मौसम ने फिर ली करवट, बादल छाए रहने से बढ़ी कनकनी

मौसम ने फिर ली करवट, बादल छाए रहने से बढ़ी कनकनी

जागरण संवाददाता लोहरदगा लोहरदगा जिले में मौसम ने फिर एक बार करवट ली है। मौसम बदलने

Publish Date:Thu, 26 Nov 2020 09:23 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, लोहरदगा : लोहरदगा जिले में मौसम ने फिर एक बार करवट ली है। मौसम बदलने की वजह से लोगों का ठंड से बुरा हाल है। तापमान में फिर एक बार गिरावट आ गई है। लोहरदगा जिले में गुरुवार को अधिकतम तापमान 21.2 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 7.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। दिनभर सूरज बादलों में छुपा रहा। लोगों को कनकनाहट का अहसास हुआ। लोग घर से बाहर निकलने से कतराते नजर आए। लोगों ने अलाव के आसपास रहकर ही दिन गुजारा। ठंड की वजह से लोगों को सबसे अधिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पहाड़ी और ग्रामीण क्षेत्रों में और भी ज्यादा बुरा हाल है। लोग ठंड के कारण घर से बाहर भी नहीं निकल पा रहे हैं। सड़क पर दिन गुजारने वालों और दिहाड़ी मजदूरों के लिए यह ठंड किसी कहर से कम नहीं है। ठंड की वजह से छोटे बच्चों और बीमार लोगों का भी बुरा हाल है। सर्दी, खांसी और बुखार का फिर एक बार प्रभाव नजर आ रहा है। लोग बीमारियों से बचाव को लेकर डाक्टर के पास चिकित्सकीय परामर्श लेने के लिए पहुंच रहे हैं। जिले में मौसम लगातार बदलता रहा है। जिसकी वजह से लोगों को सर्दी का अहसास होने लगा है। ठंड के कारण गरीब और मध्यमवर्गीय परिवारों के लिए परेशानी बढ़ गई है। लोग स्वेटर, मफलर, जैकेट, टोपी आदि पहन कर ही घर से बाहर निकल रहे हैं। ठंड की वजह से लोगों की परेशानी बढ़ चुकी है। लोगों की दैनिक गतिविधि भी प्रभावित होने लगी है। मौसम का यही हाल रहा तो किसानों की परेशानी भी बढ़ जाएगी। किसानों को सब्जियों की खेती और दूसरे फसलों को पाला मारने का डर भी सताने लगा है। मौसम में हो रहे बदलाव की वजह से लोगों को बीमार पड़ने की चिता सता रही है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.