दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

covid 19 impact on Automobile Sector : कार की बिक्री पर लगा ब्रेक, शोरूम के शटर लॉकडाउन

कोविड ने कार की बिक्री पर लगाया ब्रेक, मई में बिक्री शून्य

कोविड 19 के सेकेंड वेब ने कार व्यापार को बुरी तरह से प्रभावित किया है। लॉकडाउन की वजह से सभी शोरूम के शटर डाउन है। जिसके कारण मई माह में वाहनों की बिक्री शून्य है जबकि अप्रैल माह में लॉकडाउन के डर से 50 प्रतिशत वाहनों की बिक्री हुई।

Jitendra SinghWed, 12 May 2021 02:30 AM (IST)

जमशेदपुर : कोविड 19 के सेकेंड वेब ने कार व्यापार को बुरी तरह से प्रभावित किया है। लॉकडाउन की वजह से सभी शोरूम के शटर डाउन है। जिसके कारण मई माह में वाहनों की बिक्री शून्य है जबकि अप्रैल माह में लॉकडाउन के डर से 50 प्रतिशत वाहनों की बिक्री हुई।

कोरोना की दूसरी लहर से बेजार कार बाजार

कोविड 19 के सेंकेड वेब ने कार बाजार को बुरी तरह से चौपट कर दिया है। महिंद्रा के थार, स्कोर्पियो, बुलेरो, कीया के कई मॉडलों की जबदस्त डिमांड इतनी है कि डिलीवरी में ढ़ाई से 10 माह की वेटिंग है। इसके बावजूद वाहनों की सप्लाई नहीं हो पा रही है। कारण, देश के विभिन्न हिस्सों में पूर्ण व आंशिक लॉकडाउन। कई राज्यों में 50 प्रतिशत मैनपावर की बाध्यता की वजह से सभी असेंबली लाइन नहीं चल रहे हैं। इसके अलावा विदेशों से आने वाले कई तरह के उपकरण भी नहीं पहुंचने से कई कंपनियों में उत्पादन लगभग ठप हो गया है। ऐसे में वाहनों की वेटिंग भी बढ़ गई है।

कोविड के कारण अपनी कार खरीदने का क्रेज बढ़ा था

कोविड 19 के संक्रमण से बचने के लिए अब अधिकतर लोग पब्लिक ट्रांसपोर्ट में कहीं भी जाने से परहेज कर रहे हैं और वे अपनी कार लेना चाहते हैं। इसके कारण भी कार बाजार में कोविड 19 के पहले वेब के बाद तेजी देखी गई थी लेकिन सेकेंड वेब के कारण झारखंड में पूर्ण लॉकडाउन की अफवाह कार बाजार के लिए घातक साबित हुआ। अप्रैल माह में बिक्री गिर कर आधी हो गई।

क्या कहते हैं डीलर

सामान्य दिनों में हम औसतन 100 कार प्रतिमाह बेचते हैं लेकिन अप्रैल माह 21 दिन ही शोरूम खुला रहा और हमने 30 वाहनों की बिक्री की। जबकि मई में लॉकडाउन की वजह से शोरूम बंद हैं और एक भी सेल नहीं हुई है। लाकडाउन की वजह से बिक्री पर काफी असर पड़ा है।

-अमित सिंह, स्टोर मैनेजर, मारुति सुजुकी एरिना, बिष्टुपुर

महिंद्रा थार की 10 माह जबकि स्कॉर्पियो और बोलेरो की ढ़ाई माह की बुकिंग है लेकिन लॉकडाउन की वजह से हम अपने ग्राहकों को सप्लाई नहीं दे पा रहे हैं। लॉकडाउन की वजह से भी वाहनों की आवाक कम है। सामान्य दिनों में हम 100 से अधिक वाहनों की बिक्री करते हैं लेकिन अप्रैल के 21 दिनों में हम मात्र 45 वाहनों की ही बिक्री कर पाए। गाड़ियों की डिलीवरी मिलने पर ही हम सप्लाई दे पाएंगे।

-अमित रे, वरीय महाप्रबंधक, सेल्स, महिंद्रा

लॉकडाउन की वजह से कीया कंपनी में असेंबली लाइन बंद है। वाहनों की दो-तीन माह की वेटिंग है लेकिन वाहन नहीं मिलने के कारण हम डिलीवरी नहीं दे पा रहे हैं। अप्रैल में हम 70 वाहनों की डिलीवरी दी थी लेकिन मई में लाकडाउन की वजह से सेल्स शून्य है।

-सीओओ, उत्कल ग्रुप

प्रत्येक माह में होंडा के 150 से ज्यादा कार की बिक्री करते हैं लेकिन 21 अप्रैल के बाद ही लॉकडाउन लग गया जिसके कारण हम 82 वाहनों की ही बिक्री कर पाए। मई माह में वाहनों की बिक्री लाकडाउन की वजह से बाधित है। हमारे पास वाहनों की डिमांड तो है लेकिन दूसरे राज्यों में पूर्ण लॉकडाउन की वजह से प्लांट पूरी तरह से या तो बंद है या फिर आधे मैनपावर पर काम हो रहा है।

-वरीय महाप्रबंधक, सेल्स, होंडा

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.