Cyclone Jawad Alert: तूफान ‘जवाद’ का दिखेगा असर, अगले तीन दिन तक बारिश की संभावना

Cyclone Jawad Alert तूफान की वजह से तीन से छह दिसंबर तक शहर के मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। शुक्रवार को दक्षिणी भागों (पूर्वी सिंहभूम पश्चिमी सिंहभूम सिमडेगा व सरायकेला-खरसावां) में कहीं-कहीं पर हल्के दर्जे की वर्षा होने की संभावना है।

Rakesh RanjanFri, 03 Dec 2021 05:36 PM (IST)
चक्रवती तूफान ‘जवाद’ का असर झारखंड के पूर्वी सिंहभूम जिले में भी दिखेगा।

जागरण संवाददाता, जमशेदपुर : चक्रवती तूफान ‘जवाद’ का असर झारखंड के पूर्वी सिंहभूम जिले में भी दिखेगा। ओडिशा तट के आस-पास के इलाकों में डीप डिप्रेशन के चलते एक चक्रवाती तूफान बन रहा है। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, तूफान की वजह से तीन से छह दिसंबर तक शहर के मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। शुक्रवार को दक्षिणी भागों (पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम, सिमडेगा व सरायकेला-खरसावां) में कहीं-कहीं पर हल्के दर्जे की वर्षा होने की संभावना है।

वहीं, 4 व 5 दिसंबर को राज्य के दक्षिणी (पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम, सिमडेगा व सरायकेला-खरसावां), उत्तर-पूर्वी (देवघर, धनबाद, दुमका, गिरिडीह, गोड्डा, जामताड़ा, पाकुड़ व साहेबगंज) तथा निकटवर्ती मध्य भागों में कुछ स्थानों पर हल्के दर्जे की वर्षा होगी। जबकि छह दिसंबर को राज्य के उत्तर-पूर्वी भागों में कहीं-कहीं पर हल्के दर्जे की वर्षा हो सकती है। वहीं, सात दिसंबर से मौसम एक बार फिर से साफ होगा। हालांकि, इसके बाद तापमान में लगातार गिरावट दर्ज होने की संभावना है।

बढ़ेगी ठंड, रहें सावधान

मौसम विभाग के अनुसार, सात दिसंबर के बाद तापमान में तेजी से गिरावट दर्ज की जाएगी। ऐसे में लोगों को सतर्क होने की जरूरत है। इस दौरान ठंड बढ़ेगी और ऐसे में थोड़ी सी भी लापरवाही महंगा पड़ सकता है। गुरुवार को शहर का न्यूनतम तापमान 14.2 डिग्री व अधिकतम तापमान 29.6 डिग्री दर्ज की गई। वहीं, शहर में ठंड के साथ-साथ कनकनी पड़ रही हैं। ऐसे में सभी सावधान रहें।

पांच को तेज लगन, तूफान जवाद की आशंका से डरे लोग

ठंड के मौसम में तूफान का कहर बहुत कम ही हुआ, लेकिन इस बार जवाद ने एकबारगी लोगों को डरा दिया है। इसकी वजह है कि पांच दिसंबर को तेज लगन है। शहर के लगभग सारे होटल व हॉल बुक हैं। बैंड-बाजा बारात से लेकर टेंट हाउस व कैटरर भी तैयारी में व्यस्त हैं। फूल वालों से लेकर ब्यूटी पार्लर में भी चार व पांच को आर्डर बुक हैं। इस उत्साह भरे माहौल में जवाद तूफान की आशंका ने सबको हिलाकर रख दिया है। शहर में करीब 100 मैदान व सड़क समेत अन्य खुले स्थान पर पंडाल बनाने की तैयारी है। ये सभी इस बात से डर गए हैं कि कहीं उस दिन तेज तूफान या बारिश हुई तो क्या होगा। साकची के एक व्यक्ति ने बताया कि उन्होंने एक माह पहले ही बैंड, लाइट, टेंट, कैटरर, फूल डेकोरेटर का आर्डर बुक कर दिया है। अब इतनी जल्दी कोई हॉल मिलेगा भी नहीं। ऐसे में यदि आयोजन कर भी दिया तो कई मेहमान नहीं आएंगे। खाना भी बर्बाद होगा, सजावट पर खर्च किए गए लाखों रुपये बेकार चले जाएंगे। ऐसे कई लोग इस बात से सशंकित हैं कि अब इतनी जल्दी शादी की तारीख भी नहीं बढ़ाई जा सकती। नवंबर-दिसंबर में जो शादियां हो रही हैं, वे सभी कोरोना काल में होने वाली थीं। ऐसे में हर कोई डरा हुआ है।

डरें नहीं, जमशेदपुर में होगी हल्की बारिश

मौसम विभाग, झारखंड के पूर्वानुमान विशेषज्ञ अभिषेक आनंद ने बताया है कि जवाद तूफान से झारखंड के लोगों को ज्यादा डरने की आवश्कता नहीं है। तीन से छह दिसंबर तक जमशेदपुर समेत सरायकेला-खरसावां, चाईबासा, खूंटी व रांची में हल्की बारिश होने के आसार हैं। यहां तूफान का मामूली असर होगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.