Vendor Meet: ट्राइबल इंडियन चेंबर ऑफ कॉमर्स करेगा वेंडर डेवलपमेंट मीट का आयोजन

ट्राइबल इंडियन चेंबर ऑफ कॉमर्स दो दिवसीय मीट आयोजित करेगा।

Vendor Development Meet. आदिवासी युवाओं को उद्यमिता की ओर जागरूक करने और निजी कंपनियों में निकलने वाले टेंडर प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी देने के लिए वेंडर डेवलपमेंट मीट होगा। ट्राइबल इंडियन चेंबर ऑफ कॉमर्स की ओर से इस दो दिवसीय मीट की तैयारी की जा रही है ।

Rakesh RanjanFri, 12 Feb 2021 04:14 PM (IST)

जमशेदपुर, जासं। आदिवासी युवाओं को उद्यमिता की ओर जागरूक करने और निजी कंपनियों में निकलने वाले टेंडर प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी देने के लिए वेंडर डेवलपमेंट मीट होगा। ट्राइबल इंडियन चेंबर ऑफ कॉमर्स की ओर से इस दो दिवसीय मीट की तैयारी की जा रही है ताकि अधिक से अधिक आदिवासी युवाओं को उधमिता की ओर जोड़ा जा सके। इस वेंडर मीट में 15 निजी कंपनियां शामिल होंगे।

शुक्रवार को ट्राईबल इंडियन चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री और नेशनल एससी एसटी हब एमएसएमई मंत्रालय भारत सरकार, रांची के सहयोग से ट्राईबल कल्चर सेंटर, सोनारी में एक दिवसीय उधम रजिस्ट्रेशन एवं जेम रजिस्ट्रेशन कैंप का आयोजन किया गया l जिसमे वेंडर डेवलपमेंट मीट की जानकारी देते हुए चेम्बर अध्यक्ष वैधनाथ मार्डी ने यह जानकारी दी। कार्यक्रम में नेशनल एससी एसटी हब, रांची कार्यालय से तकनीकी विशेषज्ञ पुष्पक प्रिंस एवं अधिकारी प्रिंस राहुल के अलावा टिक्की से प्रदेश अध्यक्ष बैद्यनाथ मांडी एवं काफी संख्या में सदस्यगण मौजूद थे l

20 नए उद्यमियों ने पंजीकृत कराया

कैंप में तकरीबन 20 नए उद्यमियों ने अपना फर्म को पंजीकृत कराया l वही, वैधनाथ मांडी ने कहा कि आज पूरे देश में अलग-अलग राज्यों में हमारे आदिवासी समुदाय के युवा व्यापार के क्षेत्र में तेजी से कदम रख रहे हैं और केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार की योजनाओं से लाभान्वित भी हो रहे हैं। इसके बावजूद सरकार की नीतियों में खामी होने के कारण समुचित लाभ नहीं मिल पा रहा है l उन्होंने कहा कि ट्राइबल चेंबर सरकार के साथ मिलकर विद्यमान योजनाओं को आदिवासी उद्यमियों के अनुकूल बनाने का काम कर रही है ताकि ज्यादा से ज्यादा आदिवासी युवा व्यापार के क्षेत्र में आसानी से कदम रख सके l उन्होंने कहा कि ट्राईबल चेंबर ने राज्य सरकार के समक्ष कई मांगे रखी है ताकि उधमिता को आसान बनाया जा सके। इस पर राज्य सरकार ने भी तत्परता दिखाई है। बीते दिनों रांची में हुए महुआ सम्मेलन पर प्रकाश देते हुए कहा कि राज्य सरकार महुआ पर नीति और कानून बनाती है तो निश्चित ही पूरे राज्य में महिलाओं का उद्यमिता हब तैयार होगा। ये रहे मौजूद

जिसमें निजी क्षेत्र कार्यक्रम में मुख्य रूप से विवेक मिंज, शेखर करुआ, जोसेफ काडेरं, सुरेश बिरवा, सुखराम टुडू, सुरेंद्र टुडू, राज माल मारडी, रंजन माडी, मंगल माझी अंजनी एक्का, संतोष सरदार,मनोज सरदार, माथुर मुर्मू इत्यादि उपस्थित थे l

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.