Tata Group : लंदन की यातायात व्यवस्था संभालेगी टाटा समूह की यह कंपनी, 1,15,000 ड्राइवरों को होगा फायदा

TCS विश्व की प्रतिष्ठित आइटी कंपनी में शुमार टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज यानी टीसीएस अब लंदन की यातायात व्यवस्था संभालेगी। इसके लिए टीसीएस ने ब्रिटिश सरकार से 10 साल का करार किया है। स्मार्ट मोबिलिटी सिस्टम लागू होते ही एक लाख से अधिक ड्राइवरों को फायदा होगा।

Jitendra SinghThu, 16 Sep 2021 06:00 AM (IST)
Tata Group : लंदन की यातायात व्यवस्था संभालेगी टाटा समूह की यह कंपनी

जमशेदपुर : देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनियों में से एक टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) ने ट्रांसपोर्ट फॉर लंदन (टीएफएल) के साथ 10 साल का एक करार किया है जो लंदन में स्मार्ट मोबिलिटी सिस्टम को डिजाइन करने और उसे क्रियान्वित व संचालित करने का काम करेगी। ये नई व्यवस्था टीसीएस की मदद से टैक्सी और निजी कैब का किराया, लाइसेसिंग और एडमिनिस्ट्रेशन को डिजिटल रूप से पूरी तरह बदल देगा। जिससे लगभग टैक्सी व निजी कैब के 1,15,000 ड्राइवर लाभान्वित होंगे।

टीसीएस ने पांच वर्ष के अनुबंध विस्तार की पेशकश की

टाटा कंसल्टेंसी अपने डिजीगोभ के ढ़ांचे का उपयोग नए सिस्टम को डिजाइन और लांच करेगी। इस सिस्टम के तहत ऑन डिमांड उेटा और रिकार्ड मैनेजमेंट सिस्टम शामिल होगी जो डिजिटल चैनलों के माध्यम से टैक्सी ऑपरेटर और उनके मालिकों को लाइसेंस भुगतान, रिफंड और सर्विस की पेशकश करके ग्राहकों को बेहतर अनुभव देगी। इस सिस्टम के तहत ग्राहकों को बुकिंग के लिए प्लेटफार्म फ्रंट एंड इंटरफेस की बुकिंग, व्यक्तिगत डिस्ट्रीब्यूशन, वाहन इंस्पेक्शन और बैक एंड एटिविटी के साथ जोड़ने और मिले हुए काम को फॉलो करने में मदद करेगा। डेटा एडब्ल्यूएस क्लाउड पर होस्ट किया जाएगा।

संचालन की देखरेख में होगी मदद : ग्राहम

टीएफएल के महाप्रबंधक ग्राहक रॉबिन्सन का कहना है कि इस नई व्यवस्था से लंदन शहर में टैक्सी और प्राइवेट कैब के संचालन और देखरेख में न सिर्फ हमें मदद मिलेगी बल्कि एक कुशल और प्रभावी लाइसेंसिंग प्रणाली भी विकसित होगी। इसके लिए हमें टीसीएस के साथ अनुबंध पर हस्ताक्षर करके प्रसन्नता हो रही है। क्योंकि इससे हमारा व्यवसाय तकनीकि विकास के साथ तालमेल बनाए रखने में मदद करेगा साथ ही लाइसेंसधारियों को बेहतर सुविधा भी देगा।

सिटी ट्रांसपोर्ट पर करेगा फोकस

टीसीएस यूके एंड आयरलैंड के कंट्री हेड अमित कपूर का कहना है कि ट्रांसपोर्ट फॉर लंदन टेक्नोलॉजी और डेटा का उपयोग के साथ सिटी ट्रैवल्स के मैनेजमेंट पर फोकस करेगा। टीसीएस नई डिजाइन की तकनीक टीएफएल के जरूरत कके अनुसार विकसित करेगी।

साथ ही ग्राहकों के अनुभव को बेहतर बनाने के लिए कई तरह की सेवाओं भी देगा। उनका कहना है कि इस नई प्रणाली के विकसित होने से आवश्यकताओं और कानून के अनुपालन में आसानी होगी। साथ ही टीसीएस ब्रिटेन में 18 हजार कर्मचारियों के साथ सबसे बड़ी आइटी सेवा प्रदता कंपनी बन जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.