टाटा पावर सोलर सिस्टम लिमिटेड ने अपनी सेल्स और निर्माण क्षमता को बढ़ाया, ये रही पूरी जानकारी

टाटा पावर सोलर भारत की सबसे बड़ी ईपीसी कंपनी है।

Tata Power Solar Systems Limited टाटा पावर की पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी टाटा पावर सोलर सिस्टम लिमिटेड ने अत्याधुनिक विनिर्माण सुविधा के विस्तार की घोषणा की है। इस विस्तार के साथ कंपनी के सेल्स और मॉड्यूल की कुल उत्पादन क्षमता बढ़कर 1100 मेगावॉट हो गई है।

Rakesh RanjanThu, 08 Apr 2021 03:59 PM (IST)

जमशेदपुर, जासं। टाटा पावर की पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी टाटा पावर सोलर सिस्टम लिमिटेड ने अत्याधुनिक विनिर्माण सुविधा के विस्तार की घोषणा की है। इस विस्तार के साथ कंपनी के सेल्स और मॉड्यूल की कुल उत्पादन क्षमता बढ़कर 1100 मेगावॉट हो गई है। कंपनी के सोलर मॉड्यूल की मांग में वृद्धि और साथ ही भारत सरकार द्वारा आत्मनिर्भर भारत निर्माण हेतु हाल ही में घोषिक सहायक नीतिगत कदमों के कारण अपेक्षित वृद्धि को देखते हुए यह विस्तार किया गया है।

31 साल के लंबे परिचालन इतिहास के साथ टाटा पावर सोलर वैश्विक स्तर की चुनिंदा कंपनियों में से एक है। सौर मॉड्यूल पर दी जाने वाली 25 साल की वारंटी का सम्मान करने की कंपनी की क्षमता का यह एक दमदार सबूत है। टाटा पावर सोलर के उत्पादों की मांग में वृद्धि हुई है जो कंपनी के उत्पादों की गुणवत्ता के प्रति ग्राहकों के भरोसे की पुर्नपुष्टि करता है। यह विस्तार ऐसे समय में हुआ है जब भारत सरकार ने देश के विनिर्माण केंद्र बनाने और सोलर्स सेल्स मॉडयूल आयात की दृष्टि से दूसरे देशों पर भारत की निर्भरता घटाने हेतु अपना सकारात्मक इरादा प्रदर्शित किया है।

इस विस्तार के बारे में टाटा पावर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सह प्रबंध निदेशक डा. प्रबीर सिन्हा ने कहा कि हम अपने उत्पाद की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए अपनी उत्पादन क्षमता बढ़ाने को लेकर खुश हैं। नई तकनीक में निरंतर भागीदारी के साथ उच्च गुणवत्ता वाले सौर उत्पादन प्रदान करने के लिए हमारे पास 31 वर्षो का अनुभव है। हमें अपने सौर विनिर्माण और ईपीसी सेवाओं, दोनो में अग्रणी स्थिति बनाए रखने में मदद की है। टाटा पावर को सोलर निर्माण क्षेत्र में आईएसओ 90001 आईएसओ 45001: 2018 और आइएसओ 14001 : 2015 प्रमाणित है।

टाटा पावर सोलर भारत की सबसे बड़ी ईपीसी कंपनी

दुनिया में अग्रणी सौर निर्माताओं में से एक होने के अलावा टाटा पावर सोलर भारत की सबसे बड़ी ईपीसी कंपनी है। टाटा पावर सोलर ने कई बड़े-बड़े प्रोजेक्ट सफलतापूर्वक पूरे किए हैं। जैसे कि अनंतपुर में 150 मेगावाट, केरल में 50 मेगावाट का कासरगोड, 56 मेगावाट ग्रीनको, ओडिसा के लपंगा में 30 मेगावाट का सोलर पावर प्लांट और कायमकुलम में 105 मेगावाट का फ्लोटिंग सोलर प्लांट शामिल है। टाटा पावर का राजस्व तीसरी तिमाही के अपेक्षित वित्तीय परिणामों में 2353 करोड़ रुपये था। एक अप्रैल 2021 को इसे पास 10 हजार करोड़ रुपये का पेडिंग आर्डर बुक है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.