Central Vista : सेंट्रल विस्टा एवं हबीबगंज स्टेशन के लिए टाटा स्टील को मिला बड़ा आर्डर, ये रही पूरी जानकारी

Tata Steel नया संसद भवन सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के लिए 990 टन स्टील और हबीबगंज में पीपीपी मोड पर बन रहे नए स्टेशन के लिए होलो ट्यूब टाटा स्ट्रक्चर की सप्लाई के लिए 1000 टन का आर्डर मिला है जिसकी सप्लाई की जा रही है।

Rakesh RanjanThu, 02 Dec 2021 05:18 PM (IST)
देश के छह स्थानों पर थ्री डी लाइट हाउस का निर्माण होना है।

जासं, जमशेदपुर : टाटा स्टील को नई दिल्ली में बन रहे नया संसद भवन, सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के लिए 990 टन स्टील और हबीबगंज में पीपीपी मोड पर बन रहे नए स्टेशन के लिए होलो ट्यूब, टाटा स्ट्रक्चर की सप्लाई के लिए 1000 टन का आर्डर मिला है, जिसकी सप्लाई की जा रही है। टाटा स्टील के मासिक कार्यक्रम में कंपनी के सीईओ सह एमडी टीवी नरेंद्रन ने कंपनी को मिले दो आर्डर की जानकारी देते हुए यह जानकारी दी।

उन्हाेंने बताया कि देश के छह स्थानों पर थ्री डी लाइट हाउस का निर्माण होना है जिसमें टाटा स्टील की भूमिका काफी अहम होगी। इसमें एक थ्री डी लाइट हाउस रांची में भी बनाया जाना है। इस मौके पर एमडी ने कलिंगनगर, टाटा स्टील बीएसएल, टाटा स्टील लांग प्रोडक्ट, ओएमक्यू सहित सभी ऑपरेशन में नवंबर माह में किए गए कार्यों और उत्पादन की समीक्षा की। वहीं, कर्मचारियों के सवालों का भी जवाब दिया।

कोविड मानको का अनुपालन करने की सलाह

अपने संबोधन में एमडी ने कहा कि वैश्विक स्तर पर शोधकर्ताओं के अनुसार कोविड 19 का एक नया वेरिएंट आने की संभावना जताई गई है। ऐसे में हर एक कर्मचारी को कोविड 19 व्यवहार का अनुपालन करते हुए सभी प्रोटोकॉल का पालन करना जारी रखें। उन्होंने सभी कर्मचारियों कोविड 19 को लेकर सतर्क रहने, नियमित रूप से मास्क पहने, हाथ को सेनिटाइज करें और भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचने की सलाह दी।

वेंडर पार्टनर के साथ अपनाया जाए पारदर्शी नियमावली

एमडी ऑनलाइन के दौरान कंपनी के अधिकारी चैतन्य भानु ने कहा कि हम सभी को अपने वेंडर पार्टनर के साथ कंपनी द्वारा तय नियमावली को पारदर्शी तरीके से अनुपालन करना चाहिए। हमें न ही उन्हें किसी तरह का लाभ देना है और न ही उनसे किसी तरह के अनुचित लाभ प्राप्त करना है। यदि वेंडर पार्टनर से भी किसी तरह के अनुचित लाभ के लिए कोई कर्मचारी या अधिकारी दबाव देते हैं तो वे मामले की शिकायत भी कर सकते हैं।

वैकेंसी में विभागीय कर्मचारियों को मिले पहले मौका

एमडी ऑनलाइन के दौरान एलडी-3 के कमेटी मेंबर श्याम बाबू ने मांग की है कि विभागों में निकलने वाली वैकेंसी में स्थानीय कर्मचारियों को पहले मौका मिले। क्योंकि एक पद पर आने के बाद कर्मचारियों को प्रमोशन का लाभ नहीं मिलता। उन्हें प्रमोशन के लिए उच्च शिक्षा ग्रहण करना होता है लेकिन कई बार हायर क्वालीफिकेशन के बाद भी मौका नहीं मिल पाता है। हमारी मांग है कि विभागीय कर्मचारियों को पहले मौका मिले। जब वे उक्त पद को भर नहीं पाए या क्वालिफाइड नहीं हो तो ही दूसरे विभाग के कर्मचारियों को मौका दें। यह व्यवस्था सभी विभागों के लिए प्रभावी हो। एमडी ने इसका समर्थन करते हुए कहा कि अधिकारियों के लिए यही व्यवस्था है। इसमें एचआर विभाग देखेंगे कि किस तरह की पहल हो सकती है।

इलेक्ट्रिक व्हीकल खरीदने में कंपनी दे आर्थिक मदद

कार्यक्रम के दौरान श्याम बाबू ने ही एमडी से मांग की कि प्रबंधन पॉलिसी बनाकर कर्मचारियों को इलेक्ट्रिक व्हीकल खरीदने में आर्थिक मदद प्रदान करें। क्योंकि इलेक्ट्रिक (दो व चार पहिया) की कीमत काफी अधिक है। ऐसे वाहन खरीदकर कर्मचारी भी पर्यावरण संरक्षण में अपना योगदान दे सकते हैं। इस पर एमडी ने कहा कि कर्मचारियों को यह तय करना चाहिए कि वे अपने स्तर से किस तरह से पर्यावरण संरक्षण के लिए पहल कर सकते हैं।

ऑनलाइन कंसल्टेशन व रिपीट मेडिसीन रहे जारी

कार्यक्रम के दौरान एकाउंटस विभाग के कर्मचारी अंशुमन ने टाटा मेन हॉस्पिटल (टीएमएच) द्वारा कोविड 19 के समय शुरू की गई ऑनलाइन कंसल्टेशन और रिपीट मेडिसीन व्यवस्था की तारीफ की। कहा कि अब डाक्टर से मिलने के लिए छुट्टी लेने की आवश्यकता नहीं पड़ती। फोन पर ही डाक्टर से कंसल्टेशन व रिपीट मेडिसीन मिल जाता है इसलिए कोविड 19 के बाद भी उक्त व्यवस्था को अनवरत जारी रखा जाए। इस पर कॉरपोरेट सर्विसेज के वाइस प्रेसिडेंट चाणक्य चौधरी ने कहा कि इन दोनों सिस्टम का रिव्यू कर भविष्य में निर्णय लिए जाएंगे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.