Jharkhand, Jamshedpur Weather: तीन दिसंबर से होगी बारिश, जानें मौसम विभाग का क्या है अनुमान

Jharkhand Jamshedpur Weather तीन से पांच दिसंबर तक आसमान में बादल छाए रहेंगे। साथ ही मध्य दर्जे की बारिश भी हो सकती है। छह दिसंबर से मौसम साफ होगा। उसके बाद न्यूनतम तापमान में और भी गिरावट दर्ज की जाएगी। इससे कनकनी के साथ ठंड बढ़ेगी।

Rakesh RanjanPublish:Tue, 30 Nov 2021 03:38 PM (IST) Updated:Tue, 30 Nov 2021 03:38 PM (IST)
Jharkhand, Jamshedpur Weather: तीन दिसंबर से होगी बारिश, जानें मौसम विभाग का क्या है अनुमान
Jharkhand, Jamshedpur Weather: तीन दिसंबर से होगी बारिश, जानें मौसम विभाग का क्या है अनुमान

जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : झारखंड के जमशेदपुर शहर का तापमान लगातार गिर रहा है। बीते एक सप्ताह में न्यूनतम तापमान में 5.2 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है। 23 नवंबर का शहर का न्यूनतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस था जो घटकर अब 13.8 डिग्री पहुंच गया है। इससे ठंड के साथ-साथ कनकनी बढ़ गई है। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, एक व दो दिसंबर को सुबह में घना कोहरा छाया रहेगा। ऐसे में गाड़ी चलाते समय या फिर टहलने जाएं तो विशेष सावधानी बरतने की जरूरत होती है।

ठंड में कोहरे की वजह से दुर्घटनाएं बढ़ जाती हैं। कोहरे की वजह से दिखाई कम देता है जिसके कारण दुर्घटनाएं होती हैं। इससे बचने के लिए धीमी गति से गाड़ी चलानी चाहिए ताकि समय रहते दुर्घटना से बचा जा सके। वहीं, तीन से पांच दिसंबर तक आसमान में बादल छाए रहेंगे। साथ ही मध्य दर्जे की बारिश भी हो सकती है। छह दिसंबर से मौसम साफ होगा। उसके बाद न्यूनतम तापमान में और भी गिरावट दर्ज की जाएगी। इससे कनकनी के साथ ठंड बढ़ेगी।

सर्दी-खांसी को हल्के में नहीं लें

पूर्वी सिंहभूम के सिविल सर्जन डॉ. एके लाल ने बताया कि शहर में एक साथ कई तरह की बीमारी फैली हुई हैं। ऐसे में सर्दी-खांसी व बुखार को हल्के में नहीं लें। यह कई बीमारी के लक्षण हो सकते हैं। तीन दिन से अधिक बुखार व सर्दी-खांसी हो तो उसे तत्काल किसी चिकित्सक से दिखाने चाहिए। सर्दी-खांसी व बुखार कोरोना के भी लक्षण हैं। वहीं कोरोना के नए वैरिएंट का लक्षण भी इसी से मिलता जुलता है। इसके साथ ही डेंगू, जापानी इंसेफ्लाइटिस व चिकनगुनिया व मलेरिया के लक्षण में भी बुखार शामिल है। यह समय किसी तरह की लापरवाही बरतने का नहीं है। संक्रामक बीमारियां तेजी से फैलती हैं। लोग कोरोना के नियम-कानून का पालन सख्ती के साथ करें। कोरोना के नियमों का सख्ती से पालन नहीं कर आप खुद को मुसीबत में डाल सकते हैं।