विस्थापितों की बैठक में छाया रहा जर्जर सड़क का मामला

बागजाता माइंस प्रभावित क्षेत्र के ग्रामीण एवं विस्थापित परिवार के सदस्यों की बैठक फूलझरी गांव के ग्राम प्रधान करण मुर्मू की अध्यक्षता में रविवार को बागजाता में सम्प्पन हुई। इस बैठक में मुख्य रूप से मुसाबनी अंश 19 के जिला पार्षद बुद्धेश्वर मुर्मू उपस्थित थे।

JagranMon, 29 Nov 2021 08:00 AM (IST)
विस्थापितों की बैठक में छाया रहा जर्जर सड़क का मामला

संसू, मुसाबनी : बागजाता माइंस प्रभावित क्षेत्र के ग्रामीण एवं विस्थापित परिवार के सदस्यों की बैठक फूलझरी गांव के ग्राम प्रधान करण मुर्मू की अध्यक्षता में रविवार को बागजाता में सम्प्पन हुई। इस बैठक में मुख्य रूप से मुसाबनी अंश 19 के जिला पार्षद बुद्धेश्वर मुर्मू उपस्थित थे । बैठक में उपस्थित ग्रामीणों ने बादिया विवेकानन्द चौक से बागजाता माइंस गेट तक जर्जर सड़क के मुद्दे को जोरदार से उठाते हुए कहा कि विगत चार वर्षो से इस सड़क के निर्माण की खबर सिर्फ अखबार में ही देखने को मिल रहा है। यह जर्जर सड़क अब जान लेवा होने लगा है । ग्रामीणों ने सड़क निर्माण जल्द से जल्द शुरू करने की मांग की, नहीं तो सड़क जाम जैसे आंदोलन करने पर जोर दिया। प्रभावित और विस्थापित के लिए इन सत्रह वर्षो में शिक्षा, बिजली सड़क ,पेयजल, स्वास्थ्य और समाजिक सरोकार के तहत विकास करने में यूसिल नाकामी साबित हुआ है। जिप सदस्य ने जोर देकर कहा कि प्रभावित क्षेत्र के युवकों को रोजगार से जोड़ने एवं विकास के लिए आगे आने का आह्वान किया। बैठक में निर्णय लिया गया कि बादिया से बागजाता तक जर्जर सड़क का निर्माण के लिए प्रभावित क्षेत्र के ग्रामीणों को तैयारी करने का जिम्मेदारी दी गई। मुसाबनी अंश 19 के जिला पार्षद बुद्धेश्वर मुर्मू ने ग्रामीणों के मांग के समर्थन में वे भी धरना पर बैठने कि घोषणा किया। इस अवसर पर गोहला पंचायत के पंचायत समिति सदस्य हरिपद भकत, चंद्राई हांसदा,सरकार सोरेन,मंगल महाली, करण मुर्मू, छोटराई सोरेन,भगमत सोरेन, फागू मार्डी, जय सिंह हेंब्रम, धीरेन हांसदा, कन्हाई हेंब्रम, सुंदर मुर्मू, विक्रम मुर्मू, निर्मल हेंब्रम, राकेश मुर्मू, फागू सोरेन, हाबलू गोप आदि उपस्थित थे। श्रम विभाग ने रद किया यूसिल के चारों यूनियन का रजिस्ट्रेशन : जादूगोड़ा यूसील माइंस में सक्रिय रूप से कार्यरत चार यूनियन जिसमें यूरेनियम मजदूर संघ, जादूगोड़ा लेबर यूनियन, यूसिल कामगार यूनियन, सिंहभूम यूरेनियम मजदूर संघ, चारों यूनियन ही यहां मुख्य रूप से सक्रिय हैं लेकिन श्रम विभाग रांची द्वारा इन चारों यूनियन का रजिस्ट्रेशन को रद कर दिया गया है। चारों यूनियन यूसिल में बिना रजिस्ट्रेशन के ही चल रहे है। यूसिल में केवल एक मात्र यूसिल लेबर यूनियन का ही रजिस्ट्रेशन हुआ है। यूनियन के लोगों का कहना है कि बिहार से झारखंड बनने के कारण यह रद किया गया है। इन्हें पुन: ऑनलाइन करने का कहा गया है जिसके लिए 30 नवंबर तक लास्ट डेट दिया गया है।

जादूगोड़ा लेबर यूनियन के महासचिव सुरजीत सिंह ने बताया कि रजिस्ट्रेशन को रद किया गया है और हम ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए अप्लाई कर दिए है। वहीं जादूगोड़ा यूरेनियम मजदूर संघ के सह सचिव उमेश प्रसाद ने कहा कि ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर दिया गया है रद्द होने के बाद वह हमें ऑनलाइन आदेश भी मिल चुका है। यूरेनियम कामगार यूनियन के महासचिव राजाराम सिंह ने कहा कि पूरे झारखंड में 960 यूनियन का रजिस्ट्रेशन रद किया गया है एवं पुन: रजिस्ट्रेशन करने के लिए अप्लाई कर दिया गया है अभी तक किसी को भी आदेश नहीं मिला है। 30 नवंबर तक अप्लाई करने का अंतिम तिथि है। सिंहभूम यूरेनियम मजदूर संघ के महासचीव रमेश मांझी ने कहा की रेजिस्ट्रेशन रद हुआ है ऑनलाइन प्रकिया के लिए अप्लाई कर दिया गया है। वही यूसिल लेबर यूनियन के महासचिव बीरबल सिंह ने कहा कि यूसील में केवल हमारे यूनियन का ही रजिस्ट्रेशन हुआ है। बाकी यूनियन को यूसील मान्यता नहीं दे सकती है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.