पीएलएफआइ का सक्रिय सदस्य मंगरू गिरफ्तार, जेल

जिला पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापामारी कर गुरुवार को एक उग्रवादी धराया।

JagranFri, 03 Dec 2021 12:38 AM (IST)
पीएलएफआइ का सक्रिय सदस्य मंगरू गिरफ्तार, जेल

जागरण संवाददाता, खूंटी : जिला पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापामारी कर गुरुवार को प्रतिबंधित संगठन पीएलएफआइ सुप्रीमो दिनेश गोप दस्ता का सक्रिय सदस्य 19 वर्षीय मंगरू होरो उर्फ बांगुड होरो को गिरफ्तार किया है। इसकी जानकारी देते हुए जिला पुलिस अधीक्षक आशुतोष शेखर ने बताया कि उन्हें मंगरू उर्फ बांगुड होरो के अपने घर जरियागढ़ थाना क्षेत्र के बकसपुर साके टोली आने की सूचना मिली थी। सूचना पर आवश्यक कार्रवाई करते हुए उन्होंने तोरपा के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ओमप्रकाश तिवारी और तोरपा अंचल के पुलिस निरीक्षक दिग्विजय सिंह के नेतृत्व में छापामारी टीम का गठन कर अविलंब छापामारी करने का निर्देश दिया। गठित छापामारी दल ने छापामारी कर मंगरू होरो उर्फ बांगुड होरो उसके घर बकसपुर साके टोली से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार मंगरू होरो उर्फ बांगुड होरो ने पूछताछ के क्रम में पुलिस को कई नक्सली घटनाओं में अपनी संलिप्तता स्वीकार किया गया और अपने सहयोगियों के नाम भी बताया।

--

गुदड़ी व रनिया थाना में दर्ज है पांच मामले

गिरफ्तार पीएलएफआइ के सक्रिय सदस्य का पुराना अपराधिक इतिहास रहा है। उसके खिलाफ रनिया व गुदड़ी थाना में आ‌र्म्स एक्ट, 10/13 यूएपी, 17 सीएलए एक्ट समेत भादवी की अन्य कई धाराओं के तहत पांच मामले लंबित है। पुलिस अधीक्षक आशुतोष शेखर ने बताया कि मंगरू उर्फ बांगुड के खिलाफ रनिया थाना में इसी वर्ष दो मामले दर्ज किए गए है। वहीं गुदड़ी थाना में वर्ष 2020 में एक और 2021 में दो मामला दर्ज किया गया है। छापामारी दल में तोरपा के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ओमप्रकाश तिवारी, तोरपा अंचन के पुलिस निरीक्षक दिग्विजय सिंह, रनिया थाना के पुअनि जितेंद्र कुमार यादव, जरियागढ़ थाना के पुअनि उतम कुमार व सुनील कुमार मेहता, तोरपा थाना के पुअनि महती बोयपाई समेत पुलिस के सशस्त्र बल के जवान शामिल थे। पीएलएफआइ उग्रवादियों ने लाठी-डंडे से पीट-पीटकर एक को मार डाला

संवाद सूत्र, अड़की (खूंटी) : खूंटी जिला अंतर्गत अड़की थाना क्षेत्र घोर उग्रवादग्रस्त दक्षिणी अड़की के कोचांग पंचायत अंतर्गत नारंगा में प्रतिबंधित संगठन पीएलएफआइ के सब जोनल कमांडर लाका पहान के दस्ते ने नारंगा निवासी 55 वर्षीय मार्टीन सोय की लाठी-डंडे से पीट-पीट कर हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि उग्रवादी दस्ते ने पुलिस मुखबिरी के आरोप में इस घटना को अंजाम दिया है। घटना की जानकारी पुलिस को दूसरे दिन मिली। जानकारी मिलने के बाद अड़की थाना प्रभारी पंकज कुमार दास पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और आवश्यक छानबीन कर शव को कब्जे में लिया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद स्वजनों को सौंप दिया है।

इस संबंध में अड़की थाना प्रभारी पंकज कुमार दास ने बताया कि लाका पाहन अपने दस्ते के साथ नारंगा पहुंचकर इस घटना को अंजाम दिया है। वहीं उग्रवादियों ने एक महिला के साथ भी मारपीट किया है। जिसका इलाज खूंटी में चल रहा है। थाना प्रभारी ने बताया कि उग्रवादी दस्ते के सदस्यों ने एक मोटरसाईकिल को भी आग के हवाले कर दिया। जानकारी के अनुसार प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीएलएफआइ दस्ते के सबजोनल कमांडर लाका पहान का दस्ता मृतक के पुत्र को ढुंढ रहा था। मौके पर उसके नहीं मिलने के बाद उसके पिता को ही लाठी-डंडे से तबतक मारते रहे जबतक उसकी मृत्यु ना हुई। अड़की थाना की पुलिस मामले छानबीन में जुटी है। पुलिस इस हत्याकांड के सभी पहलुओं पर जांच कर रही है। थाना प्रभारी ने कहा कि हत्या का मामला कहीं आपसी रंजिश का तो नहीं है। उन्होंने कहा कि पुलिस मामले में शामिल सभी आरोपितों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.