दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Airline: टाटा संस ने इस विमानन कंपनी में बढ़ाया अपना निवेश, ये है मुख्य वजह

नई प्लानिंग कर अपने लिए विमानन सेवा के क्षेत्र में जमीन तलाशेगी।

Tata Sons investment in airline विस्तारा एयरलांस के लिए 46.5 करोड़ रुपये शेयर लाए गए हैं। इनमें से 23.7 करोड़ शेयर के लिए टाटा संस ने 237 करोड़ रुपये जबकि सिंगापुर एयरलाइंस ने 228 करोड़ रुपये निवेश किया है।

Rakesh RanjanFri, 14 May 2021 10:23 AM (IST)

जमशेदपुर, जासं। टाटा संस और सिंगापुर एयरलाइंस की ज्वाइंट वेंचर कंपनी विस्तारा एयरलाइंस में 465 करोड़ रुपये का निवेश किया है। एक रिपोर्ट के अनुसार विस्तारा एयरलांस के लिए 46.5 करोड़ रुपये शेयर लाए गए हैं। इनमें से 23.7 करोड़ शेयर के लिए टाटा संस ने 237 करोड़ रुपये जबकि सिंगापुर एयरलाइंस ने 228 करोड़ रुपये निवेश किया है।

लेकिन सवाल उठता है कि आखिर इन दो कंपनियों ने विस्तारा एयरलाइंस में इतना बड़ा निवेश क्यों किया तो जवाब है इसकी मुख्यत: तीन वजह है। पहला, कोविड 19 के कारण विमानन सेवा की उड़ान निर्धारित है। उड़ान पर कई तरह की पाबंदियों के बावजूद सभी रूट पर विमानों का संचालन नहीं हो रहा है लेकिन कंपनी को अपने कर्मचारियों का वेतन देना है। दूसरा, विमानन कंपनियों में आपस में प्रतियोगिता। हर कंपनी ग्राहकों को आकर्षिक करने के लिए नए-नए स्कीम दे रही है और तीसरा व सबसे महत्वपूर्ण है वैश्विक स्तर पर लगातार क्रूड ऑयल की कीमतों में बढ़ोतरी होना।

क्रूड ऑयल की कीमतों में 59.8 प्रतिशत की बढ़ोतरी

पिछले वर्ष की तुलना में अप्रैल 2021 में क्रूड ऑयल की कीमतों में 59.8 प्रतिशत की बढ़ोतरी हो चुकी है। जबकि मई 2021 में यह 103 प्रतिशत अधिक है। एक डॉलर की बढ़ोतरी भी कंपनी के ऑपरेटिंग प्रोफिट में छह से सात प्रतिशत तक प्रभावित करती है। इसके अलावा बिजनेस लाइन के अनुसार कंपनी पिछले पांच वर्षों से नुकसान में चल रही है। कंपनी को वर्ष 2020 में 1813.38 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ जबकि वित्तीय वर्ष 2016 में यह नुकसान 400.90 करोड़ रुपये था। हालांकि कंपनी का ऑपरेशन वित्तीय वर्ष 2020 में 585.37 प्रतिशत बढ़ गया है जो कंपनी के लिए अच्छे संकेत है। इसके अलावा कंपनी पर उनके लीज व वेंडरों का भी दबाव है जो उन्हें लगातार उनका बकाया राशि का भुगतान करने का दबाव दे रही है। घरेलू व अंतराष्ट्रीय उड़ान को पूरी तरह से शुरू होने में तीन से छह माह का समय लगेगा। ऐसे में नए निवेश से दोनों कंपनियां पूरी तरह से अपने लिए नई प्लानिंग कर अपने लिए विमानन सेवा के क्षेत्र में जमीन तलाशेगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.