एक घंटे पहले चली गई राजधानी, यात्रियों ने किया हंगामा

लीड------------- बदले रूट से परिचालन के कारण बदल गया है समय नहीं मिली जानकारी संवाद सहय

JagranPublish:Mon, 29 Nov 2021 06:24 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 06:24 PM (IST)
एक घंटे पहले चली गई राजधानी, यात्रियों ने किया हंगामा
एक घंटे पहले चली गई राजधानी, यात्रियों ने किया हंगामा

लीड-------------

बदले रूट से परिचालन के कारण बदल गया है समय, नहीं मिली जानकारी संवाद सहयोगी, मेदिनीनगर (पलामू ) : डालटनगंज रेलवे स्टेशन पर रेल यात्रियों व उनके स्वजनों ने सोमवार की रात जमकर हंगामा किया। कारण था कि रांची से नई दिल्ली जा रही 12453 अप राजधानी एक्सप्रेस के समय में परिवर्तन की जानकारी संबंधित यात्रियों को नहीं थी। इस कारण एक दर्जन यात्रियों की ट्रेन छूट गई। ट्रेन एक घंटे पहले चली गई।

हंगामे से स्टेशन परिसर में अफरा तफरी का माहौल बना रहा। पूरी व्यवस्था ठप नजर आई। कई ट्रेनें फंसी रही। रात 11 बजे स्थिति बिगड़ने पर जिला पुलिस और आरपीएफ ने कार्रवाई करते हुए स्टेशन परिसर से यात्रियों व उनके स्वजनों को बल प्रयोग कर खदेड़ दिया। इस दौरान तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार लोगों में मेदिनीनगर के इंजीनियरिग रोड निवासी प्रदीप उदयपुरी के पुत्र आकाश कुमार उदयपुरी, ललित उदयपुरी के पुत्र राहुल कुमार उदयपुरी व लातेहार जिले के सेमर बरहनी निवासी जेम्स लकड़ा का पुत्र सेना का जवान चंद्रदीप लकड़ा शामिल है। इसमें केवल सेना का जवान ही यात्री है और अन्य दोनों यात्रियों के स्वजन हैं। बता दें कि रांची से दिल्ली जाने वाली राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन अब सप्ताह में रविवार को टोरी लोहरदगा होते हुए चुनार चोपन रूट से किया जा रहा है। नतीजा राजधानी एक्सप्रेस का समय 9 बजकर 40 मिनट से घटाकर 8 बजकर 39 मिनट कर दिया गया है। नए समय की जानकारी नहीं होने की वजह से रविवार को कई यात्री लेट से रेलवे स्टेशन पहुंचे। ट्रेन एक घंटे पहले ही स्टेशन से गुजर चुकी थी।

रेलवे ने कहा, एसएमएस से यात्रियों को दी गई थी जानकारी

स्टेशन प्रबंधक अनिल कुमार ने कहा कि राजधानी एक्सप्रेस में 168 यात्रियों की बोर्डिंग डालटनगंज से थी। 1 घंटे पहले ट्रेन के आने के बाद भी 155 के आसपास यात्री ट्रेन में सवार होकर निकल गए थे। रेलवे की ओर से समय बदलने पर सभी यात्रियों को उनके मोबाइल नंबर पर आईआरसीटीसी से मैसेज चला गया था। लेकिन कुछ यात्रियों के फर्जी नंबर या पता से टिकट बुक होने के कारण या तो उन्हें मैसेज नहीं मिला या फिर मैसेज देख नहीं पाए। हंगामा कर रहे लोगों ने स्टेशन की सारी व्यवस्था को ठप करा दी थी। उन्हें हर संभव समझाने की कोशिश की गई। वे कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थे। उन्होंने आरपीएफ और एसपी चंदन कुमार सिन्हा को इस संबंध में जानकारी दी। रेलवे व जिला पुलिस के बल के मौके पर पहुंचने पर स्थिति को नियंत्रित किया गया।