सांप्रदायिक ताकतों को रोकना बहुत जरूरी

सांप्रदायिक ताकतों को रोकना बहुत जरूरी
Publish Date:Wed, 21 Oct 2020 07:53 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सूत्र, गिद्दी(रामगढ़): मा‌र्क्सवादी समन्वय समिति डाड़ी प्रखंड ने बुधवार को कोदवे रोयांग में सोधन महतो व धनेश्वर भुइयां का 29वां शहादत दिवस मनाया। शहादत दिवस की शुरुआत मासस डाड़ी प्रखंड अध्यक्ष सुंदर लाल बेदिया ने झंडोत्तोलन कर किया। शहीद सोधन व धनेश्वर के चित्र पर इनकी विधवा क्रमश: मनी देवी व बंधनी देवी ने माल्यार्पण किया। इसके बाद मासस कार्यकारी अध्यक्ष मिथिलेश सिंह व अन्य गणमान्य लोगों ने बारी-बारी से शहीदों के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। मासस के कार्यकारली अध्यक्ष मिथिलेश सिंह ने कहा कि सोधन व धनेश्वर 21 अक्टूबर 1990 को आडवाणी को काला झंडा दिखाने जाने के क्रम में शहीद हो गए थे। केंद्र की मोदी सरकार एक बार पुन: सांप्रदायिकता को बढ़ावा देने का कार्य कर रही है। केंद्र सरकार के सांप्रदायिकता को महत्व देने के खिलाफ आंदोलन करने की जरूरत बताया। सांप्रदायिक ताकतों को आगे बढ़ने से रोकना ही इनकी सच्ची श्रद्धांजली होगी। इसके अलावे आरडी मांझी व शईद अंसारी ने केंद्र सरकार द्वारा किसानों के खिलाफ लाए गए तीन कानून के विरोध में आंदोलन करने की बात कही। इसके पूर्व एक मिनट का मौन रखकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। सभा की अध्यक्षता बैजनाथ महतो ने कप। मौके पर लोदो मुंडा, राजेंद्र गोप, अमृत राणा, कैलाश महतो, हरि प्रसाद, राजकुमार लाल, तुफानी राम, हेमलाल महतो, ललीत महतो, जगदीश महतो, रामकिशुन मुर्मू, काली मांझी, रामफल महतो, मनोज महतो, बहाराम मांझी, चुरामन महतो, बेनी राम महतो, प्रभु गोप, मो. ऐनाम, फखरूद्दीन अंसारी समेत दर्जनों ग्रामीण उपस्थित थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.