top menutop menutop menu

प्रशिक्षण से आत्मनिर्भर बनेंगी गांव की महिलाएं

संवाद सूत्र, सतगावां (कोडरमा): सतगावां प्रखंड के उग्रवाद प्रभावित पंचायत राजावर में शुक्रवार को हजारीबाग 22 वीं वाहिनी केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के दिशा निर्देश पर पुलिसिग सिविक एक्शन 2020-21 के अंतर्गत निश्शुल्क सिलाई प्रशिक्षण का शुभारंभ केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल 22 वी वाहिनी के सहायक समादेष्टा परमजीत कुमार व जी/22 कंपनी कमांडर नरेश कुमार के नेतृत्व में किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बीडीओ सह अंचलाधिकारी बैद्यनाथ उरांव व सीआरपीएफ के सहायक समादेष्टा परमजीत कुमार मुख्य रूप से उपस्थित थे। वहीं उपस्थित महिलाओं को संबोधित करते हुए सहायक समादेष्टा परमजीत कुमार ने कहा कि सभी वर्ग के बच्चियां इसका फायदा उठा सकती हैं। युवतियों को निश्शुल्क सिलाई  प्रशिक्षण दिया जाएगा तथा प्रशिक्षण अवधि पूरा होने पर उन बच्चियों को प्रमाणपत्र दिया जाएगा। बीडीओ बैधनाथ उरांव ने कहा कि सीआरपीएफ द्वारा पिछले कई सालों से सिलाई का प्रशिक्षण कराया जा रहा है। इस महीने में भी बेरोजगार युवतियों को निश्शुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस तरह की कई योजनाएं इस बल द्वारा किया जाता रहा है, ताकि इसका फायदा लेकर बच्चियां आत्मनिर्भर बन सकें। इसके अलावा बीच-बीच में इनके द्वारा आयोजित कार्यक्रम से सुदूरवर्ती क्षेत्रों के बच्चे- बच्चियों में मनोवैज्ञानिक चेतना का भी विकास हो रहा है। नक्सल प्रभावित इलाकों में सीआरपीएफ ना केवल सुरक्षा की भावना पैदा कर रही है, बल्कि शिक्षित युवा युवतियों को प्रशिक्षण करा कर उन्हें जागरूक कर रही है। पूर्व में भी बेरोजगार नवयुवकों के बीच प्रशिक्षण कराकर कई बार ड्राइविग लाइसेंस दिया गया। उन्होंने लोगों के बीच रेडियो वितरण करते हुए कहा कि आज जिस घरों में बिजली व टीवी नहीं है और उन घरवालों को देश व समाज से जुड़ने के लिए रेडियो का वितरण किया गया। वहीं सीआरपीएफ के द्वारा मुर्गापालन हेतु शेड बनाकर और कुछ ग्रामीण इलाकों में जनता को पानी पीने की समस्या हो रही है, उस इलाके में हैण्डपम्प (चापाकल) लगाया गया। साथ ही साथ मेडिकल कैम्प लगाकर मुफ्त में जांच कर इलाज कर दवाइयां दी जाती है। बता दें कि ये इलाका राजावर अति सुदूरवर्ती पिछड़ा इलाका है। मौके पर इंस्पेक्टर सतपाल कुमार, जिला परिषद सदस्य भुनेश्वर राम, मुखिया परमेश्वर शर्मा, बैजंती देवी, तमन्ना खातून, रिकी कुमारी, मुस्कान खातून, सविया प्रवीण,आरती कुमारी, रेणु देवी, पूजा कुमारी, गायत्री देवी,ललिता कुमारी,रीता देवी, सुषमा कुमारी के अलावा सीआरपीएफ जी/22 एफ/22 वी वाहिनी के जवान सहित काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे। वहीं दूसरी तरफ राजाबर पंचायत के ही जेठहाडीह में भी सीआरपीएफ के द्वारा भी ग्रामीणों के बीच सीआरपीएफ द्वारा रेडियो व मच्छरदानी वितरण किया गया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.