मुखिया के गोदाम से 1200 पेटी अवैध अंग्रेजी व देसी शराब बरामद

मुखिया के गोदाम से 1200 पेटी अवैध अंग्रेजी व देसी शराब बरामद
Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 07:19 PM (IST) Author: Jagran

संवाद सूत्र, हरिहरगंज (पलामू) : हरिहरगंज थाना पुलिस ने गुरुवार तड़के थाना क्षेत्र के भगत तेदुआ गांव के एक गोदाम से भारी मात्रा में अवैध देसी व अंग्रेजी शराब बरामद किया है। इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। गोदाम मालिक बैलोदर पंचायत का मुखिया उमेश साव व अन्य फरार बताए जा रहे हैं। पुलिस ने बरामद शराब की 12 सौ पेटियों को जब्त कर गोदाम को सील कर दिया गया है। बरामदगी के बाद तरपुर एसडीपीओ शंभू कुमार सिंह ने गोदाम का जायजा लिया। बताया कि शराब की पेटियों भूसे के बोरे के ढेर में छुपाकर रखी गई थी। बरामद शराब में चैंपियन, नाइन बुलेट, ब्लैंडर प्राइड, रायल स्टेज, इंपेरियर ब्लू, किगफिशर व अन्य ब्रांड शामिलल है। गोदाम से एफसीआई का तीन ट्रक चावल भी बरामद किया गया है। बरामद शराब को 6 पिकअप वैन में लादकर थाना लाया गया।

एसडीपीओ ने कहा कि एनएच 98 से सटे भगत तेंदुआ गांव बिहार सीमा से सिर्फ दो किलोमीटर दूर है। आरोपित उमेश साव का नौडीहा बाजार व लठेया में उमेश साव की सरकारी शराब दुकान का ठेका है। मामले में अबतक तीन लोगों की गिरफ्तारी हुई है मुखिया व बोलेरो मालिक और चालक पर कार्रवाई की जा रही है। एक बोलेरो जेएच01 एयू 2196 में भी शराब मिली है।

हरिहरगंज के पुलिस निरीक्षक दीपक कुमार ने बताया कि बुधवार की रात पुलिस अवर निरीक्षक अवधकिशोर पांडेय देर रात्रि गश्ती पर थे। इस क्रम में भगत तेंदूआ के समीप एक बोलेरो चालक ने पुलिस को देखकर वाहन का पीछे ले जाने लगा। पुलिस दल ने तत्काल बोलेरो का पीछा करना शुरू कर दिया। पुलिस को चकमा देकर वाहन एक गोदामनुमा मकान के अंदर चला गया। पुलिस द्वारा काफी प्रयास करने के बाद गोदाम को खोला जा सका। तलाशी के क्रम में वहां भारी मात्रा में शराब पेटियों में बंद मिली । सूचना के बाद थाना से अतिरिक्त पुलिस बल लेकर एसआई इन्द्रदेव राम को मौके पर भेजा गया । मौके से पिपरा के पोलदा निवासी कमलेश कुमार यादव, हरिहरगंज के ममरखा निवासी वकील सिंह व अररूआ कला के नीतीश पासवान को गिरफ्तार किया गया है । पुलिस मुखिया उमेश सावा व बोलेरो चालक को तलाश कर रही है।

बाक्स: बिहार भेजी जाती थी शराब हरिहरगंज: बिहार में शराब पर प्रतिबंध लगाए जाने के बाद सीमावर्ती क्षेत्रों से शराब की तस्करी बड़े पैमाने पर की जाती है। तस्कर शराब की खेंप पहुंचाने को लेकर नए नए तरिके अपनाते रहते है। बुधवार की देर रात बरामद भारी संख्या में अवैध शराब को चावल के बोरे में भर कर बिहार भेजा जाता था।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.