पहुंची चार सदस्यीय नैक की टीम, बिरसा कालेज में पहली बार हो रहा मूल्यांकन

जिला के एकमात्र अंगीभूत बिरसा कॉलेज के स्थापना के छह दशक बाद पहली बार नैक टीम द्वारा मूल्यांकन किया जा रहा है। कालेज के मूल्यांकन के लिए नैक के चार सदस्यीय टीम शुक्रवार को कालेज पहुंची।

JagranFri, 30 Jul 2021 11:09 PM (IST)
पहुंची चार सदस्यीय नैक की टीम, बिरसा कालेज में पहली बार हो रहा मूल्यांकन

खूंटी : जिला के एकमात्र अंगीभूत बिरसा कॉलेज के स्थापना के छह दशक बाद पहली बार नैक टीम द्वारा मूल्यांकन किया जा रहा है। कालेज के मूल्यांकन के लिए नैक के चार सदस्यीय टीम शुक्रवार को कालेज ेपहुंची। अनवरत बारिश के बीच सुबह नैक की टीम जब कालेज पहुंची तो कॉलेज परिवार द्वारा पारंपरिक ढंग से टीम में शामिल सदस्यों का स्वागत किया गया। प्रथम दिन टीम के सदस्यों ने दिनभर कॉलेज में रहकर सभी विभागों के अद्यतन स्थिति, आधारभूत संरचनाओं व अन्य आवश्यक व्यवस्थाओं का बारीकी से जायजा लिया।

बिरसा कालेज के 59 साल के इतिहास में पहली बार नैक की टीम बिरसा कॉलेज खूंटी पहुंची थी। बिरसा कॉलेज की को-ऑर्डिनेटर जया भारती कुजूर की अगुवाई में टीम के सामने अलग-अलग प्रेजेंटेशन के माध्यम से सभी विषयों के शिक्षकों ने कालेज के बारे में विस्तार से बताया। इस दौरान नैक के सदस्यों ने सभी प्रैक्टिकल विषयों सहित हर विभाग का निरीक्षण किया।

सदस्यों ने छात्रों से विभिन्न प्रकार के सवाल पूछे। पूर्ववर्ती छात्रों और अभिभावकों से भी टीम मिली और उनसे विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। दिनभर के व्यस्त कार्यक्रम के बाद शाम में कालेज के छात्रों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया। ज्ञात हो कि इस कार्यक्रम के लिए कॉलेज पिछले दो साल से लगातार प्रयास कर रही थी और कालेज में हर प्रकार के सुधार में लगी हुई थी। नैक की टीम से यदि कालेज को अच्छा ग्रेड मिलता है, तो भविष्य में कालेज को लगभग सभी प्रकार की समस्याओं के समाधान के लिए यूजीसी से फंड आदि उपलब्ध हो सकेगा। विभिन्न प्रकार के कोर्स भी कालेज में शुरू हो पाएगा। नैक की टीम शनिवार को भी कालेज का मूल्यांकन करेगी।

---

पूर्ववर्ती छात्रों ने बताया इतिहास

पूर्व विद्यार्थियों की ओर से ज्योतिष भगत ने अंग्रेजों के विरुद्ध उलगुलान का बिगुल फूंकने वाले अमर शहीद बिरसा मुंडा की पावन धरती पर छह दशक पूर्व उनके नाम पर स्थापित कालेज के इतिहास पर विस्तार से बताया। वहीं शिक्षक अश्विनी कुमार मिश्रा ने कालेज की उपलब्धियों व वर्तमान स्थिति पर जानकारी देते हुए कहा कि महाविद्यालय के रूप में अपेक्षाकृत आधारभूत संरचनाओं की कमी के बावजूद इस कालेज से शिक्षा प्राप्त करने वाले अनेक विद्यार्थी पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी, डॉक्टर, इंजीनियर, सेना के अधिकारी आदि बनकर प्रदेश व देश के विभिन्न क्षेत्रों में अपनी सेवा प्रदान कर रहे हैं। इसके अतिरिक्त इस कालेज ने लोकसभा का उपाध्यक्ष और अनेक अंतरराष्ट्रीय हाकी खिलाड़ी भी देश को दिया है। उन्होंने टीम के सदस्यों से आग्रह किया कि कॉलेज को बेहतर रैंक प्रदान किया जाए जिससे कालेज का द्रुतगति से विकास हो सके। कालेज के पूर्ववर्ती छात्र वर्तमान में नामकुम प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी ज्ञान शंकर जायसवाल ने भी कॉलेज के संबंध में अपना विचार व्यक्त किया और कहा कि नैक से अच्छी रैंक मिलने पर निश्चित ही कॉलेज का विकास होगा, जिसका लाभ आदिवासी बहुल खूंटी जिला के हजारों विद्यार्थियों को मिलेगा। इसके अतिरिक्त प्रमुख रुकमिला सारू सहित अन्य लोगों ने भी अपने विचार व्यक्त किए। मौके पर पूर्व छात्रों में टाटीसिल्वे डीएसपी मनोज कुमार महतो, गणित में गोल्ड मेडलिस्ट रही तनु कुमारी, शिक्षक अजय राम, जिला बस एसोसिएशन के अरुण साबू, कराटे के कोच व रैफरी एजाज अस्दक सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

उल्लेखनीय है कि पहली बार नैक द्वारा कॉलेज का मूल्यांकन किए जाने से कॉलेज के अध्यापकों, छात्र छात्राओं सहित अन्य प्रबुद्ध नागरिकों में खुशी व्याप्त है। सांसद सह केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा के प्रतिनिधि मनोज कुमार टीम से मिलने पहुंचे और भेंट देकर स्वागत किया और आभार व्यक्त किया। मूल्यांकन के लिए आए नैक की टीम को संतुष्ट कर कॉलेज को अच्छा रैंक प्राप्त हो सके इसे लेकर पिछले कई दिनों से तैयारियां की जा रही थी। छात्र संघ के नेता सौरव कुमार साहू के नेतृत्व में कॉलेज के अनेक विद्यार्थियों ने कॉलेज की साफ सफाई कर उसकी दशा सुधारने में अपना सक्रिय योगदान दिया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.