जमशेदपुर के बागबेड़ा में युवक ने की खुदकुशी, सीतारामडेरा में महिला की मौत Jamshedpur News

पढिए जमशेदपुर की अपराध की छोटी-बड़ी खबरें ।

Jamshedpur Crime News. बागबेड़ा थाना क्षेत्र के सीपी टोला निवासी आशीष प्रधान ने ओढ़नी के सहारे फांसी लगा खुदकुशी कर ली। वह मोबाइल दुकान में काम करता था। खुदकुशी के कारण पर स्वजनों ने अनभिज्ञता जाहिर की है।

Publish Date:Tue, 12 Jan 2021 05:43 PM (IST) Author: Rakesh Ranjan

जमशेदपुर, जासं।  बागबेड़ा थाना क्षेत्र के सीपी टोला निवासी आशीष प्रधान ने ओढ़नी के सहारे फांसी लगा खुदकुशी कर ली। वह मोबाइल दुकान में काम करता था। खुदकुशी के कारण पर स्वजनों ने अनभिज्ञता जाहिर की है।

बागबेड़ा थाना की पुलिस को स्वजनों ने बताया कि सोमवार रात दुकान से आशीष घर लौटा। खाना खाने के बाद सोने चला गया। मंगलवार सुबह देर तक जब वह कमरे से बाहर नहीं निकला तो कुछ शंका हुई। दरवाजा खटखटाया, लेकिन कोई आवाज नहीं आई। इसके बाद दरवाजा तोड़ा गया। शव फंदे से लटका पाया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई।

 पिटाई से आक्रोशित नशेड़ी ने ब्लेड से किया युवक को घायल

साकची बाजार चौधरी बिल्डिंग के पास एक नशेड़ी की लोगों ने पिटाई कर दी। वह विरोध करता रहा। बचने कर भागने की कोशिश करता रहा, लेकिन लोगों ने उसे नहीं छोड़ा। बचाव में नशेड़ी ने ब्लेड निकाल लिया और लोगों पर चलाने लगा। इस दरम्यान एक युवक ब्लेड लगने के कारण घायल हो गया। पुलिस मौके पर पहुंची। नशेड़ी को पकड़कर थाना ले गई। उसके पास से डेंटराइट पुलिस ने बरामद किए। उसने अपना नाम अभिषेक बताया। कहा कि वह कागज चुनने का कार्य करता है। वह चौधरी बिल्डिंग के पास कागज चुन रहा था। लोगों ने उसे पकड़कर पिटाई कर दी तो उसने बचाव में ब्लेड से प्रहार कर दिया।

सीतारामडेरा की महिला की मौत

सीतारामडेरा थाना क्षेत्र निवासी महिला पार्वती देवी की टाट मुख्य अस्पताल में मौत हो गई। सात जनवरी को वह अपने घर में आग तापने में झुलस गई थी। उसे टीएमएच में स्वजनों ने दाखिल कराया था। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया। थाना में अस्वाभाविक मौत की प्राथमिकी दर्ज की गई है।

मानगो के वृद्ध की मौत

मानगो मुंशी मुहल्ला निवासी सुजीत चौहान की एमजीएम अस्पताल में मौत हो गई। मंगलवार सुबह मानगो डिमना रोड आठ बजे सड़क पर गिरे पड़े थे। लोगों ने अस्पताल में दाखिल कराया जहां मौत हो गई। मृतक की पत्नी और बच्चे उलीडीह मून सिटी में रहते हैं। मृतक परिवार से अलग रहते थे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.