Tata Steel बीएसएल और बामनीपाल स्टील का टाटा स्टील में होगा विलय

कंपनी प्रबंधन ने विलय की जानकारी बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को दे दी है।

Tata Steel. टाटा स्टील बीएसएल (पूर्व में भूषण स्टील) और बामनीपाल स्टील लिमिटेड का टाटा स्टील में विलय होगा। ई-वोटिंग के माध्यम से शेयरधारकों ने इसकी मंजूरी दे दी है। टाटा संस अपने सभी एक तरह के बिजनेस का एकीकरण कर रही है।

Rakesh RanjanTue, 06 Apr 2021 10:01 AM (IST)

जमशेदपुर, जासं। टाटा स्टील बीएसएल (पूर्व में भूषण स्टील) और बामनीपाल स्टील लिमिटेड का टाटा स्टील में विलय होगा। ई-वोटिंग के माध्यम से शेयरधारकों ने इसकी मंजूरी दे दी है। टाटा संस अपने सभी एक तरह के बिजनेस का एकीकरण कर रही है। इसके तहत कंपनी एक्ट 2013 की धारा 230 व 232 के तहत ही दोनो कंपनियों का टाटा स्टील में विलय किया जा रहा है।

टाटा स्टील ने इनसॉल्वेंसी एंड बैंक करप्सी कोड 2016 के तहत मई 2018 में भूषण स्टील और बामनीपाल स्टील का अधिग्रहण किया था। इसके बाद कंपनी प्रबंधन ने दोनों कंपनियों का विधिवत रूप से टाटा स्टील में विलय करने के लिए 24 फरवरी से लेकर 25 मार्च तक ऑनलाइन ई-वोटिंग के माध्यम से शेयरधारकों को अपना वोट देने के लिए आमंत्रित किया गया था। इस वोटिंग में प्रोमटर व प्रमोटर ग्रुप, पब्लिक संस्थान सहित पब्लिक गैर संस्थान के शेयरधारकों ने हिस्सा लिया था। तीनों तरह के शेयरधारकों का कंपनी में 1,093,439,768 शेयर है। इनमें से 857,995,085 शेयर की वोटिंग हुई। इनमें से 852,226,979 शेयर पर विलय के लिए सहमति जताई जबकि 5,788,106 ने विलय के विरुद्व वोट किया। पिछले दिनों कंपनी की एजीएम हुई जिसमें अधिकतर शेयरधारकों के सहमति की जानकारी सभी को दी गई। जल्द ही टाटा स्टील, टाटा स्टील बीएसएल और बामनीपाल स्टील का विधिवत रूप से विलय करेगी। कंपनी प्रबंधन ने इसकी जानकारी बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को दे दी है।

ये उत्पाद बनाती है कंपनी

टाटा स्टील बीएसएल का शाहिबाबाद, खपोली, होसूर और अंगुल में प्लांट संचालित है। जो हॉट रोल्ड, कोल्ड रोल्ड, गेल्वेनाइज्ड स्टील, कलर कोटेड स्टील, एपीआई पाइप, एचएंडटी स्टील स्ट्रीप्स, हाई टेंसिल स्टील स्ट्रीप्स, स्पांज आयरन जैसे उत्पाद का निर्माण करती है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.