टाटा पावर को पहली तिमाही में 74 प्रतिशत का बंपर मुनाफा, जाने कंपनी की वित्तीय रिपोर्ट

विद्युत उत्पादन व वितरण कंपनी टाटा पावर ने वित्तीय वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में 74 प्रतिशत बढ़ोतरी के साथ 466 करोड़ रुपये का मुनाफा अर्जित किया है जबकि आलोच्य अवधि में यह आंकडा 268 करोड़ रुपये था।

Rakesh RanjanSun, 08 Aug 2021 09:03 AM (IST)
टाटा पावर का जमशेदपुर में भी 120 यूनिट के दो थर्मल पावर जंनरेशन यूनिट संचालित है।

जागरण संवाददाता, जमशेदपुर। देश की सबसे बड़ी विद्युत उत्पादन व वितरण कंपनी टाटा पावर ने वित्तीय वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही के वित्तीय आंकड़े जारी किए हैं। समेकित रूप से कंपनी ने बीते तिमाही में 74 प्रतिशत बढ़ोतरी के साथ 466 करोड़ रुपये का मुनाफा अर्जित किया है जबकि आलोच्य अवधि में यह आंकडा 268 करोड़ रुपये था।

टाटा पावर ने अपने वित्तीय रिपोर्ट में कहा है कि उनके अपने सभी प्रोजेक्ट में उत्पादन लागत को कम करते हुए यह मुनाफा अर्जित किया है। इसके अलावा कंपनी ने अपने एबिटा में भी 16 प्रतिशत का सुधार दर्ज किया है जो पिछली बार 2037 करोड़ रुपये से बढ़कर 2365 करोड़ रुपये हो गया है। वहीं, अक्षय ऊर्जा के एबिटा में नौ प्रतिशत की सुधार के साथ 588 करोड़ रुपये से बढ़कर 643 करोड़ रुपये हो गया है। कंपनी प्रबंधन का कहना है कि सोलर ईपीसी, रुफटॉप और पंप बिजनेस में ओवरऑल हमने बेहतर प्रदर्शन किया है। टाटा पावर का जमशेदपुर में भी 120 यूनिट के दो थर्मल पावर जंनरेशन यूनिट संचालित है।

30 जून को समाप्त तिमाही में टाटा पावर की महत्वपूर्ण उपलब्धि

-टाटा पावर का समेकित रूप से पहली तिमाही में ओडिशा डिस्कॉम अधिग्रहण और सौर ईपीसी व्यवसायों के कारण राजस्व में 47 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 6,671 करोड़ रुपये से बढ़कर 9,831 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है।

-टाटा पावर ने पवन और सौर ऊर्जा उत्पादन सहित सोलर ईपीसी, रुफटॉप, सोलर पंप में चौतरफा बेहतर प्रदर्शन करते हुए सीजीपीएल से अपने टैरिफ आर्डर की मदद से 268 करोड़ के मुकाबले में 466 करोड़ का मुनाफा अर्जित किया है।

स्टैंडअलोन

-कंपनी ने व्यक्तिगत स्टैंडअलोन प्रदर्शन की बात करें तो इस क्षेत्र में भी कंपनी ने अपने राजस्व में 22 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की है। कंपनी का राजस्व 1,469 करोड़ रुपये से बढ़कर 1,788 करोड़ रुपये हो गया है।

-वहीं, असधारण मदों में के कारण कंपनी का मुनाफा 45 करोड़ रुपये से 340 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 198 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है।

-------------

व्यापार और क्षमता वृद्धि के साथ हमने किया बेहतर प्रदर्शन : एमडी

टाटा पावर के सीईओ सह एमडी प्रवीर सिन्हा का कहना है कि हमने कोविड 19 महामारी से उत्पन्न चुनौतियों के बावजूद बेहतर प्रदर्शन किया और अपने व्यापार को बढ़ाने के साथ-साथ अपनी यूनिट का क्षमता विकास भी किया। हमारा लक्ष्य वर्ष 2025 तक अपने नवीकरणीय पोर्टफोलियों में मौजूद 4 गीगावॉट की क्षमता को बढ़ाकर 15 गीगा वॉट और 2030 तक 25 गीगावॉट करना है। साथ ही वर्तमान में स्वच्छ ऊर्जा उत्पादन की क्षमता को भी 31 प्रतिशत से बढ़ाकर 80 प्रतिशत तक करने का लक्ष्य रखा है। इसके अलावा एमडी का कहना है कि हम रुफटॉप सोलर, सोलर पंप, माइक्रोग्रिड होम के क्षेत्र में अपना काम जारी रखेंगे। साथ ही हम देश में अपने ईवी चार्जिंग स्टेशनों को विकसित करने में अपना फोकस केंद्रित करते हुए काम जारी रखेंगे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.