रेल टै्रक पर भरा पानी, ट्रेनों के परिचालन पर असर

तीन दिनों से हुई बारिश ने पिछले कई वर्षों का रिका

JagranSat, 31 Jul 2021 10:13 PM (IST)
रेल टै्रक पर भरा पानी, ट्रेनों के परिचालन पर असर

संवाद सहयोगी, झुमरीतिलैया (कोडरमा): तीन दिनों से हुई बारिश ने पिछले कई वर्षों का रिकार्ड तोड़ दिया है। यह बारिश कई लोगों पर आफत बनकर आई है। आम जनजीवन भी इससे बुरी तरह प्रभावित हुआ है। सबसे ज्यादा असर रेल परिचालन पर पड़ा है। जहां एक ओर कई इलाकों में रेलपटरी पर पानी भर गया तो दूसरी ओर कई इलाकों में जलभराव की समस्या के कारण यहां रहनेवाले लोगों का जीना दूभर हो गया है। कई ट्रेनों को किया गया रद

हावड़ा-दिल्ली ग्रैंडकार्ड सेक्सन पर कोडरमा के रास्ते चलने वाली कई ट्रेनों को रद किया गया है। जबकि कई ट्रेनों के घंटों विलंब से हावड़ा से खुलने की सूचना दी जा रही है। धनबाद के पीआरओ पीके मिश्रा ने बताया की हावड़ा के टिकियापाड़ा में पानी भर जाने की वजह से कई ट्रेनों को रद करना पड़ा है। वहीं कोडरमा गया रेलखंड में भी शुक्रवार की रात्रि कई जगहों पर पेड़ गिरने और ट्रैक पर पानी भर जाने की वजह से यातायात प्रभावित हुआ है। इसी तरह कोडरमा बरकाकाना रेल खंड के पोल संख्या 39 के समीप मालगाड़ी की 14वीं बोगी पर ओवरहेड तार गिरने से रात्रि 1:20 से परिचालन बाधित रहा। बाद में गझंडी से टावर वैगन वाहन भेजा गया और इसके बाद कार्य होने के साथ ही परिचालन सामान्य हुआ। इसी तरह कोडरमा गया रेलखंड के गझंडी व गुरपा में रेल ट्रैक पर पानी भर गया जहां की रेल कर्मियों ने मोटर पंप लगाकर पानी को निकाला। बताया जाता है कि पिछले 20-25 वर्षों में पहली बार गझंडी के ट्रैक पर पानी भरने की घटना हुई है। इसी तरह बसकटवा और पहाड़पुर के बीच ट्रैक पर पेड़ गिरने की वजह से गंगा दामोदर एक्सप्रेस सहित कई माल गाड़ियां प्रभावित हुई है। ट्रेनों के रद्द होने और विलंब से चलने से यात्रियों की परेशानी बढ़ी है।

दो दिनों में धनबाद रेल मंडल में 120 रैक का नहीं हो पाया लोड, 40 करोड़ का हुआ नुकसान

धनबाद रेल मंडल के अंतर्गत विभिन्न कोयला खदानों से कोयला लोडिग के साथ-साथ अन्य सामग्रियों की लोडिग प्रभावित हुई है। जिसकी वजह से बीसीसीएल, एनटीपीसी की ओर से देश के विभिन्न राज्यों में कोयला की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। धनबाद रेल मंडल के वरीय वाणिज्य प्रबंधक अखिलेश पांडे ने बताया कि कोडरमा हजारीबाग रेल खंड एवं धनबाद रेल मंडल के विभिन्न साइडिग से प्रतिदिन लगभग 120 रैक कोयला और अन्य सामग्री लोडिग होती है। 2 दिन में 60-60 ही रैक लोडिग हो पाई है। भारी बारिश की वजह से लोडिग प्रभावित हो रही है। 2 दिनों में रेलवे की लोडिग नहीं होने की वजह से लगभग 40 करोड़ का नुकसान हुआ है। उसके अलावा कई ट्रेनों के रद्द होने और ट्रेन विलंब से चलने की वजह से टिकट रद्द हो रही है। इससे भी लाखों रुपए का नुकसान उठाना पड़ रहा है।

इंदौर-हावड़ा एवं दून रद्द, कई ट्रेनें खुलीं विलंब से

हावड़ा यार्ड में पानी भर जाने की वजह से शनिवार को भी कोडरमा के रास्ते चलने वाली ट्रेनों को रद किया गया है इसमें ट्रेन संख्या 02911 इंदौर हावड़ा एक्सप्रेस और 03010 योग नगरी ऋषिकेश हावड़ा एक्सप्रेस शनिवार की रात्रि नहीं खुलेगी और रविवार को कोडरमा नहीं पहुंचेगी इसी प्रकार शनिवार को खुलने वाली 02301 हावड़ा नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस संध्या 4:50 की बजाए रात्रि 8:30 खुलेगी इसी प्रकार 06511 हावड़ा कालका मेल 9: 55 के बजाय 11:55 पर तथा 03 009 हावड़ा योग नगरी ऋषिकेश स्पेशल 20:25 के बजाए 22:25 पर खुलने की सूचना दी जा रही है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.