दूसरे दिन भी न्यायिक कार्यों से अलग रहे अधिवक्ता

संवाद सहयोगी कोडरमा जिले के अधिवक्ता संघ के द्वारा दूसरे दिन भी अनिश्चितकालीन धरना जारी र

JagranPublish:Mon, 29 Nov 2021 06:36 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 06:36 PM (IST)
दूसरे दिन भी न्यायिक कार्यों से अलग रहे अधिवक्ता
दूसरे दिन भी न्यायिक कार्यों से अलग रहे अधिवक्ता

संवाद सहयोगी, कोडरमा: जिले के अधिवक्ता संघ के द्वारा दूसरे दिन भी अनिश्चितकालीन धरना जारी रहा इस दौरान सभी अधिवक्ता न्यायिक कार्यो से अलग रहे। मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को व्यवहार न्यायालय गेट के पास धरने पर बैठे अधिवक्ताओं से बातचीत करने एसडीजेएम रोहित कुमार और मुंसिफ गौरव खुराना पहुंचे थे, पर बात नहीं बनी। इस बाबत संघ के सचिव मनीष कुमार सिंह ने कहा कि अधिवक्ता संघ का धरना जारी है। इस दौरान संघ के द्वारा जेनरल मीटिग की गई।

मीटिग के दौरान निर्णय लिया गया कि पीडीजे वीरेंद्र कुमार तिवारी के तबादले तक आंदोलन जारी रहेगा और सभी अधिवक्ता न्यायिक कार्यों से पूरी तरह अलग रहेंगे। लोगों ने कहा कि इन दिनों कई कारणों से बार और बेंच के संबंध अच्छे नहीं रह रहे हैं। ज्ञात हो कि शनिवार की सुबह अधिवक्ताओं को न्यायालय के सुरक्षाकर्मी द्वारा ऊपरी आदेश बताकर कार्यावधि में अधिवक्ताओं को न्यायालय में प्रवेश से रोक दिया गया था। इस रवैये से अधिवक्ता उग्र हो गए और व्यवहार न्यायालय के मेन गेट पर ही धरने पर बैठ गए। अधिवक्ता पीडीजे के तबादले की मांग कर रहे हैं। मौके पर उपाध्यक्ष धीरज जोशी, सचिव मनीष सिंह, कोषाध्यक्ष मोती लाल, अधिवक्ता रितम कुमारी, कुमार रौशन, रामलखन सिंह, प्रशांत यादव, केपी सिंह, चंदन पांडेय, अशोक सिंह, देवेंद्र सेठ, ज्ञानरंजन, संजय श्रीवास्तव, शंकर सिंह, अरुण सिंह, नुमानुल ह़क, आमिर निजामी, दिनेश सिंह, जितेंद्र कुमार, दीपक कुमार, बाबूलाल राणा, अनवर हुसैन सहित काफी संख्या में अधिवक्ता उपस्थित थे।

इधर, अधिवक्ताओं के कार्य बहिष्कार से मुवक्किलों को परेशानी उठानी पड रही है। कुछेक मामलों में कैदियों की रिहाई रुक गई है। इसके अलावा भी मुवक्किलों का कई जरूरी काम नहीं हो पा रहा है।