महिलाओं ने की बीडीओ से की मांग, नूतन तालाब की कराएं सफाई

नरसिंहगढ़ गांव के नूतन पोखर तालाब गंदगी भरी पड़ी है। तालाब का पानी उपयोग करने लायक नहीं है। पानी से दुर्गंध आ रहा है। तालाब में शैवाल व कचरा सड़ने से लोग चर्म रोग से ग्रसित हो रहे हैं। इस समस्या के समाधान के लिए मंगलावर को स्थानीय लोगों ने तालाब के किनारे खड़ा होकर सफाई की मांग की और बीडीओ के नाम ज्ञापन सौंपा..

JagranWed, 25 Nov 2020 05:35 AM (IST)
महिलाओं ने की बीडीओ से की मांग, नूतन तालाब की कराएं सफाई

संसू, धालभूमगढ़ : नरसिंहगढ़ गांव के नूतन पोखर तालाब गंदगी भरी पड़ी है। तालाब का पानी उपयोग करने लायक नहीं है। पानी से दुर्गंध आ रहा है। तालाब में शैवाल व कचरा सड़ने से लोग चर्म रोग से ग्रसित हो रहे हैं। इस समस्या के समाधान के लिए मंगलावर को स्थानीय लोगों ने तालाब के किनारे खड़ा होकर सफाई की मांग की और बीडीओ के नाम ज्ञापन सौंपा। पंचायत समिति सदस्य रत्ना मिश्रा के नेतृत्व में बेहरा टोला के ग्रामीणों ने एकजुट होकर अपनी मांग रखी। ग्रामीणों ने बताया कि बाजार व होटलों का कचरा तालाब में गिरा दिया जाता है, जो सड़ रहा है। स्थिति यह है कि तालाब में स्नान करने पर पूरे शरीर में खुजली होती है। तालाब का पानी भी घरों में उपयोग करने लायक नहीं रहा। स्थानीय ग्रामीण स्नान करने के साथ-साथ कपड़े की धुलाई व मवेशियों के लिए तालाब का उपयोग करते हैं। सरकार की ओर से मत्स्य पालन भी किया जा रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि तालाब का पानी उपयोग के लायक नहीं है। पंसस रत्ना मिश्रा ने बीडीओ से मांग करते हुए कहा कि तालाब के पानी की जांच कराई जाए। मौके पर वार्ड सदस्य सुमित्रा बेहरा, सुषमा बेहरा, ज्योत्सना बेहरा, बेवी बेहरा, नियति बेहरा, सपना बेहरा समेत काफी संख्या में लोग उपस्थित थे। बीडीओ शालिनी खलखो ने बताया कि तालाब का पानी पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के पास जांच के लिए भेजा जाएगा। जांच रिपोर्ट आने के बाद संबंधित विभागीय पदाधिकारी को इस मामले के समाधान के लिए भेजा जाएगा। यदि तालाब में मत्स्य पालन होता है तो मत्स्य विभाग को भी इस संबंध में कार्रवाई करनी चाहिए, ताकि तालाब का पानी गंदा ना हो।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.