उत्पादक समूहों की सहभागिता बढ़ाने की जरूरत : डीपीएम

उत्पादक समूहों की सहभागिता बढ़ाने की जरूरत : डीपीएम
Publish Date:Mon, 28 Sep 2020 08:11 PM (IST) Author: Jagran

खूंटी : जेएसएलपीएस की जोहार ेपरियोजना के तहत सरजोम्बा एग्री प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड की पहली वार्षिक आमसभा का आयोजन सोमवार को तोरपा रोड पर स्थित सलेश्वरी सेवा भवन में किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत जेएसएलपीएस के डीपीएम शैलेश रंजन, परियोजना समन्वयक मिथलेश सिंह व कंपनी के बोर्ड सदस्यों ने दीप प्रज्ज्वलित कर की। कंपनी की चेयरपर्सन वंदना पूर्ति ने उपस्थित हितधारकों के समक्ष कंपनी की वार्षिक प्रगति का ब्योरा रखा। खूंटी व मुरहू प्रखंड के महिला उत्पादक समूहों के संयुक्त प्रयासों से निर्मित इस कंपनी ने अब तक कुल 42,41,855 रुपये का लेनदेन किया है। आगामी वर्ष के लिए कुल लेनदेन का लक्ष्य दो करोड़ रखा गया है। साथ ही इस वित्तीय वर्ष में 5500 नए हितधारकों को कंपनी से जोड़ने, एक एग्रीबिजनेस मार्ट खोलने, मत्स्यपालन, वनोपज, मुर्गीपालन व उन्नत सब्जी की खेती की योजना बनाई गई। इस दौरान डीपीएम ने आय की बढ़ोतरी पर ध्यान देने, आगामी पांच वर्षों के लक्ष्य को निर्धारित करने, उत्पादक समूहों की सहभागिता बढ़ाने व नए बाजार के अवसर तलाशने पर जोर दिया। उन्होंने महिला समूहों द्वारा उत्पादित पदार्थों को पहचान दे रहे पलाश ब्रांड के संबंध में भी चर्चा की। महिला सशक्तीकरण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से आयोजित इस कार्यक्रम में पंकज कुमार, जुहा हांसदा, प्रीति, रवि, गायत्री एवं सरिता सहित अन्य उपस्थित थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.