बदले की भावना से हुई है कांग्रेसी नेता कमलेश की हत्या

संवाद सूत्र भुरकुंडा/भदानीनगर (रामगढ़) भुरकुंडा ओपी अंतर्गत सेंट्रल सौंदा में हुई थी।

JagranSun, 17 Oct 2021 08:27 PM (IST)
बदले की भावना से हुई है कांग्रेसी नेता कमलेश की हत्या

संवाद सूत्र, भुरकुंडा/भदानीनगर (रामगढ़): भुरकुंडा ओपी अंतर्गत सेंट्रल सौंदा में कांग्रेस नेता सह सहारा इंडिया के मैनेजर कमलेश नारायण शर्मा की हत्या मामले में पुलिस हत्यारों के तह तक और पर्दाफाश के करीब पहुंच गई है। पतरातू एसडीपीओ ने बताया है कि सोमवार को सुबह 11 बजे प्रेस वार्ता कर इस हत्या का खुलासा और अपराधियो के नाम उजागर करेगी। वहीं इस मामले मे पुलिस अब तक बारह लोगों को हिरासत मे ले चुकी है। इसमें से नौ लोग उसी मुहल्ले के हैं। कमलेश नारायण शर्मा की हत्या के बाद एसपी प्रभात कुमार द्वारा पतरातू एसडीपीओ विरेन्द्र चौधरी के नेतृत्व मे गठित पुलिस टास्क फोर्स ने सेंट्रल सौंदा मे विभिन्न जगहो पर बीती रात छापामारी की है। छापामारी रविवार तक जारी रही। जानकारी के अनुसार पुलिस ने इसी मामले पर रविवार को छह लोगों को हिरासत में लिया है। दूसरी ओर कमलेश शर्मा के घर से मात्र 50 मीटर की दूरी पर रहने वाले छह लोगों को शनिवार को ही हिरासत में लेकर पूछताछ कर चुकी है। पूछताछ मे अपराधियों ने पुलिस को अहम राज उगले हैं। सूत्रों के अनुसार कमलेश की हत्या के पीछे मामला पुरानी रंजीश का सामने आ रहा है। बदले की भावना से हत्या जैसे जघन्य घटना को अंजाम दिया गया है। इसमें से कई लोगो को पुलिस हिरासत में ले चुकी है। यह बदले की भावना कुछ महीने पूर्व बकरी चोरी के आरोप में कुछ लोगों के जेल जाने के बाद उपजी थी। सेंट्रल सौंदा में पुलिस ने कमलेश शर्मा के घर से लेकर काफी दूरी तक सर्च अभियान चलाकर रड बरामद होने की बात भी सामने आ रही है। वहीं हिरासत में लिए गए महावीर चौधरी और उसका बेटा राजन का पहले भी आपराधिक इतिहास रहा है। दोनों ही हत्या के केस में 14 साल की सजा काट चुके हैं। पिछले वर्ष ही जेल से निकले है। सेंट्रल सौंदा मे ही 14 साल पहले सितंबर माह वर्ष 2007 मे सुनील लाला की हत्या में कोर्ट द्वारा सजा दी गई थी। सुनील लाला को फरसा से काटकर हत्या की गई थी। इसी मामले में कोर्ट से दोनों को सजा मिली थी। इधर घटना के दूसरे दिन भी कोयलांचल में लोगों के बीच दहशत देखा जा रहा है । शाम होते ही सन्नाटा पसर जाता है। दूसरी ओर गंभीर रूप से घायल पत्नी चंचला शर्मा की स्थिति रिम्स रांची मे भर्ती है। घटना के बाद रविवार को कमलेश नारायण शर्मा के स्वजन भुरकुंडा ओपी पहुंच पुलिस की कार्रवाई की जानकारी ली और दोषियों व हत्यारों को गिरफ्तार करने और कडी सजा देने मांग की।

जिला से लेकर प्रदेश स्तर तक के नेता रहे है कमलेश कमलेश नारायण शर्मा कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे है। कमलेश शर्मा जिला से लेकर प्रदेश स्तर तक कई अहम पदो पर रहे है। एनएसयूआई के प्रदेश सचिव, युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष, कांग्रेस के जिला महामंत्री और विधायक प्रतिनिधि भी रहे है। इसके अलावा कांग्रेस के ट्रेड यूनियन इंटक मे भी रहे है। दहशत के बीच शोक का माहौल

कांग्रेस नेता कमलेश नारायण शर्मा की हत्या से कोयलांचल मे दहशत देखा जा रहा है। उनकी मौत से लोगो मे शोक का भी माहौल है। शनिवार की रात हुए उनके दाह संस्कार मे बडी संख्या मे लोग शामिल हुए। कमलेश शर्मा की मौत पर सहारा इंडिया के जोनल चीफ सतीश चंद्र सिंह, रीजनल मैनेजर शशि शेखर श्रीवास्तव, दिनेश प्रसाद, बीके मिश्रा, बाबूलाल साहु, संतोष सिन्हा, राकेश ठाकुर, प्रमोद सिन्हा, सतेन्दर यादव, शारदा राम, भीम महतो, सुरेश प्रसाद, अशोक अगवाल, अमर सिंह, जयप्रकाश, संजू मिश्रा, जीतेन्शवर सिंह, अजय सिंह, सूरज कुमार साहू,विनोद सिंह, संजीव कुमार सिंह, दिनेश प्रसाद, प्रमोद साव,सतीश कुमार, संजय रजक, रीमा वर्मा, सुमित कुमार साव, नवरत्न साहू, संजय , सहित खजांची राम, बच्चन पांडे, धनंजय सिंह, राजू पांडे, मुखिया सतेन्दर यादव, अजय पांडे, विनय सिंह, शिवशंकर सिंह, विरेन्द्र पासवान, नारायण शर्मा, राजेश मिश्रा, जीबू सिंह अवतार, विनय पांडे, लंकेश सिंह, सुरेश सिंह, श्रीकांत गुप्ता, भुललू सिन्हा, राजेश सिन्हा, जीतेन्द्र सिंह, शैलेन्द्र सिंह, सिचू सिंह, मुकुल अंजन कुमार, विद्धा सिंह आदि ने शोक प्रकट किया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.