कोरोना को भगाने के लिए VHP के कार्यकर्ता 20 मई को स्तोत्र पाठ व मंत्रोच्चार के साथ करेंगे अनुष्ठान

विश्व हिंदू परिषद के सभी कार्यकर्ता 20 मई को मंत्रोचार के साथ अनुष्ठान करेंगे।

विश्व हिंदू परिषद के सभी कार्यकर्ता 20 मई को अपने-अपने घरों में मंत्रोचार के साथ अनुष्ठान करेंगे ताकि ईश्वर की अनुकंपा से विश्व में फैली कोरोना महामारी खत्म हो और लोगों के बीच में इस महामारी से व्याप्य भय खत्म हो सके।

Rakesh RanjanTue, 18 May 2021 01:35 PM (IST)

जमशेदपुर, जासं। संपूर्ण विश्व में, विशेषकर भारत में कोरोना महामारी का प्रकोप सभी अनुभव कर रहे हैं। विश्व के सभी देश, अपनी केंद्र सरकार, राज्य सरकारें, अनेक संगठन, वैज्ञानिक, डाक्टर, कर्मचारी, समाजसेवी, व्यवहारिक धरातल पर इसके लिए उपाय ढूंढने का पूर्ण प्रयास भी कर रहे हैं। 

इसमें विश्व हिंदू परिषद के सभी कार्यकर्ता 20 मई को अपने-अपने घरों में मंत्रोचार के साथ अनुष्ठान करेंगे, ताकि ईश्वर की अनुकंपा से विश्व में फैली कोरोना महामारी खत्म हो और लोगों के बीच में इस महामारी से व्याप्य भय खत्म हो सके। अध्यात्मिक दृष्टि से भी कुछ लोग सहायता का प्रयास कर रहे हैं। विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं का यह मत है ऐसा कोई अध्यात्मिक अनुष्ठान हमारे माध्यम से भी हो। इसलिए अपने देश की विविधता को ध्यान में रखकर यह आह्वान विश्व हिंदू परिषद ने किया है कि 20 मई (वैशाख शुक्ल अष्टमी, विक्रम संवत् 2078) को हर एक व्यक्ति, अकेले या परिवार के साथ या सामूहिक रीति से (कोरोना के कारण कम संख्या तथा शारीरिक दूरी रखते हुए), अपनी रुचि-प्रकृति-परंपरा के अनुसार स्तोत्र पाठ या मंत्रजाप का अनुष्ठान करें। इसके लिए हिंदी व संस्कृत में संकल्प दिया गया है। सुविधानुसार लोग स्थानीय भाषा में इसका भाषांतर कर सकते हैं। जमशेदपुर महानगर के मंत्री जनार्दन पांडेय ने बताया कि इसके लिए संकल्प व स्तोत्र का प्रचार किया जा रहा है, ताकि समय रहते सभी को इसकी जानकारी मिल सके।

संकल्प के दो मुख्य बिंदु हैं

1 कोरोना से जो मृत्यु को प्राप्त हुए उनकी सद्गति के लिए प्रार्थना

2 कोरोना महामारी का नाश।

शुचिर्भूत होकर (पवित्र), अपने इष्टदेवता का स्मरण करते हुए, विश्व कल्याण का भाव हृदय में धारण कर, यह अनुष्ठान सब संकल्पपूर्वक करेंगे।

संस्कृत में संकल्प

ॐ अद्य विक्रमशके वौद्धावतारे भारतवर्षे वर्तमाने 2078 आनन्द संवत्सरे अस्मिन स्थाने वैशाखे मासे शुक्ले पक्षे अष्टम्यां तिथौ गुरूवासरे कोरोना महामारिम् द्वारा कालग्रासित जनाः सद्गति प्राप्त हेतुं च महामारी शमन निमित्तक विश्व कल्याणर्थं नानानाम् गोत्रेभ्यो जनेभ्यो स्वः इष्ट मंत्रस्य तथा संख्यक यथा काल पर्यतं जपं/हवनं वयं करिष्याम।

हिंदी में संकल्प

ॐ आज विक्रम शक 2078 नाम आनंद संवत्सर वैशाख मास शुक्ल पक्ष अष्टमी तदुपरांत अष्टमी तिथि गुरुवार को भारतवर्ष के इस पावन भूमि पर कोरोना महामारी से मृत्यु प्राप्त लोगों के सद्गति एवं विश्व कल्याण निमित्त वैश्विक महामारी नाश हेतु हम अपने अपने इष्ट मंत्र से यथा संख्यक यथा समय हवन व पूजन करूंगा/ करूंगी।

विश्व हिंदू परिषद के जमशेदपुर महानगर के मंत्री जनार्दन पांडेय।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.