top menutop menutop menu

डेली मार्केट खुलवाने पर अड़े व्यवसायी, आज से नहीं बेचेंगे सब्जी

डेली मार्केट खुलवाने पर अड़े व्यवसायी, आज से नहीं बेचेंगे सब्जी
Publish Date:Tue, 11 Aug 2020 09:34 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, रामगढ़ : डेली मार्केट को पूर्व की तरह खोलने की मांग को लेकर शहर के सब्जी व्यवसायियों ने बुधवार से अनिश्चितकाल के लिए सब्जी दुकानों को बंद करने का निर्णय लिया है। मंगलवार को स्थानीय बाजार समिति परिसर में बैठक कर सब्जी विक्रेताओं ने यह निर्णय लिया है। सब्जी विक्रेताओं ने कहा कि कोराना संक्रमण को लेकर पिछले चार माह से शहर के मुख्य सब्जी बाजार डेली मार्केट को सील कर दिया गया है। पिछले चार माह से विक्रेताओं को बाहर से सब्जी लाकर छावनी फुटबॉल मैदान में बेचने व रखने में काफी परेशानी हो रही है। दिनभर की दुकानदारी के बाद सब्जियों को सुरक्षित रखने की भी जगह नहीं है। इससे उनलोगों को इस व्यवसाय में नुकसान के साथ-साथ परेशानी झेलनी पड़ रही है। इसलिए अब जिला प्रशासन व छावनी परिषद उनलोगों को पूर्व की भांति डेली मार्केट में उनके चिन्हित स्थल पर सब्जी बेचने की अनुमति प्रदान करे। सब्जी विक्रताओं ने कहा कि जब-तक डेली मार्केट में पूर्व निर्धारत स्थान पर प्रशासन सब्जी बेचने का आदेश नहीं देंगे, तबतक वे अपना व्यवसाय बंद रखेंगे। बैठक में भोला नंद प्रसाद कुशवाहा, सुभाष कुमार, मो. जहुर मियां, सावन कुमार, राजकुमार कुशवाहा, राजेश कुमार, विक्की कुमार, कैलाश सोनकर, उमेश कुशवाहा, उमेश साव, संदीप कुमार, अजय लाल, पुरन महतो, संजय कुमार, दीपक साव, मिथलेश कुमार कुशवाहा, शंभु महतो व पोखलाल महतो आदि मौजूद थे।

-

आलू-प्याज सहित बाहर से आने वाले हरी सब्जियां मिलने में होगी परेशानी डेली मार्केट खोलने की मांग को लेकर यदि बुधवार से सब्जी विक्रेताओं ने अपनी दुकानें बंद रखीं तो आलू-प्याज सहित हरी सब्जियां मिलने में शहर के लोगों को परेशानी होगी। ऐसी स्थिति में बुधवार सुबह से ही लोगों को हरी सब्जियों के लाले पड़ जाएंगे। बताया गया कि बरसात के मौसम में रामगढ़ शहर के आसपास के गांव से किसान केवल नेनुआ, झिगी, भिडी आदी ही टोकरी में लेकर बेचने आते हैं। इसके अलावा शहर के बाहर से अन्य हरी सब्जियों को विक्रेता थोक के भाव में खरीदकर खुदरा में बेचते हैं। ऐसी स्थिति में यदि सब्जी विक्रेता अपनी मांगों को लेकर दुकानें बंद करेंगे तो शहर में आलू, प्याज के अलावा टमाटर, परवल, फूलगोभी, बंधागोभी, बीन, बैगन, लौकी सहित अन्य हरी सब्जियां नहीं मिल पाएंगी। हालांकि बाजार समिति के थोक दुकानों में लोगों को आलू-प्याज आदि उपलब्ध हो सकेगा।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.