दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

अजीबोगरीब मामला : पति ने ही पत्नी के शव को नदी में बहा दिया ताकि बेटे की शादी नहीं रुके

पति ने ही पत्नी के शव को नदी में बहा दिया ताकि बेटे की शादी नहीं रुके

शहर के सोनारी से सटे चांडिल के कपाली थाना क्षेत्र दोमुहानी बस्ती में अजीबो-गरीब मामला सामने आया जिसको लेकर पुलिस भी परेशान रही। दरअसल कपाली दाेमुहानी सुवर्णरेखा नदी से 60 वर्षीय महिला का शव गुरुवार को उसके भाई की शिकायत पर बरामद किया।

Jitendra SinghThu, 13 May 2021 10:24 PM (IST)

जमशेदपुर : शहर के सोनारी से सटे चांडिल के कपाली थाना क्षेत्र दोमुहानी बस्ती में अजीबो-गरीब मामला सामने आया जिसको लेकर पुलिस भी परेशान रही। दरअसल कपाली दाेमुहानी सुवर्णरेखा नदी से 60 वर्षीय महिला का शव गुरुवार को उसके भाई की शिकायत पर बरामद किया। शव स्थानीय निवासी गामा सिंह की पत्नी डोमना सिंह की थी। पुलिस ने गामा सिंह को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ करना शुरू किया तो उसने तुरंत ही सच उगल दिया। उसकी कहानी सुन पुलिस भी हतप्रभ रह गई। गामा ने बताया कि पत्नी काफी दिनों से बीमार थी। पिछले कई दिनों से बीमार चल रही पत्नी ने गुरुवार को अंतिम सांस ली। पत्नी के शव को खाट में बांधकर नदीं में बहा दिया। पत्नी काफी दिनों से बीमार थी। 

आठ को बेटे की तिलक थी, सात मई को मां चल बसी

गामा के बेटे का तिलक आठ मई को था। सात मई की रात को पत्नी की मौत हो गई। बेटे की शादी में कोई रुकावट नहीं हो इसलिए उसने खाट समेत पत्नी के शव को नदी में बेटों की मदद से बहा दिया। खाट में पत्थर भी बांध दिया ताकि शव उफन कर बाहर नहीं आ जाए। अगर शव का अंतिम संस्कार करता तो शादी रोकनी पड़ती। 12 मई को बेटे का विवाह हो गया। विवाह के बाद शव को सामाजिक रीति-रिवाज अनुसार दफना देता। उससे यही गलती हुई कि उसने शव को नहीं दफनाया। इस बीच मृतका का भाई अनिल उर्फ नरायण तांती सरायकेला-खरसावां जिले के राजनगर के रोला से शादी की पार्टी में शामिल होने को पहुंचा। उसे जानकारी हुई कि बहन की मौत हो गई है। उसने अपने जीजा गामा सिंह से पूछा कि शव कहां दफनाया तो बताया कि शव को नदी में फेंक दिया। उसने बहन की संदेहास्पद मौत बताते हुए थाना में जीजा और भांजों के खिलाफ शिकायत दी।

पुलिस ने गामा सिंह और उसके दोनों बेटों से पूछताछ की तो सारी बातें सामने आई। इसके बाद मृतका के भाई ने बहन के शव को फेंक देने का आरोप लगाया।। वहीं पुलिस ने शव काे पाेस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। इसके बाद शव स्वजनों को सौपं दिया गया। शिकायत देने वाले ने मामले की सत्यता सामने आने पर पूर्व की दी गई शिकायत को वापस ले लिया।

35 साल पहले गामा सिंह ने प्रेम विवाह किया था

गामा सिंह ने बताया कि 35 साल पहले उसने डोमना से प्रेम विवाह किया था। वह उससे काफी प्यार करता था। कोई संतान नहीं होने के कारण पत्नी के कहने पर ही दूसरी शादी की। दूसरी पत्नी से दो बेटे हुए। घर के सभी लोग उससे मानते थे। गामा सिंह ने बताया उसने एक ही गलती की। बेटे की शादी नहीं रूके इसलिए उसने बेटों की मदद से शव को बहा दिया, लेकिन शव बहा नहीं। गामा सिंह की बहू सुनीता देवी ने कहा शादी नहीं रूके। इसको लेकर सभी गलती करते चले गए।

क्या कहते हैं थानेदार

गामा सिंह के बेटे की शादी थी। पत्नी की मौत हो गई। शादी नहीं रूके इसके लिए गामा सिंह ने ये सबकुछ किया। पूरी जांच में सत्यता सामने आ गई। मृतका के भाई ने जो शिकायत पहले दिया था। बाद में उसे वापस ले लिया। गामा सिंह और बेटों ने ही शव को बाहर निकाला। -विनोद सिंह, कपाली थाना प्रभारी 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.