टाटा मोटर्स ने माइनिंग और खाद्यान्न ढुलाई को तैयार किए नए तरह के ट्रक, जाने क्या है इनकी खासियत

टाटा मोटर्स न सिर्फ कार सेगमेंट बल्कि हैवी वेहिकल सेगमेंट पर भी फोकस कर रही है। कंपनी ऐसे ट्रक का निर्माण कर रही है जो न सिर्फ अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस है बल्कि ड्राइवर्स के लिए भी आरामदायक है।

Jitendra SinghWed, 23 Jun 2021 06:00 AM (IST)
टाटा मोटर्स ने माइनिंग और खाद्यान्न ढुलाई को तैयार किए नए तरह के ट्रक

जमशेदपुर : देश में भारी वाहन निर्माण क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनी, टाटा मोटर्स ने माइनिंग और खाद्यान्न ढुलाई सहित भारतीय सड़कों को ध्यान में रखते हुए अपनी तकनीक में कई बदलाव किए हैं। नई तकनीक की मदद से न सिर्फ ट्रक को अत्याधिक पावर मिलेगा बल्कि वाहन मालिक को ईधन पर लगने वाली लागत में भी कमी आएगी।

टाटा मोटर्स ने माल ढुलाई के लिए मध्यम वाणिज्यिक वाहन श्रेणी में 19 टी जीवीडब्ल्यू ट्रको में 28 टी और 35 टी जैसे मॉडलों में मल्टी एक्सल श्रेणी में इस नई तकनीक का इस्तेमाल किया है। जो लंबी दूरी में चलने और भारत की हर सड़क को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है। बीएस-6 मॉडल वाले इन ट्रकों से न सिर्फ परिचालन में आसानी होगी बल्कि ईधन में लगने वाली लागत में भी कमी आएगी। पावर ऑफ 6 मापदंडों पर तैयार किए गए इन मॉडलों की कई खासियत है। ये हैं इनके फायदे

दमदार प्रदर्शन : टाटा मोटर्स की माने तो तेज टर्न अराउंड, बेहतर संचालन क्षमता, उत्पादकता को बढ़ाने वाले इन मॉडल से व्यवसाय अधिक होगा और मुनाफे में भी बढ़ोतरी होगी

कम लागत : नए मॉडल में दमदार पिक-अप तो होगा ही। इसमें शक्तिशाली इंजन, बड़ा क्लच, गियर बॉक्स और एक्सल लगे हैं। जिसका मेंटनेंस खर्च काफी कम है। जो दूसरी कंपनियों के ट्रकों से काफी बेहतर है।

आराम का रखा गया है ख्याल : टाटा मोटर्स ने अपने नए मॉडल में ड्राइवर के आराम और सुरक्षा मानकों का खास ख्याल रखा है। आधुनिक प्राइमा और सिग्ना केबिन अधिकतम आराम का ख्याल रखा गया है। इससे ड्राइवर को थकान महसूस नहीं होगी। इसके अलावा गर्म हवा से परेशानी न हो, इसका भी ख्याल रखा गया है।

पंसदीदा डिजाइन : टाटा मोटर्स ने अपने नए रेंज में व्यवसायिक उपयोग और आवश्यकताओं को ध्यान रखते हुए इस तरह से डिजाइन किया है जो वाहन मालिकों को पसंद आएंगे।

कनेक्टिविटी की सुविधा : नए मॉडल में वाहनों की हमेशा मॉनिटरिंग हो सकेगी। इससे टेक्नोलॉजी को ध्यान में रखा गया है ताकि वाहन संचालन खर्च में भी कमी आएगी। वाहन किस समय कौन से रास्ते पर जा रहा है यह आसानी से ट्रैक किया जा सकता है।

मन की शांति : टाटा मोटर्स का मानना है कि वाहन मालिकों की सबसे बड़ी समस्या वाहनों के रख-रखाव, मेंटेनेंस को लेकर चिंता रहती है। लेकिन उनके नए मॉडल में वाहन मालिकों को इससे आजादी मिलेगी।

इनोवेशन व नए डिजाइन का समावेश

टाटा मोटर्स प्रबंधन का मानना है कि बीएस-6 मॉडल वाले उनके नए मॉडल पूरी तरह से इनोवेशन के साथ-साथ उत्पादकता को बढ़ाने के लिए खास तौर से डिजाइन किया गया है। उनके मॉडल पावरफुल कमिंस और टर्बोट्रॉन इंजन से लैस है जो लंबी दूरी में भी सुखद यात्रा का अनुभव देगा। इंजन ब्रेक, हिल स्टार्ट असिस्ट, टिल्ट और टेलीस्कोपिक स्टीयरिंग, इंटेलिजेंट इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर, व्यापक स्लीपर बर्थ और एलईडी टेललाइट्स जैसी अतिरिक्त सुविधाओं से यह लैस है। साथ ही बेहतर पिकअप व टॉर्क पावर सभी तरह के सड़को को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है। सबसे खास बात है कि नए मॉडल में ईधन की खपत काफी कम होगी।

बेहतर सेवा का भरोसा

टाटा मोटर्स ने अपने 2.0 मॉडल के लिए 24 घंटे टाटा अलर्ट वारंटी दे रही है। जहां वाहन खराब होने पर सड़क किनारे भी मरम्मती की सुविधा देगी। टाटा मोटर्स बीमा के तहत सभी आकस्मिक वाहनों की मरम्मती 15 दिनों की भीतर की जाए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.