखंड से प्राप्त सरकारी आंकड़े के अनुसार पीएचइडी विभाग द्वारा प्रखंड के विभिन्न गांवों में कुल 2231 हैंडपंप लगाए गए है। इसमें से करीब 500 हैंडपंप खराब पड़े हैं। इनमें विशेष मरम्मति के अभाव में 40, सड़े-गले पाइप के कारण 300 और साधारण मरम्मत के अभाव में करीब 100 हैंडपंप बंद है। सड़े-गले पाइप और साधारण मरम्मत का कार्य विभाग द्वारा की जा रही है। विभाग के अनुसार सांसद व विधायक मद से लगाए गये हैंडपंप का आंकड़ा विभाग के पास नहीं है। वैसे ग्रामीणों के अनुसार खराब पड़े हैंडपंपों की संख्या दो गुनी है।

15 से 20 रुपये प्रति भार बिक रहा पानी

मांडू व आसपास के क्षेत्रों में 15 से 20 रुपये भार पानी बिक रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि जो सुखी सम्पन्न लोग हैं, वे तो पानी खरीद ले रहें है। जो गरीब है वह सुबह से षाम तक पानी के व्यवस्था में लगे रहते हैं।

सीसीएल की खदानों में हो रही हैवी ब्लासि्िटंग से घटा जल स्तर

क्षेत्र के चारों ओर सीसीएल की विभिन्न परियोजनाओं में संचालित खुली खदान में हो रही हैवी ब्लास्टिग से जल स्तर घटा है। एनएचएआइ द्वारा फोरलेन सड़क निर्माण के दौरान भरे गए तालाबों से भी कुआं व हैंडपंप का जलस्तर घटा है।

---

मांडूडीह में पानी सप्लाई से आधी आबादी है वंचित

मांडूडीह में पानी सप्लाई से आधी आबादी वंचित है। पाइप लाइन नहीं बिछने के कारण मांडूडीह के कई टोलों में पानी की सप्लाई शुरू नहीं पाई है। लोगों को पानी के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि पानी सप्लाई चालू कराने के लिए विभाग को कई बार आवेदन दिए, मगर अबतक कोई पहल नहीं किया गया है। --

कहते हैं कनीय अभियंता

पीएचइडी विभाग के कनीय अभियंता बिमलेंदु प्रसाद ने बताया कि खराब पड़े चापानलों का मरम्मत का कार्य किया जा रहा है। विभाग द्वारा जारी नंबर में ग्रामीण खराब पडे चापानलों की जानकारी दे रहें। उन्हें नम्बर से मरम्मत कराया जा रहा है। बताया कि प्रखंड में खराब पडे हैंडपंपों के मरम्मत के लिए वाहन प्रतिदिन क्षेत्र में भ्रमण कर रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.