पतरातू प्रखंड में पंचायतों की संख्या होगी आधी

भदानीनगर(रामगढ़): रामगढ जिले के इतिहास में वर्ष 2018 में नगर परिषद का पहली बार चुनाव हुए।  जबकि अगले बार रामगढ जिला में दो और नगर निकायों के चुनाव होंगे। यह नगर निकाय पतरातू प्रखंड में बनेंगे। इसे लेकर झारखंड सरकार नगर विकास विभाग द्वारा प्रारंभिक स्तर पर प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है। पतरातू प्रखंड के पतरातू और सौन्दा को नगर निकाय बनाया जा रहा है। बनने वाले दोनों नगर निकायों को नगर पंचायत का दर्जा मिलेगा। पतरातू में जहां छह या उससे अधिक पंचायतों को शामिल कर एक नगर निकाय बनाया जाएगा। वहीं सौन्दा सौन्दा डी आदि क्षेत्रों को मिलाकर दूसरा नगर निकाय होगा। इसमें करीब 12 से अधिक पंचायतों के क्षेत्रों को शामिल किया जाएगा।  नगर निकायों का गठन 2011 में जनगणना एवं उसके बाद जनसंख्या के बढोत्तरी दर के आधार पर किया जा रहा है। दो नगर निकायों के गठन एवं चुनाव के बाद पतरातू में पंचायतों की संख्या आधी हो जाएंगी। अभी पतरातू प्रखंड में कुल 42 पंचायतें हैं। इनमें से करीब 21 पंचायतें नगर निकायों में शामिल हो सकती है। इसके बाद नगर निकाय में शामिल होने वाले पंचायतों में मुखिया, पंचायत समिति सदस्य व वार्ड सदस्यो के पद हट जाएंगे। साथ ही दो जिला परिषद सदस्यों की संख्या भी कम हो जाएगी। नगर निकायों में शामिल होने वाले पंचायतों में वर्ष 2020 में पंचायत के चुनाव नहीं होंगे। साथ ही गठन होने वाले नगर निकाय के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और निर्धारित क्षेत्र में वार्ड सदस्यों के चुनाव होंगे।

--

ये पंचायतें नगर निकायों में हो जाएंगे शामिल, पतरातू व सौन्दा बनेगें नगर निकाय 

प्रस्तावित दोनों नगर निकायों में कई पंचायतों को शामिल किया जाएगा। जानकारी के अनुसार प्रारंभिक रूप से 18 से अधिक पंचायतों के शामिल करने की रूपरेखा तैयार की गई है। आपत्ति सहित अन्य प्रक्रियाओं के बाद पंचायतों की संख्या घट-बढ़ भी सकती है। सूत्रों के अनुसार पतरातू नगर निकाय में पतरातू, शाह कॉलोनी, पंचमंदिर, हनुमान गढी, कटिया आदि छह या उससे अधिक पंचायते शामिल होंगी। जबकि सौन्दा नगर निकाय में सौन्दा बस्ती, सौन्दा डी, सेन्ट्रल सौन्दा, सीसीएल सौन्दा, ए के पंचायत, के के पंचायत सयाल पंचायत के क्षेत्र को रखा गया  है। सौन्दा नगर  निकाय में भुरकुंडा, जवाहर नगर, पटेलनगर, रिभर साईड चीफ हाउस, दो तल्ला, इमलीगांछ पंचायतों के क्षेत्र भी शामिल हो सकते हैं । इस नगर निकाय में कोयलांचल के अधिकांश क्षेत्र शामिल हो जाएंगे।

--          

क्या कहते हैं लोग।

फोटो 13- महेंद्र महतो।

पतरातू प्रखंड में दो नगर निकायों के गठन को ले वरिष्ठ भाजपा नेता महेन्द्र महतो का कहना है कि निकायों का गठन बाद बजट बढेगा। ग्राम पंचायतों की अपेक्षा नगर निकायों का विकास का बजट अधिक होता है। इससे सुविधाएं भी बढेगी। लोगों को शहरी क्षेत्रों जैसी साफ सफाई स्वास्थ्य आदि की सुविधाएं मिलेंगी । 

--

फोटो 12-संजय पांडेय।

भुरकुंडा निवासी युवा नेता संजय पांडे ने कहा है कि अभी कई प्रकार के टैक्स नहीं लगते। नगर निकाय बनने से हो¨ल्डग सहित कई टैक्स देने होंगे। हालांकि टैक्स आदि से रहने वाले लोगों को मिलने वाली सुविधाएं भी अभी के मुताबिक अधिक मिलेंगी। 

       

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.